विश्व कैंसर दिवस मनाया गया

विश्व कैंसर दिवस: 4 फरवरी

विश्व भर में 4 फरवरी 2018 को विश्व कैंसर दिवस (डब्ल्यूसीडी) मनाया गया. विश्व कैंसर दिवस का विषय है, “हम कर सकते हैं, मैं कर सकता हूं.” इस विषय द्वारा यह बताने का कोशिश किया गया है कि किस प्रकार प्रत्येक व्यक्ति अथवा विभिन्न लोग मिलकर विश्व में कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं.

उद्देश्य:

इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य कैंसर के बारे में जागरूकता उत्पन्न करना और रोग का जल्दी पता लगाने की जरूरत तथा कैंसर के उपचार पर ध्यान केंद्रित करना है. इसका उद्देश्य विश्व में प्रत्येक वर्ष लाखों लोगों को कैंसर के कारण होने वाली मृत्यु से बचाना भी है.

यह भी पढ़ें: भारत ने अपना 69वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया

विश्व कैंसर दिवस

•    विश्व कैंसर दिवस की स्थापना अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण संघ (यूआईसीसी) द्वारा की गयी. यह एक अग्रणीय वैश्विक एनजीओ है.

•    इसका लक्ष्य विश्व कैंसर घोषणा, 2008 के लक्ष्यों की प्राप्ति करना है.

•    इसका प्राथमिक लक्ष्य 2020 तक कैंसर से होने वाली मौतों को कम करना है.

•    अंतर्राष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण संघ (यूआईसीसी) की स्थापना वर्ष 1933 में हुई थी.

•    इस दिवस पर विभिन्न सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं द्वारा कैंसर से बचाव के विभिन्न अभियान चलाये.

कैंसर क्या है?

शरीर में कोशिकाओं के समूह की अनियंत्रित वृद्धि कैंसर है. ये कोशिकाएं टिश्यू को प्रभावित करती हैं तो कैंसर शरीर के अन्य हिस्सों में फैल जाता है. कैंसर किसी भी उम्र में हो सकता है. लेकिन यदि कैंसर का सही समय पर पता ना लगाया गया और उसका उपचार ना ह तो इससे मौत का जोखिम बढ़ सकता है.

कैंसर से बचने के उपाय:

कैंसर से बचने के लिए तंबाकू उत्पादों का सेवन बिलकुल न करें, कैंसर का ख़तरा बढ़ाने वाले संक्रमणों से बचकर रहें, चोट आदि होने पर उसका सही उपचार करें और अपनी दिनचर्या को स्वस्थ बनाए. विश्व को कैंसर मुक्त करने के लिए आप भी कदम बढ़ाएं और खुद तथा अपने सगे सबंधियों को तंबाकू, सिगरेट, शराब आदि से दूर रहने की सलाह दीजिए.

यह भी पढ़ें: राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया गया

Related Categories

Popular

View More