टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 25 अप्रैल 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 25 अप्रैल 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से - दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार  और विश्व मलेरिया दिवस आदि शामिल हैं.

सलीम खान दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार से सम्मानित

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने 24 अप्रैल 2019 को बॉलीवुड के मशहूर लेखक सलीम खान को 77वें मास्‍टर दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार से सम्‍मानित किया.

सलीम खान को मास्टर दीनानाथ मंगेशकर लाइफ़टाइम पुरस्कार (जीवन गौरव पुरस्कार) से नवाजा गया. सलीम खान के अतिरिक्त बॉलीवुड से जुड़ी अन्‍य हस्तियों को भी पुरस्‍कार देकर सम्‍मानित किया गया. इस बार यह पुरस्कार मशहूर हस्तियों को 24 अप्रैल को मुंबई के सायन स्थित षणमुखानंद हॉल में दिया गया.

भारतीय सेना में महिलाओं की भर्ती हेतु ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया आरंभ

भारतीय सेना ने पहली बार सैन्य पुलिस के तहत सैनिकों के रूप में महिलाओं की भर्ती हेतु ऑनलाइन पंजीकरण आरंभ कर दिया है. इस परियोजना को जनरल बिपिन रावत द्वारा सेना प्रमुख का पदभार ग्रहण करने के उपरांत मूर्त रूप में लाया गया था. साथ ही, रक्षा मंत्रालय द्वारा इस परियोजना को अंतिम मंजूरी दे दी गई है.

भारतीय सेना में महिलाओं की भर्ती के लिए सभी जानकारियां भारतीय सेना की आधिकारिक वेबसाइट www.joinindianarmy.nic.in पर दी गई हैं. वेबसाइट पर दी गई जानकारी में कहा गया है कि इच्छुक महिला अभ्यर्थी 25 अप्रैल 2019 से 8 जून 2019 तक आवेदन कर सकती हैं. यह आवेदन भारतीय सेना भर्ती 2019 की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर की जा सकती है.

विश्व मलेरिया दिवस 25 अप्रैल को विश्वभर में मनाया गया

विश्व मलेरिया दिवस पूरे विश्व में 25 अप्रैल 2019 को मनाया गया. इस दिवस को 'मलेरिया' जैसी गम्भीर बीमारी की ओर लोगों का ध्यान आकृष्ट करने के लिए मनाया जाता है.

इस दिवस का मुख्य उद्देश्य मलेरिया से लोगों को जागरूक और उनकी जान की रक्षा करना है. यह दिवस मलेरिया निवारण और नियंत्रण के लिए सतत निवेश और राजनीतिक प्रतिबद्धता की आवश्यकता रेखांकित करने के लिए मनाया गया.

विश्व में मलेरिया का पहला टीका लॉन्च, जानें विस्तार से

विश्व का पहला मलेरिया का टीका अफ्रीकी देश मलावी में लॉन्‍च कर दिया गया है. विश्वभर में प्रत्येक साल लाखों मौतों के कारण मलेरिया का पहला टीका लॉन्च किया गया है.

इस जानलेवा बीमारी से बच्चों को बचाने के लिए पिछले 30 साल से इस टीके को लाने के प्रयास किए जा रहे थे. यह टीका पांच महीने से दो साल तक के बच्चों के लिए है.

यह भी पढ़ें: मार्च 2019 के 30 महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स घटनाक्रम

Download our Current Affairs& GK app from Play Store/For Latest Current Affairs & GK, Click here

Related Categories

Popular

View More