Search

डेली करेंट अफेयर्स डाइजेस्ट: 28 मई 2020

प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज कोरोना वायरस और भारोत्तोलन महासंघ से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है.

May 28, 2020 19:35 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज कोरोना वायरस और भारोत्तोलन महासंघ से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है.

प्रख्यात साहित्यकार मुजतबा हुसैन का निधन

मशहूर उर्दू लेखर, व्यंगकार मुजतबा हुसैन का हाल ही में हैदराबाद में निधन हो गया है. वे 84 साल के थे. हुसैन काफी दिन से बीमार चल रहे थे. पिछले साल मुजतबा हुसैन नागरिकता संशोधन कानून के विरोध प्रदर्शन के दौरान तब चर्चा में आ गए जब उन्होंने पद्म श्री सम्मान लौटाने का घोषणा किया. उन्हें यह सम्मान साल 2007 में मिला था.

मुजतबा हुसैन दर्जनों किताबें लिख चुके हैं. उनकी किताबें कई राज्यों के उर्दू पाठ्यक्रमों में शामिल हैं. उनकी रचनाओं का हिंदी, अंग्रेजी समेत कई अन्य भाषाओं में अनुवाद किया गया है. उनकी किताब 'अमेरिका घास काट रहा है' और यात्रा वृत्तांत 'जापान चलो, जापान चलो' काफी पढ़े गए हैं.

 

भारोत्तोलन महासंघ ने अब मीराबाई का नाम अर्जुन अवॉर्ड के लिए भेजा

भारतीय भारोत्तोलन महासंघ ने हाल ही में खेल रत्न पुरस्कार प्राप्त पूर्व वर्ल्ड चैंपियन मीराबाई चानू का नाम अर्जुन अवॉर्ड के लिए भेजा है. महासंघ ने मीराबाई चानू, रागाला वेंकट राहुल और पूनम यादव के नाम भेजे हैं. मीराबाई चानू को साल 2018 में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के साथ प्रतिष्ठित राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड मिला था. उन्हें उसी साल पद्मश्री सम्मान भी दिया गया था.

मीराबाई चानू ने साल 2017 में 48 किलोग्राम भारवर्ग में वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब जीता था. वहीं उन्होंने साल 2018 गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भी उन्होंने गोल्ड मेडल अपने नाम किया था. उन्होंने इससे पहले साल 2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था.

 

भारतीय सेना के शीर्ष कमांडरों के साथ आर्मी चीफ की बैठक जारी

भारतीय सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे 27 मई 2020 से सेना के शीर्ष कमांडरों के साथ एक कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं. सेना प्रमुख जनरल नरवणे ने सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए सेना प्रमुखों के सम्मेलन की शुरुआत कर दी है. सेना के सभी शीर्ष कमांडर इस बैठक में भाग ले रहे हैं.

दरअसल, सेना के कमांडरों की 27 मई 2020 से तीन दिनों की कॉन्फ्रेंस शुरू हो रही है. इसमें पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में चीन के कारण उपजे हालात पर ही विशेष रूप से चर्चा होगी। सेना के प्रवक्ता अमन आनंद ने बताया है कि कॉन्फ्रेंस का पहला चरण 27 मई से 29 मई तक चलेगा और दूसरा चरण जून के अंतिम सप्ताह में होगा.

 

लद्दाख में करगिल में पहले सोलर लिफ्ट संयत्र का उद्घाटन

पशु, भेड और मछली पालन के निदेशक डॉ. मोहम्‍मद रजा ने लद्दाख में करगिल में पहले सोलर लिफ्ट संयत्र का उद्घाटन किया. इस संयत्र की क्षमता पांच किलोवाट की है और इससे याक प्रजनन फार्म के लिए तीन हार्स पावर के सब्‍मर्सिबल पंप संचालित किए जा सकेंगे.

 डॉ. मोहम्‍मद रजा ने बताया कि यह प्रोटोटाइप है, इस तरह के संयत्रों से सिंचाई के लिए पानी की कमी वाले क्षेत्रों की समस्‍या का समाधान संभव है, विशेषकर उन जमीनों पर जो कि हैं नदी के किनारे है. उन्‍होंने कहा कि पशु, भेड़ और मछली पालन विभाग तथा करगिल अक्षय ऊर्जा एजेंसी-क्रेड़ा का यह प्रयास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लद्दाख को कार्बन मुक्‍त बनाने के स्‍वप्‍न को पूरा करना है.

 

नासा के ऐतिहासिक SpaceX रॉकेट की लॉन्चिंग खराब मौसम के कारण टली

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा इतिहास रचने से चूक गई. खराब मौसम के चलते स्पेसएक्स का पहला प्रक्षेपण टाल गया है. स्पेसएक्स का एक रॉकेट नासा के पायलट डग हर्ली और बॉब बेंकन के साथ ड्रैगन कैप्सूल को लेकर 27 मई 2020 को कैनेडी अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से उड़ान भरने वाला था. यह पहला मौका था, जब सरकार के बजाय कोई निजी कंपनी अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में भेज रही थी.

नासा के अनुसार, अब 30 मई को एक बार फिर लॉन्चिंग का प्रयास किया जाएगा. यह स्पेसएक्स का दूसरा प्रयास होगा. लॉन्चिंग से महज कुछ मिनटों पहले नासा की ओर से जारी बयान में कहा गया कि हम आज लॉन्च नहीं करने जा रहे हैं. मौसम के हालात की वजह से लॉन्च को टाला जा रहा है. अब लॉन्च की अगली संभावना 30 मई को अमेरिकी समय के मुताबिक, दोपहर 3 बजकर 22 मिनट पर होगी.

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS
Whatsapp IconGet Updates