राष्ट्रपति ने 48 व्यक्तियों को जीवन रक्षा पदक पुरस्कार प्रदान किए

लोगों की जान बचाने का सराहनीय कार्य करने के लिए 48 लोगों को जीवन रक्षा पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इनमें से आठ लोगों को मरणोपरांत यह सम्मान दिया गया.

Created On: Jan 28, 2019 14:40 ISTModified On: Jan 28, 2019 15:58 IST

राष्ट्रपति ने 48 व्यक्तियों को जीवन रक्षा पदक पुरस्कार – 2018 प्रदान किए जाने को मंजूरी दी है. यह पुरस्कार तीन श्रेणियों में दिया जा रहा है- सर्वोत्तम जीवन रक्षा पदक, उत्तम जीवन रक्षा पदक और जीवन रक्षा पदक.

इनमें से 8 लोगों को सर्वोतम जीवन रक्षा पदक, 15 को उत्तम जीवन रक्षा पदक और 25 को जीवन रक्षा पदक प्रदान किया गया. इनमें से 8 पुरस्कार मरणोपरांत दिए गये.

इनका विवरण निम्नानुसार है:

सर्वोत्तम जीवन रक्षा पदक:

यह पदक जल में डूबते हुए, अग्नि, खानों में रक्षात्मक संक्रियाओं से जीवन की रक्षा करने में, रक्षा करने वाले द्वारा प्रदर्शित कार्यवाही में अपने जीवन के लिए महान संकट की परिस्थितियों में विशिष्ट साहस के लिए प्रदान किया जाता है.

नाम

राज्य

किशोर राय (मरणोपरांत)

छत्तीसगढ़

मास्टर चेतन कुमार निषाद (मरणोपरांत)

छत्तीसगढ़

कौस्तुभ भगवान तारामले (मरणोपरांत)

महाराष्ट्र

मास्टर प्रथमेश विजय वाडकर (मरणोपरांत)

महाराष्ट्र

पी. लालवेनपूईया (मरणोपरांत)

मिज़ोरम

टी. लालरिनामा (मरणोपरांत)

मिज़ोरम

कुमारी नितिशा नेगी (मरणोपरांत)

दिल्ली

राकेश चंद्र बेहरा (मरणोपरांत)

ओडिशा

उत्तम जीवन रक्षा पदक

यह पदक जल में डूबते हुए, अग्नि, खानों में रक्षात्मक संक्रियाओं आदि से जीवन की रक्षा करने में, रक्षा करने वाले द्वारा प्रदर्शित कार्यवाही में अपने जीवन के लिए महान संकट की परिस्थितियों में साहस एवं तत्परता के लिए प्रदान किया जाता है.

नाम

राज्य

कुमारी विसमाया पी

केरल

साजिद खान

मध्य प्रदेश

डॉ. चरणजीत सिंह बलवीर सिंह सलूजा

महाराष्ट्र

अमोल सरजेराव लोहार

महाराष्ट्र

लल्लियांसंगा

मिजोरम

वनलल्धुवामा

मिज़ोरम

विनोद

हरियाणा

रामराजा यादव

मध्य प्रदेश

आज़ाद सिंह मलिक

दिल्ली

एच. बीदुआसा

मिज़ोरम

करण

दिल्ली

दीपांशु

दिल्ली

प्रशांत सिदर

छत्तीसगढ़

वालाम्बोक सोहफोह

मेघालय

अविनाश बाबू नाइक

गोवा

जीवन रक्षा पदक

यह पदक जल में डूबते हुए, अग्नि, खानों में रक्षात्मक संक्रियाओं आदि से जीवन की रक्षा करने में, रक्षा करने वाले द्वारा प्रदर्शित कार्यवाही में गंभीर शारीरिक चोट के लिए महान संकट की परिस्थिति में साहस एवं तत्परता के लिए प्रदान किया जाता है.

नाम

राज्य

अब्राहम तेयिंग

अरुणाचल प्रदेश

पाडी पयांग

अरुणाचल प्रदेश

मोनूज चवटल

असम

राजू गढ़

असम

राधाकृष्णन. एम

केरल

अंकित धनगर

मध्य प्रदेश

महेंद्र टेकम

मध्य प्रदेश

शांलंग मारबानियांग

मेघालय

वनलालवेनैमा छंगते

मिजोरम

दारचुंगुंगा

मिजोरम

चंद्र कुमार गुरुंग

सिक्किम

बारिया मेहुल बाबूभाई

दमन और दीव

एम. पद्मनाभन

तमिलनाडु

सुशील भोई

उत्तर प्रदेश

समरपान मालवीय

मध्य प्रदेश

धैराशिल ढाकुट्टा अडके

महाराष्ट्र

धनंजय कुमार सोनवणे

छत्तीसगढ़

अभिनव के. के.

केरल

खारबोकलंग खारलुखी

मेघालय

ध्रुव लव

उत्तर प्रदेश

माधव लव

उत्तर प्रदेश

लालथासांगजुअली

मिज़ोरम

रुहीनफातिमा एम तलात

गुजरात

वैष्णव ई. आर.

केरल

श्रीजीत पी.एस.

केरल

 

सभी क्षेत्रों के लोग इन पुरस्कारों के लिए पात्र हैं. इस पुरस्कार को 30 सितंबर 1961 को स्थापित किया गया था.  

 

यह भी पढ़ें: लांस नायक नजीर अहमद वानी को मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया गया

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Related Stories

Post Comment

4 + 3 =
Post

Comments

    Whatsapp IconGet Updates

    Just Now