टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 16 मई 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 16 मई 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से - राष्ट्रीय आपातकाल और चंद्रयान-2 आदि शामिल हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा की

15 मई 2019 को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा कर दी है. राष्ट्रपति ने अमेरिका के संचार नेटवर्क को विदेशी दुश्मनों से बचाने के उद्देश्य से यह घोषणा की है.

यह आदेश अमेरिका की सूचना और संचार प्रौद्योगिकी तथा सेवाओं की रक्षा करने की अपनी प्रतिबद्धता के तहत जारी किया गया है. अमेरिका के मुताबिक, चीन हुआवेई के उपकरणों का उपयोग सर्विलांस के लिए कर सकता है. अमेरिका द्वारा लगाये गये इन आरोपों को हुआवेई ने बार-बार खारिज किया है.

नासा का पेलोड लेकर जाएगा चंद्रयान-2, जाने विस्तार से

इसरो ने 15 मई 2019 को कहा कि जुलाई में भेजे जाने वाले भारत के दूसरे चंद्र अभियान में 13 पेलोड होंगे और अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का भी एक उपकरण होगा. नासा इस मॉड्यूल के जरिए धरती और चांद की दूरी को नापने का कार्य करेगी.

चंद्रयान- 2 को 06 सितंबर 2019 को चंद्रमा पर उतरने की संभावना है. ऑर्बिटर चंद्रमा की सतह से 100 किलोमीटर की दूरी पर उसका चक्कर लगाएगा, जबकि लैंडर (विक्रम) चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर आसानी से उतरेगा और रोवर (प्रज्ञान) अपनी जगह पर प्रयोग करेगा.

इगोर स्टिमैक भारतीय फुटबॉल टीम के कोच नियुक्त

क्रोएशिया के इगोर स्टिमैक को हाल ही में भारतीय फुटबॉल टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है. अखिल भारतीय फुटबॉल संघ (एआईएफएफ) ने इसका घोषणा 15 मई 2019 को किया हैं. एआईएफएफ ने उनके साथ दो साल का अनुबंध किया है.

पूर्व भारतीय फुटबॉलर श्याम थापा की अध्यक्षता वाली समिति ने पुरुष फुटबॉल टीम के लिए चार उम्मीदवारों का चयन किया था. इगोर स्टिमैक के अतिरिक्त अलबर्ट रोसा, ली मिंग-सुंग और हकन एरिक्सन कोच पद के दावेदार थे. एआईएफएफ ने इगोर स्टिमैक की रिसर्च से प्रभावित होकर उन्हें कोच बनाने का निर्णय लिया.

गंगा बेसिन क्षेत्र में रूद्राक्ष के वृक्ष लगाने हेतु समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

14 मई 2019 को केंद्र सरकार ने नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत एक त्रिपक्षीय समझौता पर हस्ताक्षर किये. उत्‍तराखंड में नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत कॉरपोरेट सामाजिक दायित्‍व के रूप में रूद्राक्ष के वृक्ष लगाने हेतु राष्‍ट्रीय स्‍वच्‍छ गंगा मिशन, एचसीएल फाउंडेशन और इन्‍टेक के बीच एक सहमति पत्र पर हस्‍ताक्षर किया गया है.

इस परियोजना के अंतर्गत उत्‍तराखंड में गंगा के जलग्रहण क्षेत्र में स्‍थानीय समुदाय और अन्‍य हितधारकों के सहयोग से 10,000 रूद्राक्ष के पेड़ लगाने का लक्ष्‍य रखा गया है. यह उन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए आय को भी बढ़ावा देने में भी मदद करेगा.

आर्टिकल अच्छा लगा? तो वीडियो भी जरुर देखें!

यह भी पढ़ें: अप्रैल 2019 के 30 महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स घटनाक्रम

Download our Current Affairs & GK app from Play Store/For Latest Current Affairs & GK, Click here

Continue Reading
Advertisement

Related Categories

Popular

View More