विश्व युवा कौशल दिवस 2020: जानें प्रधानमंत्री ने क्या कहा इस दिवस पर?

विश्व युवा कौशल दिवस: 15 जुलाई

प्रतिवर्ष 15 जुलाई को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विश्व युवा कौशल दिवस (World Youth Skills Day) मनाया जाता है. विश्व युवा कौशल दिवस पहली बार 15 जुलाई 2015 को विश्व स्तर पर मनाया गया था. यह जीवन तथा कार्यों में युवा कौशल के महत्व के एजेंडे के साथ मनाया गया.

संयुक्त राष्ट्र ने मुख्यालय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित प्रतियोगिताओं में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, जहां विभिन्न देशों के युवा विज्ञान, कला और प्रौद्योगिकी के विभिन्न क्षेत्रों में अपने कौशल दिखाने वाले कार्यक्रम में भाग लेते हैं. भारत में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई “कौशल भारत” अभियान के रूप में चिह्नित किया गया है.

नमस्कार मेरे युवा साथियों को
World Youth Skill Day की आप सभी नौजवानों को बहुत- बहुत शुभकामनाएं।

आज का ये दिन आपकी skill को, आपके कौशल को समर्पित है: PM @narendramodi

— PMO India (@PMOIndia) July 15, 2020

प्रधानमंत्री ने क्या कहा इस दिवस पर?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 जुलाई 2020 को विश्व युवा कौशल दिवस के मौके पर युवाओं को कौशल बढ़ाने के मंत्र दिए. उन्होंने कहा कि कोरोना के इस संकट ने विश्व संस्कृति के साथ ही जॉब की प्रकृति को भी बदलकर के रख दिया है. प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि स्किल युवाओं की सबसे बड़ी ताकत है.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान युवाओं के लिए एक नया मंत्र भी दिया जो उन्हें संकट के समय में प्रासंगिक रहने और उन्हें सशक्त बनाने में मदद करेगा. उन्होंने कहा कि यह दिन आपके कौशल के लिए समर्पित है. पीएम मोदी ने कहा कि सहस्राब्दी युवाओं की सबसे बड़ी ताकत नए कौशल प्राप्त करना है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्तमान समय में प्रासंगिक बने रहना बहुत महत्वपूर्ण है ताकि लोग न केवल अपनी आजीविका कमा सकें, बल्कि दूसरों की भी मदद कर सकें. प्रधानमंत्री ने कहा कि "प्रासंगिक बने रहने का मंत्र है: कौशल, पुन: कौशल और उन्नति.

इस दिवस का मुख्य उद्देश्य

इस दिवस का मुख्य उद्देश्य युवाओं को अधिक से अधिक कौशल विकास के प्रति जागरुक करना है ताकि वे बेहतर अवसरों को तलाश कर रोजगार प्राप्त कर सकें. इस दिन को हर साल युवाओं को कौशल विकास (स्किल डेवलप) करने और उसके फायदे के बारे में जागरुक करने के लिए मनाया जाता है.

इस दिवस को समस्त विश्व युवाओ मैं कौशल विकास के अवसर लाने हेतु अधिक से योजनाओ और नए कौशल पाठ्यक्रम को सरकारी नीतियों मैं लाना चाहता हैं, ताकि देश के युवाओ मैं कौशलता की अधिकाधिक बढोतरी की जा सके और रोजगार के अवसर को बढाया जा सके.

विश्व युवा कौशल दिवस मनाने का कारण

विश्व युवा कौशल दिवस के दिन UNESCO युवाओं में कौशल तकनीकी और व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण के लिए कई तरह की प्रतियोगिता आयोजित की जाती हैं. इससे युवा अपनी क्षमताओं और स्किल्स को डेवलप करें और उससे रोजगार के अलावा स्वरोजगार के अवसर उत्पन्न कर सकें.

पृष्ठभूमि

विश्व युवा कौशल दिवस की स्थापना संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 11 नवम्बर 2014 को की गयी थी. महासभा ने 15 जुलाई को विश्व युवा दिवस के रूप में मनाये जाने की घोषणा की. सभी देशों से यह आग्रह किया गया कि वे अपने देश में युवाओं को कौशल विकास में सहायता प्रदान करें ताकि ये युवा आगे चलकर बेहतर राष्ट्र के निर्माण में योगदान दे सकें.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now