Search

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर में 6 पुलों का किया उद्घाटन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे यह कहते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि इन पुलों का निर्माण दुश्मनों द्वारा निरंतर सीमा पर गोलीबारी के बावजूद समय पर पूरा कर लिया गया है.

Jul 10, 2020 10:19 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 09 जुलाई 2020 को वीडियो कांफ्रेंसिंग से जम्मू में सीमा सड़क संगठन (BRO) द्वारा बनाए गए 6 नए पुलों का उदघाटन किया. ये 6 पुल लगभग 43 करोड़ रुपये की लागत से बनाए गए हैं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने छह प्रमुख पुलों को राष्ट्र को समर्पित किया है. ये पुल सामरिक महत्व के हैं.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे यह कहते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि इन पुलों का निर्माण दुश्मनों द्वारा निरंतर सीमा पर गोलीबारी के बावजूद समय पर पूरा कर लिया गया है. ये पुल सामरिक रूप से महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सशस्त्र बलों को आवाजाही की सुविधा प्रदान करेंगे और सुदूर सीमावर्ती क्षेत्रों के समग्र आर्थिक विकास में भी योगदान देंगे.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने क्या कहा?

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मैं बीआरओ के सभी रैंक को रिकॉर्ड समय में इन पुलों को पूरा करने के लिए बधाई देता हूं. ये परियोजनाएं सीमा के करीब दूर दराज के क्षेत्रों में लाइफ लाइन हैं. सरकार सभी बीआरओ परियोजनाओं की प्रगति की नियमित निगरानी कर रही है और उनके समय पर निष्पादन के लिए पर्याप्त धन दिया जा रहा है.

6 पुल का उद्घाटन

इन 6 पुलों में से 4 अखनूर सेक्टर में है. जिनमें पलानी ब्रिज, घोड़ा ब्रिज फाडी वाला ब्रिज समेत अन्य शामिल हैं. इसके अतिरिक्त दो ब्रिज जम्मू सेक्टर में हैं. रक्षा मंत्री ने इन पुलों का उद्घाटन ऐसे समय में किया है, जब चीन और पाकिस्तान के साथ सीमा विवाद चल रहा है.

चीन के साथ हिंसक झड़प हुई थी

पिछले महीने ही पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीन के सैनिकों और भारत के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प देखने को मिली थी. इस हिंसक झड़प में भारतीय सेना के लगभग 20 जवान शहीद हो गए थे. साथ ही कई जवान घायल हो गए थे.

गांवों को फायदा

इससे न केवल सीमा क्षेत्र के साठ के करीब गांवों के लोगों को हीरानगर आने जाने की सुविधा मिलेगी, बल्कि सांबा-कठुआ ओल्ड मार्ग पर दोबारा बसें दौड़ेगी. यह बसें साल 1980 के बाद खस्ताहाल मार्ग तथा नालों पर पुल नहीं होने की वजह से बंद हो गई थीं.

रोजगार के अवसर बढ़ेंगे

ओल्ड सांबा कठुआ मार्ग पर बहने वाले नालों पर पुलों के निर्माण के बाद सांबा-कठुआ मार्ग पर दोबारा बस सेवा शुरू होने से दोनों जिलों के दो सौ के करीब गांवों के लोगों को आने जाने की सुविधा मिलेगी और रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे.

अटल टनल का भी काम जल्द होगा पूरा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की जल्द ही अटल टनल का भी काम पूरा कर देश को समर्पित किया जाएगा. सेना की ज़रूरतों को ध्यान में रखकर कई और विकास के कामों की घोषणा जल्द की जाएगी. साथ ही जम्मू में 1000 किलोमीटर लंबी सड़कों पर काम जारी है.

लॉकडाउन में पूरे किए गए पुल

कोरोना संकट के बीच भी लॉकडाउन घोषित होने के साथ ही BRO ने तीन बड़े पुल तैयार कर लिए थे. तेज बरसात से पहले हो रहे इन पुलों के उद्घाटन से सीमा क्षेत्र में बसे गांवों और ग्रामीणों को लाभ होगा.

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS
Whatsapp IconGet Updates