विश्व बैंक द्वारा जलवायु परिवर्तन हेतु 200 बिलियन डॉलर के निवेश की घोषणा

विश्व बैंक ने जलवायु परिवर्तन की समस्या से निपटने के लिए निवेश बढ़ाने की घोषणा की है. विश्व बैंक के अनुसार वर्ष 2021-25 के लिए जलवायु परिवर्तन की मुसीबत से निपटने के लिए फंडिंग को दोगुना करने का निर्णय लिया है.

विश्व बैंक द्वारा अब इस राशि को बढ़ाकर 200 अरब डॉलर करने की घोषणा की गई है. विश्व बैंक ने राशि दोगुनी करने की घोषणा जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन (यूएनएफसीसीसी) के समिट में की थी. विश्व बैंक द्वारा जारी बयान में कहा गया कि लगभग 100 अरब डॉलर सीधे विश्व बैंक के फंड किए जाएंगे. इसके अलावा शेष राशि को विश्व बैंक की दो एजेंसी से जुटाया जाएगा.

मुख्य बिंदु

•    जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए विकसित देशों ने विकासशील देशों में निवेश करने पर सहमति जताई थी. वर्ष 2020 तक के लिए 100 बिलियन डॉलर दिए जाने हैं. वर्ष 2016 में 48.5 बिलियन डॉलर और 2017 में 56.7 बिलियन डॉलर दिए गए थे.

•    200 में से 100 बिलियन डॉलर की रकम विश्व बैंक की तरफ से दी जाएगी. इसके अलावा बाकी पैसा वर्ल्ड बैंक की जुड़ी एजेंसियों से जुटाया जाएगा.

•    विश्व बैंक के सीनियर डायरेक्टर जॉन रूमे के अनुसार यदि हम उत्सर्जन कम करने में नाकाम रहते हैं तो 2030 तक 10 करोड़ लोग गरीबी में पहुंच जाएंगे. अफ्रीका, दक्षिण एशिया और लैटिन अमेरिका से 13 करोड़ लोग पलायन कर चुके हैं.

•    विकासशील देशों के सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों तक मदद पहुंचती रहे, इसके लिए विश्व बैंक एक ढांचा बनाना चाहता है. विश्व बैंक स्मार्ट खेती और पानी की उपलब्धता के लिए निवेश करेगा.

 

यह भी पढ़ें: जानें फोर्ब्स की 100 शक्तिशाली महिलाओं की सूची में 4 भारतीय कौन हैं?

Continue Reading
Advertisement

Related Categories

Popular