Search

भारत-तजाकिस्तान ने सतत जल विकास हेतु सहयोग पर सहमति जताई

Jun 21, 2018 17:05 IST

भारत और ताजिकिस्तान ने द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के लिए अपनी प्रतिबद्धता प्रकट की है. विशेष रुप से सतत जल विकास के क्षेत्र में आर्थिक सहयोग को बढ़ावा देने को लेकर दोनों देशों ने आपसी सहमती जताई है.

केंद्रीय एशियाई गणराज्य की दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर रहे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ताजिकिस्तान के विदेश मंत्री सिरोदजिदिन मुहरीदिन से मुलाकात कर दो देशों की आपसी हितों पर चर्चा की. दोनों नेताओं ने विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग को और बढ़ावा दिए जाने की आवश्यकता पर बल दिया है. साथ ही सतत जल विकास के क्षेत्र में आपसी सहयोग बढ़ाने के लिए सहमत हुए हैं.

प्रधानमंत्री मोदी दो देशों के बीच आपसी सहयोग को लेकर प्रतिबद्ध हैं. मोदी चाहते हैं कि दोनों देशों के बीच आर्थिक क्षेत्र का विकास और विस्तार किया जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि, दो देशों के बीच चीनी और दूध पाउडर जैसी वस्तुओं में व्यापार की संभावना का पता लगाया जा सकता है.

इस अवसर पर ताजिकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा कि, भारत, तजाकिस्तान का किसी समय विश्वसनीय रणनीतिक साझेदारों में से एक था और उनका देश आगे भी दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों का विस्तार करना चाहता है.

भारत-ताजिकिस्तान संबंध

भारत और ताजिकिस्तान के संबंध ऐतिहासिक रहे हैं और आधुनिक काल में भी सौहार्द एवं मैत्री इसकी विशेषता है. दोनों देश, बहुजातीय, विविधतापूर्ण समाजों तथा साझे प्राच्‍य मूल्‍यों, संस्‍कृति, परम्‍पराओं और यहां तक कि खान-पान की साझी परम्‍पराओं का प्रतिनिधित्‍व करते हैं.


यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रम्प ने विवादित प्रवासी नीति में बदलाव पर हस्ताक्षर किये