Search
  1. Home
  2. GENERAL KNOWLEDGE
  3. अर्थव्यवस्था
View in English

अर्थव्यवस्था

  • वन नेशन, वन राशन कार्ड: एलिजिबिलिटी, उद्देश्य और लाभ

    'वन नेशन, वन राशन कार्ड' योजना को वर्ष 2019 में चार राज्यों में पायलट बेस पर केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान द्वारा शुरू किया गया था. इस कार्ड की मदद से प्रवासी श्रमिकों को देश भर में राशन की दुकान से सस्ती दर पर खाद्यान्न प्राप्त होगा.

    May 27, 2020
  • भारत vs चीन: 13 विभिन्न क्षेत्रों में तुलना

    Comparison of India and China :-भारत और चीन दक्षिण एशिया की दो बड़ी आर्थिक और सेन्य शक्तियां हैं. इन दोनों के बीच सीमा विवाद बहुत पुराना है. इन दोनों देशों के बीच अरुणाचल प्रदेश और ढोकलाम में विवाद है, वर्तमान में दोनों देशों के बीच विवाद फिर से गरमा गया है.आइये जानते हैं कि इन देशों में कौन किस क्षेत्र में आगे है.

    May 27, 2020
  • विभिन्न सूचकांकों और अंतर्राष्ट्रीय रिपोर्ट में भारत की रैंक (2019-20)

    वर्ष 2019 में भारत की HDI रैंकिंग 129 है जो पिछले साल की तुलना में एक रैंक बेहतर है. इस रैंकिंग में कुल 189 देशों ने भाग लिया था. HDI रैंक 2019 में शीर्ष स्थान पर नॉर्वे का कब्जा है जबकि बुरुंडी सबसे नीचे है. विभिन्न इंडेक्स और अंतर्राष्ट्रीय रिपोर्ट में भारत की रैंक जानने के लिए इस लेख को पढ़ें.

    May 26, 2020
  • भारत सरकार और आरबीआई के बीच रिज़र्व फण्ड ट्रान्सफर विवाद क्या है?

    भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने अपने स्वयं के रिज़र्व से अगस्त 2019 में 1.76 लाख करोड़ केंद्र सरकार को लाभांश और सरप्लस पूंजी के तौर पर देने का फ़ैसला किया था. लेकिन इसी फण्ड विवाद को लेकर रिज़र्व बैंक और सरकार के बीच कुछ साल पहले खींचतान भी हुई थी. आइये इसी लेख में जानते हैं कि यह हस्तांतरण किस नियम के तहत और क्यों किया जाता है?

    May 25, 2020
  • New Public Sector Enterprises Policy:नॉन स्ट्रेटेजिक सरकारी कम्पनियों का निजीकरण क्यों और कैसे?

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश में नई सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों के लिए नई उद्यम नीति घोषित किये जाने को लेकर 17 मई, 2020 को घोषणा की थी. इस नयी नीति में देश के सार्वजानिक क्षेत्र के उद्यमों को स्ट्रेटेजिक VS नॉन स्ट्रेटेजिक सरकारी कंपनियों में बांटा जायेगा. इस नीति के अनुसार देश में रणनीतिक क्षेत्रों में 4 से अधिक सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों नहीं होंगे.

    May 25, 2020
  • भारत सरकार ने राज्यों की राजकोषीय घाटे की सीमा को बढाकर जीडीपी का 5% क्यों किया?

    कोरोना वायरस के कारण देश और प्रदेश में आर्थिक गतिविधियाँ बंद हैं इस कारण इनको आमदनी नही हो रही है और खर्चा लगातार बढ़ता जा रहा है. इसी कारण अब केंद्र सरकार ने राज्यों को कर्ज लेने की सीमा को GDP के 3% से बढाकर 5% कर दिया है.आइये इसके बारे में और जानते हैं.

    May 20, 2020
  • Mutual Fund: मीनिंग, प्रकार और अर्थव्यवस्था के विकास में भूमिका

    Mutual Fund; स्टॉक, बॉन्ड और अन्य अल्पकालिक निवेश साधनों में निवेश किया गया कई लोगों का सामूहिक निवेश पूल होता है. यह फंड आमतौर पर एक फंड मैनेजर द्वारा मैनेज किया जाता है, जो निवेशकों से उनके निवेश का ध्यान रखने के लिए फीस वसूलता है. आप किसी भी दिन कितने भी म्यूचुअल फंड खरीद और बेच सकते हैं.

    May 19, 2020
  • जानें क्या होता है "बैड बैंक" जिसकी सिफारिश IBA ने RBI से की है?

    मार्च 2020 तक भारत के सभी सरकारी और निजी बैंकों की गैर-निष्पादित परिसंपत्तियां (NPAs), 10 लाख करोड़ रुपये थीं. इन NPA को बैड लोन (Bad Loan) भी कहा जाता है. इंडियन बैंकिंग एसोसिएशन ने रिज़र्व बैंक और वित्त मंत्रालय से सिफारिश की है कि इस ‘बैड लोन’ की समस्या से निजात पाने के लिए देश में ‘बैड बैंक’ (Bad Bank) खोला जाना चाहिए.

    May 14, 2020
  • MSME सेक्टर की नयी परिभाषा और आर्थिक पैकेज 2020 के मुख्य बिंदु

    भारतीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने MSME की नयी परिभाषा तय की है, जिसमें निवेश सीमा को बदला गया है साथ ही टर्नओवर के रूप में नया क्राइटेरिया भी जोड़ा है. अब उस कम्पनी को सूक्ष्म उद्योग कहा जायेगा जिसमें विनिर्माण और सेवा दोनों क्षेत्रों में निवेश एक करोड़ से कम और टर्नओवर 5 करोड़ रुपये तक होगा.

    May 13, 2020
  • सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग किन्हें कहा जाता है?

    MSME परिभाषा 2020: सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME) को MSME अधिनियम -2016 के अनुसार वर्गीकृत किया गया है.कोविड 19 से हुए आर्थिक नुकसान को कम करने के दिशा में कदम उठाते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए 3 लाख करोड़ ऋण प्रदान करने की घोषणा की है. इसके कारण देश में 45 लाख सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों को फायदा होगा.

    May 13, 2020
  • आर्थिक पैकेज क्या होता है और क्यों दिया जाता है?

    भारत की अर्थव्यवस्था को आत्मनिर्भर बनाने और उसे मंदी में फंसने से बचाने के लिए प्रधानमन्त्री मोदी ने 12 अप्रैल को 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज देने की घोषणा की जो कि भारत की GDP के 10% के बराबर है.आइये इस लेख में जानते हैं कि यह आर्थिक पैकेज किस तरह से अर्थव्यवस्था के लिए जरूरी है?

    May 13, 2020
  • क्राउडफंडिंग: मीनिंग, प्रकार और लाभ

    क्राउडफंडिंग (Crowdfunding) व्यक्तिगत निवेशकों की एक बड़ी संख्या के सामूहिक प्रयासों के माध्यम से धन इकठ्ठा करने की एक विधि है. क्राउडफंडिंग मुख्य रूप से सोशल मीडिया और वेबसाइटों के माध्यम से ऑनलाइन की जाती है. क्राउडफंडिंग के प्रकार और लाभों को जानने के लिए इस लेख को पढ़ें.

    May 12, 2020
  • कंसोल बांड या परपेचुअल बॉन्ड क्या होता और इसे वॉर बांड क्यों कहा जाता है?

    परपेचुअल बॉन्ड (Console Bond or Perpetual Bond) बिना मैच्योरिटी की तारीख वाले बॉन्ड होते हैं. इन पर भी साधारण बांड की तरह ही फिक्स रिटर्न मिलता है. इन बांड को वॉर बांड भी कहा जाता है क्यों इन्हें सरकार द्वारा युद्ध के दौरान धन इकठ्ठा करने के लिए भी इशू किया जाता है. इन्हें जारी करने वाले के पास इस बॉन्ड को निर्धारित अवधि के बाद बायबैक करने का विकल्प रहता है.

    May 12, 2020
  • भौगोलिक संकेत (GI) टैग: अर्थ, उद्देश्य, उदाहरण और अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

    एक भौगोलिक संकेत (GI) टैग किसी विशेष क्षेत्र / राज्य / देश के उत्पाद निर्माता या व्यवसायियों के समूह को अच्छी गुणवत्ता के कृषि, औद्योगिक, प्राकृतिक वस्तुओं को बनाने के लिए दिया जाता है. जीआई टैग, भौगोलिक संकेतक (पंजीकरण और संरक्षण) एक्ट,1999 के अनुसार जारी किए जाते हैं.

    May 11, 2020
  • मणिपुर ब्लैक राइस को ज्योग्राफिकल इंडिकेशन (GI) टैग: जानें क्या है इसका मतलब

    मणिपुर ब्लैक राइस को GI टैग दिया गया है. यह टैग ज्योग्राफिकल इंडिकेशन रजिस्ट्री के द्वारा दिया जाता है जो कि उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग, वाणिज्य आयर उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत आता है. भारत में अब तक लगभग 361 प्रोडक्ट्स को GI टैग मिल चुका है. आइये इस लेख में इसके बारे में और जानते हैं.

    May 7, 2020