Next

संयुक्त राज्य अमेरिका वित्त वर्ष 2020-2021 की पहली छमाही में बना भारत का दूसरा सबसे बड़ा FDI सोर्स

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका अप्रैल-सितंबर 2020 के दौरान भारत के लिए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) के दूसरे सबसे बड़े सोर्स के तौर पर उभरा है. इसने वित्तीय वर्ष 2020 की पहली छमाही के दौरान मॉरीशस का स्थान लिया है.

उद्योग और आंतरिक व्यापार को बढ़ावा देने के लिए विभाग द्वारा दिखाए गए आंकड़ों के मुताबिक, भारत ने संयुक्त राज्य अमेरिका से 7.12 बिलियन अमरीकी डालर का FDI अर्जित किया है और मॉरीशस से 2 बिलियन अमरीकी डालर का निवेश भारत में किया गया है, जिससे यह देश अप्रैल-सितंबर 2020 के दौरान चौथे स्थान पर फिसल गया है.

इससे पहले 2019-20 में इसी अवधि के दौरान, भारत में मॉरीशस FDI का दूसरा सबसे बड़ा सोर्स था और तब अमेरिका भारत में चौथा सबसे बड़ा निवेशक था.

भारत में विदेशी निवेश में वृद्धि

भारत में, वित्त वर्ष 2020-2021 की पहली छमाही में विदेशी निवेश 15% बढ़कर 30 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया है. अगस्त 2020 में, भारत ने 17.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर का विदेशी निवेश किया गया है. यह डाटा विश्व अर्थव्यवस्था पर महामारी के प्रभाव वाले देशों के साथ भारत के सौहार्दपूर्ण आर्थिक संबंधों को भी दर्शाता है.

अमेरिका से बढ़ा विदेशी निवेश क्या संकेत देता है?

संयुक्त राज्य अमेरिका से बढ़ता प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) इन दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों को और मजबूत करने के बारे में स्पष्ट जानकारी देता है. संयुक्त राज्य अमेरिका वित्तीय वर्ष 2019-20 में भारत का शीर्ष व्यापार भागीदार भी था.

विदेशी निवेश स्पष्ट रूप से यह इंगित करता है कि, अमेरिका की टेक्नोलॉजी कंपनियां भारतीय कंपनियों में स्टेक्स खरीद रही हैं जिससे FDI में वृद्धि दिख रही है.

अन्य देशों से भारत में विदेशी निवेश

देश

भारत में विदेशी निवेश

केमैन आइलैंड्स

2.1 बिलियन अमरीकी डालर

नीदरलैंड

1.5 बिलियन अमरीकी डालर

यूके

1.35 बिलियन अमरीकी डालर

फ्रांस

1.13 बिलियन अमरीकी डालर

जापान

653 मिलियन अमरीकी डालर

जर्मनी

202 मिलियन अमरीकी डालर

साइप्रस

48 मिलियन अमरीकी डालर

भारत में एक निवेशक के तौर पर मॉरीशस ने अपना महत्व कायम रखा

इस तथ्य के बावजूद कि, भारत में मॉरीशस से विदेशी निवेश कम हो रहा है, यह अभी भी अप्रैल 2000 और सितंबर 2020 के दौरान प्राप्त कुल निवेश का 29% है. इस समय अवधि में, भारत ने प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) में 500.12 बिलियन अमेरिकी डॉलर का निवेश आकर्षित किया है.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now