टीका उत्सव: चौथे दिन टीके की 31.39 लाख से अधिक खुराक दी गयीं, जानें विस्तार से

प्रधानमंत्री ने इस ‘टीका उत्सव’ के दौरान सभी लोगों के शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने की बात कही. उन्होंने इस मामले में देश के युवाओं का भी आह्वान किया कि वो लोग आगे आएं और वैक्सीनेशन के बारे में जागरूकता फैलाएं. 

Created On: Apr 15, 2021 13:10 ISTModified On: Apr 15, 2021 13:10 IST

देशव्यापी ‘टीका उत्सव’ के चौथे दिन 14 अप्रैल 2021 को रात आठ बजे तक टीकों की 31.39 लाख से अधिक खुराक देने के साथ ही अबतक 11.43 करोड़ लोगों को टीका लगाया गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने 14 अप्रैल 2021 को यह जानकारी दी. मंत्रालय ने बताया कि 69,974 कोविड टीकाकरण केंद्र चालू हैं और पहले सक्रिय केंद्रों में औसतन 24,000 का इजाफा हुआ है.

टीका उत्सव के तीसरे दिन 13 अप्रैल 2021 को कोरोना वायरस टीकों की 25 लाख से अधिक खुराकें दी गयीं और इसके साथ ही देश में अब तक दिए गए टीकों की कुल संख्या बढ़कर 11,10,33,925 तक पहुंच गयी. यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी. पूरे देश में कोविड टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि टीकाकरण अभियान 'टीका उत्सव' के दूसरे दिन 12 अप्रैल 2021 को कोविड-19 टीके की 37 लाख से अधिक खुराक दी गईं, जिससे देश में अभी तक दी गई टीके की कुल खुराकों की संख्या बढ़कर 10,82,92,423 हो गई. मंत्रालय ने कहा कि देश भर में सरकारी और निजी क्षेत्र में कई कार्यस्थल टीकाकरण केंद्र चालू हो गए हैं. 

देश में कोरोना की बेकाबू होती रफ्तार पर लगाम लगाने हेतु टीकाकरण अभियान में तेज कर दिया गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी रात आठ बजे तक के आंकड़े के अनुसार टीका उत्सव' के पहले दिन वैक्सीन की 27 लाख से अधिक डोज दी गई. यह आंकड़ा इसलिए भी उत्साहजनक है क्योंकि अब तक हर रविवार को औसतन 16 लाख टीके ही लग रहे थे. 

मंत्रालय ने बताया कि अब तक कुल 10.43 करोड़ टीके दिए जा चुके हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने टीका उत्‍सव को लेकर देशवासियों को संबोधित ब्लॉग में कोरोना महामारी को मात देने के लिए व्यक्तिगत और सामाजिक स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने की गुजारिश की है. देश में 11-14 अप्रैल के बीच चल रहे कोविड-19 टीकाकरण अभियान को 'टीका उत्सव नाम दिया गया है.

देश में कोरोना वायरस के नए मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 08 अप्रैल 2021 को कोरोना वायरस महामारी और वैक्सीनेशन की स्थिति को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की. प्रधानमंत्री ने बैठक को संबोधित करते हुए 11 अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच देशभर में 'टीका उत्सव' मनाने और ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाने को कहा.

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में टीका उत्सव मनाने की अपील की. उन्होंने कहा कि 11 अप्रैल को ज्योतिबा फुले जी की जन्म जयंति है और 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जन्म जयंति है, उस बीच हम सभी ‘टीका उत्सव’ मनाएं. उन्होंने इस बैठक में कोरोना टेस्टिंग, नाइट कर्फ्यू और टीकाकरण पर जोर दिया. साथ ही उन्होंने साफ कर दिया कि देश में संपूर्ण लॉकडाउन की जरूरत नहीं है.

शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने की बात

प्रधानमंत्री ने इस ‘टीका उत्सव’ के दौरान सभी लोगों के शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने की बात कही. उन्होंने इस मामले में देश के युवाओं का भी आह्वान किया कि वो लोग आगे आएं और वैक्सीनेशन के बारे में जागरूकता फैलाएं. पीएम ने कहा कि वैक्सीन लगवाने के बाद भी हमें सख्ती बरतनी होगी. उन्होंने कहा कि वैक्सीन के बाद भी मास्क और सावधानी बरतना जरूरी है.

दुनिया भर में नाइट कर्फ्यू

पीएम ने कहा कि दुनिया भर में रात्रि कर्फ्यू को स्वीकार किया गया है. इसे अब हमें नाइट कर्फ्यू को कोरोना कर्फ्यू के नाम से याद रखना चाहिए. वहीं उन्होंने कहा कि कोरोना से रोकथाम के लिए माइक्रो कन्टेनमेंट ज़ोन पर फोकस जरूरी है. प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार हमारे पास कोरोना से लड़ने के लिए सभी उपाय मौजूद हैं. अब तो वैक्सीन भी है.

टेस्टिंग सबसे जरूरी

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें टेस्टिंग पर बल देना होगा. हम शुरुआती लक्षण में ही डॉक्टर के पास जाएं. उन्होंने कहा कि कोरोना एक ऐसी चीज है जब तक आप उसे लेकर नहीं आएंगे, यह नहीं आएगा. हमें टेस्टिंग और ट्रैकिंग को बढ़ाना होगा.

70 प्रतिशत तक आरटी-पीसीआर टेस्ट का लक्ष्य

पीएम ने कहा कि हमारा टारगेट 70 प्रतिशत तक आरटी-पीसीआर टेस्ट का लक्ष्य रखना है. कोरोना से बाहर निकलने का रास्ता ज्यादा टेस्टिंग है. उन्होंने कहा कि पॉजिटिविटी रेट बढ़ने से घबराएं नहीं, टेस्ट जरूर कराएं. जब टेस्ट होगा तभी उसका निवारण किया जा सकेगा.

लोग पहले से अधिक बेपरवाह

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि लोग पहले से अधिक बेपरवाह हो गए हैं, कुछ राज्यों में प्रशासन शिथिलता बरत रहा है. उन्होंने कहा कि हमारे पास संसाधन हैं, अब अनुभव भी है. पीएम मोदी ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में सभी का कोरोना टेस्ट किया जाना चाहिए.

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

3 + 5 =
Post

Comments

    Whatsapp IconGet Updates

    Just Now