Search

टाइम मैगज़ीन ने ‘साइलेंस ब्रेकर्स’ को पर्सन ऑफ़ द इयर घोषित किया

Dec 7, 2017 10:38 IST
1

अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठित पत्रिका टाइम मैगज़ीन द्वारा 06 दिसंबर 2017 को ‘मी टू अभियान’ की प्रतिभागी महिलाओं को पर्सन ऑफ़ द इयर-2017 चयनित किया है.

प्रतिष्ठित टाइम मैगजीन ने यौन शोषण, यौन प्रताड़न या यौन हिंसा का खुलासा करने वाली महिलाओं को इस साल का 'पर्सन ऑफ द ईयर' घोषित किया है. पत्रिका ने इन्हें 'द साइलेंस ब्रेकर्स' नाम दिया है. इस सूची में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दूसरे स्थान पर रहे जबकि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग दूसरे स्थान पर रहे.

CA eBook

मुख्य बिंदु

•    टाइम पत्रिका ने प्रसिद्ध सामाजिक लोगों द्वारा उनके साथ अतीत में किये गये यौन प्रताड़ना, यौन हिंसा और बलात्कार आदि के मामलों के खुलासे हेतु उन्हें 'साइलेंस ब्रेकर्स' का नाम दिया.

•    ‘पर्सन ऑफ द इयर’ चुने गए व्यक्तियों में हॉलीवुड में यौन उत्पीड़न का खुलासा करने वाली मशहूर अभिनेत्रियों से लेकर आम जनजीवन में यौन उत्पीड़न और  दुर्व्यवहार का सामना कर चुकी सामान्य महिलाएं तक शामिल हैं.

•    पत्रिका के कवर पर कुछ प्रसिद्ध हस्तियों की तस्वीर है जिनमें पहली एशले जुड हैं जिन्होंने हार्वे विन्सटीन के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी तथा दूसरी महिला पॉप सिंगर टेलर स्विफ्ट हैं जिन्होंने एक्स-डीजे के ख़िलाफ़ एक मुकदमा जीता था.

•    इस सूची में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को दूसरा और उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग को तीसरा स्थान मिला है.


यह भी पढ़ें: टाइम मैगजीन ने 25 सर्वश्रेष्ठ अविष्कारों की सूची जारी की

#MeToo अभियान

यह हॉलीवुड अभिनेत्रियों द्वारा महिलाओं के साथ हुए यौन अत्याचारों के खिलाफ शुरु किया गया एक सोशल मीडिया अभियान था. इसके अंतर्गत महिलाएं उनके साथ अतीत और वर्तमान में हो रहे यौन हिंसा या शोषण की पोस्ट शेयर कर रही थीं.

यौन हिंसा के खिलाफ मामले सामने आने के अभियान के तहत हॉलीवुड दिग्गज हार्वे विंस्टीन पर यौन दु‌र्व्यवहार का आरोप लगा गया. इसके बाद सैकड़ों महिलाओं और कुछ पुरुषों ने अपने उत्पीड़न के बारे में बात की. दुनिया भर में 'मी टू' हैशटैग पर महिलाओं ने अपने साथ यौन उत्पीड़न के बारे में बताया. इस अभियान में विभिन्न देश, धर्म, जाति और समुदाय की महिलाओं ने भाग लिया.

यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रम्प टाइम मैगज़ीन द्वारा पर्सन ऑफ़ द इयर चयनित