Search

विश्व स्तनपान सप्ताह 1 से 7 अगस्त: विषय, उद्देश्य और महत्व

विश्व स्तनपान सप्ताह के दौरान आयोजित की जाने वाली गतिविधियों का उद्देश्य माता-पिता को स्तनपान के प्रति जागरुक करना है.

Aug 4, 2019 10:17 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

विश्वभर में 1 से 7 अगस्त 2019 के बीच विश्व स्तनपान सप्ताह (डब्ल्यूबीडब्ल्यू) मनाया जा रहा है. इस वर्ष का विषय है - माता-पिता को सशक्त बनाना, स्तनपान को सक्षम करना. इस वर्ष स्तनपान के संरक्षण, प्रचार और समर्थन पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है. महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के तहत इस दौरान विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे.

विश्व स्तनपान सप्ताह के उद्देश्य

• माता-पिता को स्तनपान को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना.
• माता-पिता में स्तनपान को लेकर जागरूकता पैदा करना.
• स्तनपान के महत्व को लेकर जागरुकता पैदा करना और पर्याप्त एवं उचित पूरक आहार के बारे में बताना.
• स्तनपान के महत्व से संबंधित सामग्री उपलब्ध कराना.

विश्व स्तनपान सप्ताह का महत्व

• इस दौरान आयोजित कार्यक्रमों में बताया जाता है कि मां का दूध बच्चे और मां दोनों के बेहतर स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है.
• सप्ताह भर चलने वाले कार्यक्रम बताते हैं कि यह प्रारंभिक अवस्था में दस्त और तीव्र श्वसन संक्रमण जैसे संक्रमणों को रोकता है और इससे शिशु मृत्यु दर में कमी आती है.
• स्तनपान मां में स्तन कैंसर, अंडाशय के कैंसर, टाइप 2 मधुमेह और हृदय रोग विकसित होने के खतरे को कम करता है.
• स्तनपान सप्ताह में बताया जाता है कि यह नवजात को मोटापे और डायबिटीज से बचाता है तथा इससे आईक्यू बढ़ता है.

भारत में विश्व स्तनपान सप्ताह 2019

खाद्य एवं पोषण बोर्ड की 43 सामुदायिक खाद्य एवं पोषण विस्तार इकाइयों के जरिये 30 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में अन्न प्रासन्न उत्सव और आईवाईसीएफ पर क्विज प्रतियोगिता जैसी गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं. इनमें राज्यों के स्वास्थ्य विभागों के अधिकारियों, गृह विज्ञान कॉलेजों, चिकित्सा संस्थानों, यूनिवर्सिटियों, एनजीओ और दूसरे हितधारकों को भी शामिल किया गया है.

यह भी पढ़ें: गैरकानूनी गतिविधियाँ (रोकथाम) संशोधन विधेयक, 2019 राज्य सभा में पारित

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS