Search
  1. Home
  2. अर्थव्यवस्था
View in English

अर्थव्यवस्था

  • जाने भारत के 20 सबसे ईमानदार शहर कौन से हैं

    ट्रान्सपैरेंसी इंटरनेशनल की तर्ज पर ही भारत के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में 2016-17 का आर्थिक सर्वेक्षण पेश करते हुए देश के टॉप 20 ईमानदार शहरों की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में देश की आर्थिक राजनधानी मुंबई पहले नंबर पर है और इसको 10 में से 8 नंबर मिले हैं|सबसे ज्यादा नंबर मुंबई-हैदराबाद के हैं और सबसे कम नंबर चंडीगढ़ और देहरादून को मिले हैं।

    Feb 16, 2017
  • भारत की अर्थव्यवस्था के बारे में 11 रोचक तथ्य

    इस समय भारत की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर पूरी दुनिया में सबसे अधिक है और अब यह दुनिया की 7वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है इसमें सबसे बड़ा योगदान सेवा क्षेत्र का है जबकि कृषि क्षेत्र का योगदान हर साल घटता जा रहा है| वर्तमान में भारत की प्रति व्यक्ति आय 92,231 रुपये प्रति वर्ष हो गई है |

    Feb 16, 2017
  • भारत में विभिन्न उत्पादों के लिए दिए जाने वाले प्रमाण-पत्रों का विवरण

    भारत सरकार ने सभी नागरिकों के आर्थिक हितों की रक्षा के लिए लगभग हर उत्पाद के लिए कुछ मानकों को बनाया है जैसे कृषि क्षेत्र के उत्पादों के लिए “एगमार्क”, बिजली के उत्पादों के लिए ISI मार्क, सोने चांदी के आभूषणों के लिए BIS मार्क होना निश्चित किया गया है और सभी “प्रसंस्कृत फल उत्पादों” के लिए “FPO मार्क” प्राप्त करना अनिवार्य है| इस लेख में ऐसे ही सुरक्षा मानकों के बारे में बताया गया है|

    Feb 14, 2017
  • जानें क्यों 2017-18 की आयकर दरें 2016-17 की तुलना में फायदेमंद हैं

    केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने मोदी सरकार का चौथा आम बजट पेश करते हुए मध्यम वर्गीय लोगों को आयकर के मामले में थोड़ी राहत प्रदान की है| नए प्रावधानों के अनुसार अब ढाई से पांच लाख की व्यक्तिगत आय पर 5% आयकर लगेगा और तीन लाख तक की आय पर मौजूदा कर प्रावधानों के तहत कोई आयकर नहीं देना पड़ेगा|

    Feb 1, 2017
  • न्यूनतम समर्थन मूल्य (2015-16): अर्थ और भारतीय अर्थव्यवस्था में योगदान

    न्यूनतम समर्थन मूल्य, वह मूल्य है जिस पर सरकार किसानों द्वारा बेचीं जाने वाली अनाज की पूरी मात्रा खरीदने के लिए तैयार रहती है | इन न्यूनतम मूल्यों का सुझाव सरकार द्वारा स्थापित कृषि और लागत मूल्य आयोग (CACP) करता है और मूल्यों की घोषणा सरकार करती है | यह समर्थन मूल्य साल में दो बार रबी और खरीफ की खेती के लिए कुल 24 फसलों के लिए घोषित किया जाता है|

    Jan 25, 2017
  • केन्द्रीय बजट क्या है: परिभाषा एवं उनका वर्गीकरण

    जब कभी हम “बजट” शब्द सुनते हैं तो हमें तुरन्त सरकार द्वारा प्रतिवर्ष पेश किए जाने वाले बजट की याद आती है| लेकिन क्या आपको पता है कि बजट का अर्थ क्या होता है और यह कितने तरह का होता है? इस लेख में हम बजट की परिभाषा और उसके वर्गीकरण का विवरण दे रहे हैं, जिससे बजट के संबंध में आपकी समझ और भी विकसित होगी|

    Jan 24, 2017
  • भारत में पीली क्रांति और गोल क्रांति

    खाद्य तेलों तथा तिलहन फसलों के उत्पादन हेतु अनुसन्धान एवं विकास की रणनीति को पीली क्रांति के नाम से जाना जाता है | तिलहन उत्पादन में आत्म निर्भरता प्राप्त करने की दृष्टि से उत्पादन, प्रसंस्करण और प्रबंध प्रौद्योगिकी का सर्वोत्तम उपयोग करने के उद्येश्य से तिलहन प्रौद्योगिकी मिशन 1986 से आरंभ किया गया था|

    Jan 23, 2017
  • डेबिट कार्ड पर छपे 16 अंक क्या बताते है?

    डेबिट कार्ड को ATM कार्ड भी कहते है और इसका उपयोग ऑनलाइन खरीदारी, ऑनलाइन बिल पेमेंट्स वगेरा के लिए किया जाता है |इसकी मदद से बिना बैंक जाए हम ATM मशीन पैसे निकल सकते है | इस आर्टिकल के माध्यम से हम यह जानने की कोशिश करेंगे कि डेबिट कार्ड पर जो 16 अंक छपे होते है वह क्या बताते है |

    Jan 18, 2017
  • जानें भारत में एक नोट और सिक्के को छापने में कितनी लागत आती है?

    भारत में नोट छापने का एकाधिकार यहाँ के केन्द्रीय बैंक अर्थात भारतीय रिज़र्व बैंक के पास है| भारतीय रिज़र्व बैंक पूरे देश में एक रुपये के नोट को छोड़कर सभी मूल्यवर्गों (denominations) के नोट छापता है| छोटे मूल्यवर्ग के नोट को छापने की लागत कम (जैसे 5 रु. के नोट की लागत 48 पैसे) और बड़े मूल्य के नोट (1000 रु. के नोट की लागत 3.17 रुपये) की लागत अधिक आती है |

    Jan 16, 2017
  • भारतीय बजट के बारे में 6 ऐसे प्रश्न जो आप नही जानते हैं

    भारत के केंद्रीय बजट है को 'वार्षिक वित्तीय विवरण' के रूप में भी जाना जाता है| भारत में बजट का प्रावधान भारतीय संविधान के अनुच्छेद 112 में किया गया है| स्वतंत्र भारत के पहले केंद्रीय बजट को आर के शणमुखम चेट्टी द्वारा 26,1947 को पेश किया गया था| पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा ही ऐसे दो वित्तमंत्री रहे हैं जिन्होंने लगातार 5-5 बार बजट पेश किया है |

    Jan 13, 2017
  • रेल बजट को आम बजट में जोड़ने से क्या फायदा होगा?

    अभी हाल ही में मोदी कैबिनेट ने साल 1924 से अलग से पेश किए जा रहे रेल बजट को आम बजट के साथ पेश करने की मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही पिछले 92 साल से चली आ रही 'अलग से रेल बजट' पेश करने की पंरपरा समाप्ती हो जाएगी। अब जब 1 फ़रवरी को वित्त वर्ष 2017-18 का बजट वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किया जायेगा तो उसमे रेल बजट की चर्चा भी होगी | आइये इस लेख में यह जानने का प्रयास करते हैं कि इस कदम से भारतीय रेल को क्या फायदा होगा |

    Jan 12, 2017
  • भारत में बजट बनाने में किस तरह की गोपनीयता बरती जाती है

    भारतीय संविधान का ‘अनुच्छेद 112’ कहता है कि भारत के वित्त मंत्री द्वारा प्रति वर्ष संसद में बजट पेश किया जाना चाहिए| भारत में बजट बनाने के लिए लगभग 100 कर्मचारियों को 7 दिन तक अपने परिवार से दूर, बिना फ़ोन, इन्टरनेट के ख़ुफ़िया विभाग की नजर में एक कमरे में बंद रहना पड़ता है |

    Jan 10, 2017
  • भारत में श्वेत क्रांति

    श्वेत क्रांति दूध-उत्पादकता में तीव्र वृद्धि से संबंधित है। भारत में श्वेत क्रांति को ऑपरेशन फ्लड के नाम से भी जाना जाता है| भारत को दुग्ध-उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने के लिए 1970 के दशक में इसकी शुरूआत की गई थी| डॉ. वर्गीज कुरियन को भारत में श्वेत क्रांति का जनक कहा जाता है। वर्तमान में भारत दुनिया का सबसे बड़ा दूध उत्पादक देश है|

    Jan 10, 2017
  • Piggy बैंक (गुल्लक): उत्पत्ति और उसके नाम के पीछे की कहानी

    मध्य युग के दौरान पंद्रहवीं सदी में धातु बहुत महंगा था और शायद ही कभी घर के सामान के लिए इस्तेमाल किया जाता था। उस समय घरेलू बर्तनों के निर्माण में धातुओं के बजाय "piggy" नामक एक 'किफायती मिट्टी' का प्रयोग किया जाता था| उन्नीसवीं सदी में अंग्रेजी कुम्हारों ने “Piggy बैंक” या गुल्लक को सुअर के आकार का बना दिया था |

    Jan 6, 2017
  • भारत में एक कंपनी शुरू करने की प्रक्रिया: समय और लागत का विश्लेषण

    भारत में अपनी कंपनी का पंजीकरण कराना भारतीय एवं विदेशी उद्यमियों के लिए हमेशा से ही एक बहुत बड़ी परेशानी का कारण रहा है | यही कारण है कि भारत विश्व बैंक की व्यापार सूचकांक में आसानी (Ease of Doing Business) रैंकिंग में 189 देशों में 142 वें स्थान पर खड़ा है| इस लेख में भारत में एक कंपनी किस प्रकार खोली जा सकती है इस पर विचार किया गया है |

    Jan 3, 2017
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK