Search

भारतीय वायुसेना की बढ़ी ताकत, आठ अपाचे हेलिकॉप्टर वायुसेना में शामिल

अपाचे विश्व के सबसे आधुनिक लड़ाकू हेलिकॉप्टरों में एक है. अमेरिकी सेना भी दुश्मनों के विरुद्ध इसे अपना संकटमोचक मानती है.

Sep 3, 2019 12:32 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

भारतीय वायुसेना ने पठानकोट एयरबेस पर अमेरिका से मिले अधुनिक तकनीक वाले आठ अपाचे हेलिकॉप्टर (Boeing AH-64 Apache) तैनात किया है. इस एयरबेस पर अपाचे की तैनाती से भारतीय वायुसेना की ताकत और बढ़ जाएगी. अमेरिका से भारतीय वायसेना को कुल 22 अपाचे हेलिकॉप्टर मिलेंगे.

भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ की मौजूदगी में पंजाब के पठानकोट एयरबेस पर 8 अपाचे हेलिकॉप्टर को शामिल कराया गया. अपाचे विश्व के सबसे आधुनिक लड़ाकू हेलिकॉप्टरों में एक है. अमेरिकी सेना भी दुश्मनों के विरुद्ध इसे अपना संकटमोचक मानती है.

अमेरिका के अलावा कई देश के पास अपाचे हेलिकॉप्टर

अपाचे हेलिकॉप्टर का इस्‍तेमाल कई देश करते हैं. अमेरिका ने अपाचे हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल पनामा से लेकर अफगानिस्तान तथा इराक तक करता है. यह हेलिकॉप्टर इजरायल, मिस्त्र और नीदरलैंड की सेनाओं के पास भी है. यह हेलिकॉप्टर एक साथ कई तरह के काम करने में सक्षम है.

भारतीय वायुसेना ने सितंबर 2015 में 22 अपाचे हेलिकॉप्टरों हेतु अमेरिका सरकार और बोइंग लिमिटेड के साथ अरबों डॉलर के सौदे पर हस्ताक्षर किए थे.

अपाचे हेलिकॉप्टर की खासियत:

• अपाचे को विश्व का सबसे ताकतवर एवं खतरनाक हेलिकॉप्टर माना जाता है. इस हेलिकॉप्टर से बिल्कुल सटीक हमले किये जा सकते हैं.

• इस हेलिकॉप्टर में सटीक मार करने तथा जमीन से उत्पन्न खतरों के बीच प्रतिकूल हवाईक्षेत्र में परिचालित होने की क्षमता है. हेलिकॉप्टर के दोनों ओर 30 एमएम की दो गन लगे हैं.

• यह हेलिकॉप्टर करीब 293 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है. इस हेलिकॉप्टर में चालक दल के दो सदस्य होते हैं.

• यह हेलिकॉप्टर करीब 21000 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है. इस हेलीकॉप्टर को रडार से पकड़ना बहुत ही मुश्किल है.

• इस हेलिकॉप्टर के नीचे लगी राइफल में एक बार में 30 एमएम की 1,200 गोलियां भरी जा सकती हैं. इसके अलावा इस हेलिकॉप्टर में हेलिफायर और स्ट्रिंगर मिसाइलें लगी हैं.

• यह हेलिकॉप्टर किसी भी मौसम या किसी भी स्थिति में दुश्मन पर हमला कर सकता है.

• अपाचे में रोशनी तथा अंधेरे में एक समान ताकत से लड़ने की क्षमता है. इसमें लगे कैमरे रात के अंधेरे में भी दोस्त तथा दुश्मन की अच्छी तरह से पहचान कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: डीआरडीओ ने भारतीय सेना को मोबाइल मेटैलिक रैंप का डिजाइन सौंपा

करेंट अफेयर्स ऐप से करें कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी,अभी डाउनलोड करें| Android|IOS

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS