Search

मानवाधिकार दिवस 2019: जानिए महत्वपूर्ण तथ्य

मानवाधिकार प्रत्येक व्यक्ति के जीवन जीने, स्वतंत्रता, समानता और सम्मान का अधिकार है. संक्षेप में, मानवाधिकार प्रत्येक व्यक्ति के प्राकृतिक अधिकार हैं.

Dec 10, 2019 10:54 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

मानवाधिकार दिवस 2019: प्रत्येक वर्ष 10 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है. मानवाधिकार में मुख्य रूप से आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकार तथा नागरिक और राजनीतिक अधिकारों पर अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धताएं शामिल हैं.

भारत में 28 सितंबर, 1993 को मानव अधिकार कानून अस्तित्व में आया था. इसके उपरांत भारत सरकार ने 12 अक्टूबर, 1993 को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का गठन किया. मानवाधिकार आयोग के अधिकार क्षेत्र में आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकार जैसे क्षेत्र शामिल हैं

मानवाधिकार दिवस 2019: विषय

संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, इस वर्ष का विषय है – ‘मानवाधिकारों के लिए युवा कदम उठायें’. संयुक्त राष्ट्र का मानना है कि सतत विकास लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए युवाओं की भागीदारी बेहद आवश्यक है. संयुक्त राष्ट्र का मानना है कि युवा लोग सामाजिक, आर्थिक और राजनितिक परिवर्तन के मुख्य चालक होते हैं.

यह भी पढ़ें: डॉ. अंबेडकर की पुण्यतिथि 2019: जाने उनके जीवन की 10 महत्वपूर्ण बातें

मानवाधिकार क्या हैं?

मानवाधिकार किसी भी व्यक्ति के जीवन जीने, स्वतंत्रता, समानता और सम्मान का अधिकार है. भारतीय संविधान न केवल इस अधिकार की गारंटी देता है, बल्कि न्यायालय इसे तोड़ने वालों को दंडित भी करता है. संक्षेप में, मानवाधिकार प्रत्येक व्यक्ति के प्राकृतिक अधिकार हैं.

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग

भारत में 28 सितंबर, 1993 से मानवाधिकार कानून अस्तित्व में आया है. इस आयोग ने देश में आम नागरिकों, बच्चों, महिलाओं, वृद्धजनों के मानवाधिकारों की रक्षा के लिए सरकार को अपनी सिफारिशें दी हैं. एनएचआरसी द्वारा जारी की गई विभिन्न सिफारिशों के तहत सरकार ने संविधान में उचित संशोधन भी लागू किए हैं.

पृष्ठभूमि

• यह दिवस वर्ष 1948 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा मानव अधिकारों की सार्वभौमिक घोषणा को अपनाये जाने के बाद से ही प्रतिवर्ष मनाया जा रहा है.
• वर्ष 1948 में पहली बार 48 देशों ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के साथ इस दिन को मनाया था.
• 1950 में, महासभा ने 423 (v) प्रस्ताव पारित किया और सभी देशों और संस्थानों से इसे अपनाने का आग्रह किया.
• इसके बाद दिसंबर 1993 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने इसे वार्षिक रूप से मनाने के लिए घोषणा की गई थी.

यह भी पढ़ें: Indian Navy Day 2019: जानिए भारतीय नौसेना दिवस का इतिहास और महत्व

यह भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस क्या है और इसे क्यों मनाया जाता है?

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS

Also Read +

Whatsapp IconGet Updates