]}
Search

पीएफआरडीए ने ‘एपीआई’ से जुड़ने हेतु ‘आधार’ आधारित डिजिटल सुविधा का शुभारम्भ किया

पीएफआरडीए ने व्यापक पहुंच के लिए ईएनपीएस प्लेटफॉर्म के माध्यम से एपीआई संबंधी नामांकन की पेशकश करने की प्रक्रिया विकसित की. इसके तहत ग्राहकों की सुविधा के अनुसार एपीआई से जुड़ने हेतु पूर्ण डिजिटल परिवेश सुनिश्चित किया गया.

Oct 10, 2017 18:27 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) ने भारत के नागरिकों को अटल पेंशन योजना (एपीवाई) के लाभ सुलभ कराने हेतु ‘आधार’ आधारित डिजिटल सुविधा का शुभारम्भ किया है.

इसके अतिरिक्त सरकार ने अनेक डिजिटल अनुकूल कदम उठाए हैं. पीएफआरडीए ने व्यापक पहुंच के लिए ईएनपीएस प्लेटफॉर्म के माध्यम से एपीआई संबंधी नामांकन की पेशकश करने की प्रक्रिया विकसित की.

9 अक्टूबर: विश्व डाक दिवस मनाया गया


इसके तहत ग्राहकों की सुविधा के अनुसार एपीआई से जुड़ने हेतु पूर्ण डिजिटल परिवेश सुनिश्चित किया गया. अत: ऐसे में बैंक या डाकघर जाने और वहां व्‍यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर संबंधित फॉर्म जमा करने की कोई आवश्‍यकता नहीं होगी.

CA eBook

लाभ-

  • इससे कागज रहित पंजीकरण भी APY@eNPS के फायदों में सम्मिलित है, इसके बाद उपभोक्ताओं को बैंक शाखा जाने और बैंकिंग आईडी की कोई आवश्यकता नहीं है, ग्राहकों की सुविधा के अनुसार इस सुविधा हेतु 24X7 ऑनलाइन नामांकन किया जा सकेगा.
  • वर्तमान में बैंकों, बीसी और इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से एपीवाई से जुड़ना संभव है.
  • एपीआई अब ईएनपीएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है और कोई भी पात्र भारतीय नागरिक www.enps.nsdl.com पर जाकर APY@eNPS के माध्यम से नामांकन करा सकता है.
  • इंटरनेट बैंकिंग आईडी की आवश्यकता नहीं है
  • बैंक के ग्राहक ईएनपीएस पोर्टल पर जाकर इस योजना में शामिल होने के लिए आधार/ बैंक का नाम और बचत बैंक खाता संख्या प्रस्‍तुत कर सकते हैं.    

पंजाब नेशनल बैंक APY@eNPS को संचालित करने वाला पहला बैंक है. अनुमान व्यक्त किया गया है कि कुछ अन्य बैंक शीघ्र ही यह प्‍लेटफॉर्म लांच कर उपभोक्ताओं को ‘आधार’ आधारित एपीआई नामांकन की सुविधा का आरम्भ करने लगेंगे.

विस्तृत current affairs  हेतु यहाँ क्लिक करें            


प्रक्रिया-
बचत बैंक खाते और आधार के साथ 18 से 40 वर्ष के आयु समूह का कोई भी व्यक्ति APY@eNPS पोर्टल में न्यूनतम जानकारी प्रदान करके एपीवाई के लिए पंजीकरण करा सकता है,
शेष अन्‍य जानकारियां संबंधित बैंक से स्‍वत: ही प्राप्‍त हो जाएंगी.
नई सुविधा से न केवल ग्राहक के लिए एपीवाई में शामिल होना आसान हो गया है, बल्कि उन बैंकों/ डाकघर की शाखाओं पर काम का बोझ भी कम हो गया है जो एपीवाई को लागू कर रहे हैं.

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS

Also Read +

Whatsapp IconGet Updates