Search

अमेरिका ने पाकिस्तान की 30 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रद्द की

Sep 3, 2018 09:26 IST
1

अमेरिकी सेना ने पाकिस्तान को ‘गठबंधन सहायता निधि' के तहत दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर (लगभग 2100 करोड़ रुपये) की आर्थिक मदद रद्द कर दी हैं. उसने कहा कि पाकिस्तान के दक्षिण एशिया क्षेत्र में अमेरिकी रणनीति के समर्थन में निर्णायक कार्रवाई करने में नाकाम रहने के कारण यह निर्णय किया है. अमेरिकी रक्षा मुख्यालय पेंटागन ने 01 सितम्बर 2018 को यह जानकारी दी.

अमरीकी अधिकारियों के अनुसार अगर पाकिस्तान अपना रवैया बदलता है तो उसे अमरीकी समर्थन फिर से हासिल हो सकता है.

पहले भी अमरीका ने रद्द कर चुका है आर्थिक मदद:

इससे पहले भी अमरीका ने इस साल की शुरुआत में पाकिस्तान को 50 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रद्द कर दी थी. कुल मिलाकर अमेरिका ने 5680 करोड़ रुपए की सहायता राशि रद्द कर चुका है.

यह फैसला ऐसे समय में आया है, जब अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से मिलने के लिए इस्लामाबाद पहुंचने वाले हैं.

सुरक्षा राशि लगभग खत्म:

अमेरिका सरकार ने जनवरी 2018 में घोषणा की थी कि वह देश पाकिस्तान को मिलने वाली सभी सुरक्षा राशि को लगभग खत्म कर रहा है. अमेरिका के अलावा दूसरे देश लंबे समय से आतंकियों और उनके संगठनों को सुरक्षित आसारा मुहैया करवाने के लिए पाकिस्तान की शिकायत करते रहे हैं. हालांकि अमेरिका के दावों को पाकिस्तान खारिज करता रहा है.

पाकिस्तान सरकार को झटका:

अमेरिकी ने पाकिस्तान की नई सरकार को करारा झटका दिया है. अमेरिका का यह कदम इमरान खान की अगुआई वाली सरकार की मुश्किल और बढ़ा सकता है, जो पहले ही देश की बदहाल अर्थव्यवस्था से जूझ रही है. मालूम हो कि अमेरिका पाक को यह मदद आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में सहयोग के लिए देता रहा है.

पृष्ठभूमि:

गौरतलब है कि साल 2002 से पाकिस्तान को अमेरिका से आर्थिक मदद के तौर पर 33 अरब डॉलर से अधिक की धनराशि मिलती रही है. इसमें 14 अरब डॉलर की गठबंधन सहयोग धनराशि भी हैं.

पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार घट रहा है. मई 2017 में जहाँ पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार 16.4 अरब डॉलर था, वहीं अब ये 10 अरब डॉलर के नीचे पहुँच गया है. विदेशी मुद्रा भंडार में गिरावट के कारण चालू खाता घाटा का संकट और गहरा गया है.

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK