टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 21 नवंबर 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 21 नवंबर 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से-आईएसएसएफ वर्ल्‍ड कप और बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर आदि शामिल हैं.

ISSF World Cup 2019: मनु भाकर ने जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ा, भारत को दिलाया पहला गोल्ड मेडल

मनु भाकर ने इस दौरान जूनियर वर्ल्‍ड रिकॉर्ड भी तोड़ दिया. उन्होंने 244.7 अंक का कुल स्‍कोर बनाया. मनु भाकर आईएसएसएफ वर्ल्‍ड कप के 10 मीटर एयर पिस्‍टल इवेंट में हीना सिद्धू के बाद स्वर्ण पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय निशानेबाज बन गई हैं.

भारतीय निशानेबाज हीना सिद्धू ने साल 2013 में आईएसएस वर्ल्ड कप फाइनल में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय पिस्टल शूटर बनकर इतिहास रचा था. छह साल बाद, मनु भाकर आईएसएसएफ वर्ल्‍ड कप के दस मीटर एयर पिस्‍टल इवेंट में स्वर्ण पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय निशानेबाज बन गई हैं.

फॉर्च्यून की बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर 2019 की सूची जारी, सत्य नडेला शीर्ष स्थान पर

फॉर्च्यून की बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर 2019 की सूची में माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला, मास्टरकार्ड के सीईओ अजय बंगा और अरिस्टा की प्रमुख जयश्री उल्लाल शामिल हैं. सत्या नडेला इस सूची में पहले स्थान पर हैं.

फॉर्च्यून ने सत्य नडेला के बारे में कहा कि जब उन्हें साल 2014 में कंपनी की कमान सौंपी गई थी तब वे न तो बिल गेट्स जैसे बड़े संस्थापक थे और न ही अपने पूर्ववर्ती स्टीव बामर की तरह बड़ा व्यक्तित्व वाले थे.

IFFI 2019: सुपरस्टार रजनीकांत आइकन ऑफ गोल्डन जुबली' से सम्मानित

बॉलीवुड का सबसे प्रसिद्ध अभिनेता अमिताभ बच्चन ने रजनीकांत को ‘आइकन ऑफ गोल्डन जुबली’ पुरस्कार प्रदान किया. विख्यात फ्रेंच अभिनेत्री इजाबेल हप्पर्ट को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है. वे अपनी पीढ़ी के सबसे प्रसिद्ध एवं लोकप्रिय फ्रांसीसी अभिनेताओं में से एक हैं.

रजनीकांत को यह पुरस्‍कार सिनेमा में उनके अभूतपूर्व योगदान हेतु दिया गया है. रजनीकांत सबसे प्रशंसित अभिनेताओं में से एक हैं और चार दशकों में भारतीय सिनेमा में उनका योगदान बेजोड़ है. वे न केवल साउथ फिल्म इंडस्ट्री में बल्कि बॉलीवुड में भी लोकप्रिय है.

कैबिनेट ने सार्वजनिक क्षेत्र के पांच केन्द्रीय उपक्रमों में अपनी हिस्सेदारी बेचने की अनुमति दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसमें भारत पेट्रोलियम (बीपीसीएल) में विनिवेश सहित पांच प्रमुख सार्वजनिक उपक्रमों (पीएसयू) में सरकार की हिस्सेदारी बेचने को मंजूरी दे दी है. केंद्र सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में सरकार की हिस्सेदारी को 51 प्रतिशत से नीचे लाने की भी मंजूरी दी है.

केंद्र सरकार ने प्रबंधन नियंत्रण को जारी रखते हुए इंडियन ऑयल जैसे चुनिंदा सार्वजनिक उपक्रमों में सरकार की हिस्सेदारी को 51 प्रतिशत से कम करने को मंजूरी दी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार बीपीसीएल में रणनीतिक विनिवेश करेगी.

Related Categories

Popular

View More