ओडिशा ने 1.46 लाख करोड़ रुपये की 5 प्रमुख इस्पात निर्माण परियोजनाओं को दी मंजूरी

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के 'विजन 2030' के तहत ओडिशा को 'स्टील हब ऑफ इंडिया' बनाने के लिए, मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में राज्य के 26 वें उच्च स्तरीय मंजूरी प्राधिकरण (HLCA) ने पांच प्रमुख औद्योगिक परियोजनाओं को अपनी सैद्धांतिक मंजूरी जारी कर दी है.

Created On: Jul 8, 2021 14:48 ISTModified On: Jul 8, 2021 14:50 IST

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के 'विजन 2030' के तहत ओडिशा को 'स्टील हब ऑफ इंडिया' बनाने के लिए, मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में राज्य के 26 वें उच्च स्तरीय मंजूरी प्राधिकरण (HLCA) ने 1,46,172 करोड़ रुपये की पांच प्रमुख औद्योगिक परियोजनाओं को अपनी सैद्धांतिक मंजूरी जारी कर दी है.

वित्त वर्ष 2020-21 में, ओडिशा COVID-19 महामारी के बीच भी 02.96 लाख करोड़ रुपये का निवेश करने में सक्षम था. इन पांच प्रमुख औद्योगिक परियोजनाओं से ओडिशा में 26,959 रोजगार के अवसर पैदा होंगे.

HLCA ने पांच प्रमुख इस्पात निर्माण परियोजनाओं को दी अपनी मंजूरी

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की अध्यक्षता में राज्य के 26 वें उच्च स्तरीय मंजूरी प्राधिकरण (HLCA) ने जिन पांच प्रमुख औद्योगिक परियोजनाओं को अपनी सैद्धांतिक मंजूरी दी है, उनका संक्षिप्त विवरण निम्नलिखित है:

(i) भूषण पावर एंड स्टील लिमिटेड

• HLCA ने भूषण पावर एंड स्टील लिमिटेड के एकीकृत इस्पात संयंत्र को 05 MMTPA से 15 MMTPA तक विस्तारित करने के लिए 55,000 करोड़ रुपये दिए.
• यह प्रस्तावित संयंत्र सितंबर, 2021 में रेंगाली में स्थापित होगा और 10,000 से अधिक व्यक्तियों के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करेगा.

(ii) टाटा स्टील लिमिटेड

• HLCA ने टाटा स्टील लिमिटेड के कच्चे इस्पात के उत्पादन को 03 MTPA से 08 MTPA तक, हॉट रोल्ड कॉइल को 03 MTPA से 07 MTPA तक, 02 MTPA लंबे उत्पाद और 2.2 MTPA कोल्ड रोल्ड उत्पाद बढ़ाने के लिए 47,599 करोड़ रुपये दिए.
• कलिंग नगर, जयपुर में स्थापित किया जाने वाला यह प्रस्तावित संयंत्र 4,625 से अधिक व्यक्तियों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करेगा.

(iii) जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड

• HLCA ने जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के 06 MTPA के मौजूदा एकीकृत स्टील प्लांट को 18.6 MTPA की प्रस्तावित क्षमता से बढ़ाकर 25.2 MTPA करने के लिए 24,652 करोड़ रुपये दिए.
• इस विस्तार से जिंदल स्टील का कुल निवेश बढ़कर 1,00,670 करोड़ रुपये हो जाएगा, जिससे यह दुनिया में सबसे बड़ी सिंगल लोकेशन स्टील प्लांट क्षमता वाली कंपनी बन जाएगी.

(iv) रूंगटा माइंस लिमिटेड (झारबंध)

• HLCA ने रूंगटा माइंस लिमिटेड के एकीकृत इस्पात संयंत्र को प्रस्तावित क्षमता 2.85 MMTPA से बढ़ाकर 7.55 MMTPA करने के लिए 11,001 करोड़ रुपये दिए.
• यह प्रस्तावित संयंत्र झारबंध, ढेंकनाल में स्थापित किया जायेगा और 6,200 से अधिक व्यक्तियों को रोजगार प्रदान करेगा.

(v) रूंगटा माइन्स लिमिटेड (कराखेंद्र)

• HLCA ने रूंगटा माइंस लिमिटेड के एक अन्य इस्पात संयंत्र की क्षमता को 0.53 MMTPA से बढ़ाकर 03 MMTPA करने के लिए 7,920 करोड़ रुपये दिए.
• यह प्रस्तावित संयंत्र काराखेंद्र, क्योंझर में स्थापित किया जाएगा और 5,134 से अधिक व्यक्तियों को रोजगार प्रदान करेगा.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Related Stories

Post Comment

8 + 4 =
Post

Comments

    Whatsapp IconGet Updates

    Just Now