Search

100 रुपये का नया नोट होगा जारी, जानिए विशेषताएं

भारतीय रिज़र्व बैंक की ओर से जारी बयान के मुताबिक इस नए नोट के पिछले हिस्से पर गुजरात के पाटन जिले में स्थित 'रानी की वाव' का चित्र होगा जो भारत की विरासत को प्रदर्शित करेगा.

Jul 20, 2018 10:25 IST
100 रुपये के नोट का अग्र भाग

भारतीय रिजर्व बैंक जल्द ही 100 रुपये के नये नोट जारी करेगा. यह नोट भी महात्मा गांधी सीरीज़ का ही होगा जिस पर वर्तमान गवर्नर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर होंगे. यह नोट बैंगनी रंग का होगा.

भारतीय रिज़र्व बैंक की ओर से जारी बयान के मुताबिक इस नए नोट के पिछले हिस्से पर गुजरात के पाटन जिले में स्थित 'रानी की वाव' का चित्र होगा जो भारत की विरासत को प्रदर्शित करेगा. इसका आकार 66 mm × 142 mm का होगा.

नोट का अगला भाग

•    छोटे अक्षरों में 'RBI', 'भारत', 'India' और '100' लिखा हुआ है.

•    सुरक्षा के लिहाज से इसमें सिक्योरिटी थ्रेड भी लगाई गई है जिसमें कलर शिफ्ट भी है.

•    नोट पर अंकों में ही 100 लिखा हुआ है.

•    देवनागरी में भी 100 अंक लिखा हुआ है.

•    महात्मा गांधी की तस्वीर मध्य में लगी हुई है.

•    छोटे शब्द जैसे आरबीआई, भारत, इंडिया और 100 लिखे गए हैं.

•    नोट को टेढ़ा करने में उसके धागे का हरा रंग नीला हो जाता है. इस धागे में भारत और RBI लिखा हुआ है.

•    आरबीआई के गवर्नर का गारंटी देने वाला कथन महात्मा गांधी की तस्वीर के दाहिने ओर लिखा हुआ है.

•    नोट के दाहिने हिस्से में अशोक स्तम्भ है.

 

Rs 100 new note


नोट का पिछला भाग


•    नोट प्रकाशन वर्ष अंकित है.

•    स्वच्छ भारत का लोगो तथा नारा.

•    भाषा का पैनल यथावत रखा गया है.

•    रानी की वाव का चित्र है.

•    देवनागरी लिपी में 100 अंक लिखा गया है.

रानी की वाव क्या है?

"रानी की वाव" गुजरात के पाटन ज़िले में स्थित एक प्रसिद्ध बावड़ी (सीढ़ीदार कुआं) है जिसे यूनेस्को ने वर्ष 2014 में विश्व धरोहर स्थलों की सूची में शामिल किया था. रानी की वाव भूमिगत जल संसाधन और जल संग्रह प्रणाली का एक उत्कृष्ट उदाहरण है जो भारतीय महाद्वीप में में प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण का बेहतरीन उदहारण है. सात मंज़िला इस वाव में मारू-गुर्जर स्‍थापत्‍य शैली का सुन्‍दर उपयोग किया गया है जो जल संग्रह की तकनीक, बारीकियों और अनुपातों की क्षमता की जटिलता को दर्शाता है.

 

यह भी पढ़ें: चीन ने भारत से आयात होने वाली दवाइयों पर टैक्स घटाया