टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 27 मई 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 27 मई 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से - आर्टेमिस-2024 और एएन-32 विमान आदि शामिल हैं.

नासा ने आर्टेमिस-2024 मून मिशन के शेड्यूल की घोषणा की

नासा द्वारा हाल ही में वर्ष 2024 में लॉन्च किये जाने वाले चंद्र मिशन आर्टेमिस के शेड्यूल की घोषणा की गई. नासा की इस घोषणा के अनुसार इसी मिशन के तहत वर्ष 2024 तक नासा आठ प्रोग्राम भी लॉन्च भी करेगा. मनुष्य के चंद्रमा तक पहुंचने से पहले वहां एक छोटा स्टेशन भी बनाया जायेगा.

इस मिशन की सहायता से लगभग आधी सदी के बाद फिर से मनुष्य चांद पर जायेगा. दरअसल चंद्रमा पर भेजे गये पहले मनुष्य सहित मिशन का नाम अपोलो था. यूनानी पौराणिक कथाओं के अनुसार आर्टेमिस अपोलो की जुड़वां बहन थी.

सांख्यिकी विभाग के पुनर्गठन हेतु सरकार द्वारा एनएसएसओ एवं सीएसओ के विलय हेतु मंजूरी

सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय ने राष्‍ट्रीय प्रतिदर्श सर्वेक्षण कार्यालय (एनएसएसओ) और  केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) का राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) में विलय करने का निर्णय लिया है. केन्द्रीय मंत्रालय द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि भारतीय आधिकारिक सांख्यिकी प्रणाली के संबंध में सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के कामकाज को सुव्यवस्थित और मजबूत करने तथा मंत्रालय के भीतर प्रशासनिक कार्यों को एकीकृत करके अधिक तालमेल बैठाने के लिए यह कदम उठाया गया है.

एनएसएसओ के डेटा प्रसंस्करण विभाग (डीपीडी) का नाम डेटा क्वालिटी एश्योरेंस विभाग (डीक्यूएडी) होगा.  इस पर सर्वेक्षण के आंकड़ों और गैर - सर्वेक्षण आंकड़ों की गुणवत्ता में सुधार लाने की जिम्मेदारी होगी. गैर - सर्वेक्षण डेटा में आर्थिक गणना और प्रशासनिक आंकड़ों जैसी चीजें शामिल हैं.

भारतीय वायुसेना के एएन-32 विमान को जेट्रोफा बायो-फ्यूल उपयोग करने की मंजूरी दी गई

भारतीय वायुसेना के दुर्जेय विमान, जो कि रूस निर्मित एएन-32 विमान है, को 26 मई 2019 को मिश्रित विमानन ईंधन से संचालित करने के लिए औपचारिक रूप से प्रमाणित किया गया. इस मंजूरी के बाद भारतीय वायुसेना के इस विमान में प्रयोग किये जाने वाले मिश्रित ईंधन में 10 प्रतिशत तक स्वदेशी बायो-जेट ईंधन का उपयोग किया जा सकेगा.

भारतीय वायुसेना की ओर से एयर कमोडोर संजीव घुरटिया, वीएसएम, एयर ऑफिसर कमांडिंग, 3 बीआरडी, वायुसेना ने विमान-इंजन परीक्षण केन्द्र, चंडीगढ़ में सीईएमआईएलएसी के मुख्य कार्यकारी पी. जयपाल से अनुमोदन प्रमाण पत्र प्राप्त किया.

शोधकर्ताओं द्वारा हिम युग के समयावधि का समुद्री जल खोजा गया

शोधकर्ताओं द्वारा हिन्द महासागर में की गई खोज के परिणामस्वरूप पहली बार हिम युग के समय का समुद्री जल खोजा गया है. शोधकर्ताओं का दावा है कि यह जल समुद्र के भीतर चट्टानी श्रृंखलाओं की दरारों में मौजूद था जो हज़ारों वर्षों से वहीँ पर मौजूद है.

यूनिवर्सिटी ऑफ़ शिकागो के शोधकर्ताओं द्वारा एक माह तक चले इस अध्ययन के बाद यह निष्कर्ष निकाला गया. यह खोज मालदीव में समुद्री तल पर मौजूद चूना पत्थर की चट्टानों के अध्ययन के दौरान हुई है.

 

Download our Current Affairs& GK app from Play Store

Related Categories

Popular

View More