कोरोना वायरस: पाकिस्तान में COVID-19 के 2 और मामले, कुल संख्या हुई 20

कोरोना वायरस के कारण विश्व के कई देशों की अर्थव्यवस्था पर संकट मंडरा रहा है. कोरोना वायरस से संक्रमण का सबसे पहला मामला चीन में आया और इस महामारी से अकेले चीन में लगभग 3,097 लोगों की मौत हो चुकी है.

Created On: Mar 13, 2020 08:33 ISTModified On: Mar 13, 2020 14:34 IST

कोरोना वायरस का संक्रमण धीरे-धीरे सभी देशों में फैलता जा रहा है. पाकिस्तान में कोरोना वायरस (Corona Virus) से सर्वाधिक प्रभावित प्रांत सिंध हैं. पाकिस्तान में कोरोना वायरस के दो और मामलों की पुष्टि हुई है. इन्हें मिलाकर देश में अब तक 20 मरीजों में इस वायरस के होने की पुष्टि हो चुकी है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इनमें से 15 का संबंध सिंध से है.

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, सिंध के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि प्रांत में कोरोना वायरस के दो और मामलों की पुष्टि हुई है. स्वास्थ्य मामलों में प्रधानमंत्री के विशेष सलाहकार डॉ. जफर मिर्जा ने कहा था कि जिन 09 मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई, उन सभी की हालत स्थिर बनी हुई है.

पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री जफर मिर्जा ने 08 मार्च 2020 को इसकी पुष्टि कर दीथीं. उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि कराची में कोरोना वायरस के संक्रमण का एक और नया मामला सामने आया है. पाकिस्तान में इससे पहले कोविड-19 के 6 नए मामलों की पुष्टि हुई थी. इसमें तीन केस कराची और तीन केस गिलगित-बाल्टिस्तान से सामने आए थे.

रिपोर्ट के अनुसार, यह लोगों ईरान से पाकिस्तान वापस लौटे थे. चीन से फैले कोरोना वायरस ने कई देशों में दस्तक दे दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अभी तक इस वायरस से 3 हजार से ज्यादा लोगों की मौत  हो चुकी है, जबकि 1 लाख से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. कोरोना वायरस के कारण विश्व के कई देशों की अर्थव्यवस्था पर संकट मंडरा रहा है. 

कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण से चीन में मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. सरकार की ओर से जारी ताजा जानकारी के अनुसार मौत का आंकड़ा 3,000 के पार हो गया है. इस वारस के कारण कई लोग प्रभावित हुए हैं.

ईरान में भी कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है. ईरान के स्वास्थ्य उपमंत्री इराज हरिरची भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने ईरान में खराब होते हालात को देखते हुए विशेषज्ञों की एक टीम वहां भेजी है.

पाक में भी पहुंचा कोरोना वायरस

पाकिस्तान ने कोरोना वायरस के देश में पहले दो मामलों की पुष्टि की है. स्वास्थ्य मामलों के प्रधानमंत्री के विशेष सहायक डॉक्टर जफर मिर्जा ने ट्वीट किया कि मैं पाकिस्तान में कोरोना वायरस के पहले दो मामलों की पुष्टि कर सकता हूं. दोनों ही मामलों में उचित क्लीनिकल मापदंडों का पालन किया जा रहा है और दोनों ही लोगों की हालत स्थिर है.

दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के मामले

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दक्षिण कोरिया में 26 फरवरी 2020 को कोरोना वायरस संक्रमण के 284 नए मामले सामने आए. इनमें एक अमेरिकी सैनिक भी शामिल है. दक्षिण कोरिया में स्थित अमेरिकी सैन्य अड्डों पर रोक के साथ ही आंगतुकों की हेल्थ स्क्रीनिंग शुरू कर दी गई है.

कोरोना वायरस से फ्रांस में पहली मौत

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने हाल ही में कोरोना वायरस के संक्रमण से देश में पहली मौत की पुष्टि की है. फ्रांस में संक्रमण के चार नए मामलों का पता लगा है.

जापान के जहाज में फंसे भारतीयों की वापसी

कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद पिछले कई दिनों से जापान के तट पर खड़े क्रूज शिप ‘डायमंड प्रिंसेज’ में फंसे 119 भारतीयों को एयरलिफ्ट कर लिया गया है. इन भारतीयों को एयर इंडिया की एक स्पेशल फ्लाइट से 27 फरवरी 2020 को सुबह दिल्ली लाया गया.

रूस ने जारी की एडवाइजरी

रूस ने अपने नागरिकों को इटली, दक्षिण कोरिया और ईरान जाने को लेकर एडवाइजरी जारी की है जिससे कि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके. चीन के बाद दक्षिण कोरिया ही वह देश है जो कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित है.

भारत ने जारी की नई एडवाइजरी

भारत सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमित रोगियों के मामलों को ध्यान में रखते हुए देश के लोगों के लिए एक नई एडवाइजरी जारी की है. सरकार ने नई एडवाइजरी में भारतीयों को यह सलाह दी है कि यदि अत्‍यंत आवश्‍यक न हो, तो वे कोरिया गणराज्‍य, ईरान और इटली की यात्रा करने से बचें.

कोरिया गणराज्‍य, ईरान और इटली  से आ रहे लोगों अथवा 10 फरवरी 2020 से अब तक वहां से यात्रा कर आए लोगों को भारत में आने पर चौदह दिनों तक अलग चिकित्‍सा वार्ड में रखा जा सकता है.

यह भी पढ़ें:बालाकोट एयर स्ट्राइक की पहली बरसी: जानें विस्तार से कब क्या हुआ?

भारतीय उद्योग पर पड़ेगा असर

रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने एक रिपोर्ट में कहा कि कोरोनावायरस (COVID-19) के लंबे समय तक प्रकोप का असर भारतीय उद्योग पर पड़ेगा, जिसे गंभीर बाधाओं का सामना करना पड़ेगा.

कोरोना वायरस क्या है?

डब्ल्यूएचओ (WHO) के अनुसार कोरोना वायरस सी-फूड से जुड़ा है. कोरोना वायरस विषाणुओं के परिवार का है तथा इससे लोग बीमार पड़ रहे हैं. यह वायरस ऊंट, बिल्ली और चमगादड़ सहित कई पशुओं में भी प्रवेश कर रहा है. खास स्थिति में पशु मनुष्यों को भी संक्रमित कर सकते हैं. इस वायरस का मानव से मानव संक्रमण वैश्विक स्तर पर कम है.

यह भी पढ़ें:सबसे प्रदूषित देशों में भारत का 5वां स्थान, जानें पाकिस्तान किस स्थान पर

यह भी पढ़ें:मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति होस्नी मुबारक का निधन, जानें विस्तार से

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Whatsapp IconGet Updates

Just Now