Search
View in English

आर्थिक तथ्य

  • भारत में सिक्कों का आकार क्यों घटता जा रहा है?

    देश में करेंसी नोटों को छापने के कार्य रिज़र्व बैंक के द्वारा किया जाता है जबकि सिक्कों को बनाने का काम वित्त मंत्रालय के द्वारा किया जाता है. भारत सरकार कोशिश करती है कि किसी भी सिक्के की मेटलिक वैल्यू उसकी फेस वैल्यू से कम ही रहे क्योंकि यदि ऐसा नही होगा तो लोग सिक्के को पिघलाकर उसकी धातु को बाजार में बेच देंगे जिसके कारण भारत के बाजर से सिक्के गायब हो जायेंगे. सिक्कों की मेटलिक वैल्यू घटाने के लिए सरकार उनका आकार छोटा कर रही है.

    Jul 8, 2019
  • सिक्का अधिनियम 2011: भारत में सिक्कों के साथ क्या नहीं कर सकते

    भारतीय रिज़र्व बैंक; भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के प्रावधानों के अनुसार मुद्रा नोट्स प्रिंट करता है, जबकि भारत में सिक्के, सिक्का अधिनियम, 2011 के अनुसार बनाये जाते हैं. सिक्का अधिनियम, 2011 जम्मू-कश्मीर सहित पूरे भारत में लागू है. इस लेख के माध्यम से यह बताने का प्रयास किया गया है कि भारत में सिक्कों के इस्तेमाल को लेकर क्या क्या नियम बनाये गए हैं.

    Jul 2, 2019
  • अमेरिका की जीएसपी स्कीम क्या है और इससे हटाने पर भारत को क्या नुकसान होगा?

    जेनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रिफ्रेंसेज (GSP) एक अमेरिकी व्यापार कार्यक्रम है. जेनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रिफ्रेंसेज की स्थापना 1974 के व्यापार अधिनियम द्वारा 1 जनवरी, 1976 को हुई थी. GSP स्कीम के तहत अमेरिका विकाससील और अन्य देशों के उत्पादों को अमेरिका में ड्यूटी फ्री एंट्री प्रदान करता है. अर्थात अमेरिका तरजीह वाले देशों से एक तय राशि के आयात पर शुल्क नहीं लेता है. भारत ने GSP का सबसे अधिक लाभ उठाया है.

    Jun 24, 2019
  • Monetary Policy Committee (MPC): संरचना और उद्देश्य

    केंद्र सरकार द्वारा संशोधित RBI अधिनियम, 1934 की धारा 45ZB के अनुसार 6 सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (MPC) का गठन किया गया है. मौद्रिक नीति समिति की पहली बैठक 3 अक्टूबर, 2016 को आयोजित की गई थी. यह समिति विभिन्न नीतिगत निर्णय लेती है जैसे रेपो रेट, रिवर्स रेपो रेट, एमएसएफ और लिक्विडिटी एडजस्टमेंट फैसिलिटी आदि से सम्बंधित होते हैं.

    Jun 6, 2019
  • पेटीएम क्रेडिट कार्ड: मुख्य विशेषताएं और फायदे

    पेटीएम का पूर्ण फॉर्म "Pay through Mobile" है. पेटीएम ऑनलाइन शॉपिंग, बिलों का भुगतान, मनी ट्रांसफर आदि की सुविधा प्रदान करता है. हाल ही में पेटीएम ने अपना बहुप्रतीक्षित क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है जिसे “पेटीएम फर्स्ट कार्ड” भी कहा जाता है. आइये इस लेख में पेटीएम क्रेडिट कार्ड की प्रमुख विशेषताओं और लाभों को जानते हैं.

    May 20, 2019
  • 7वें पे कमीशन में एक्राय्ड फॉर्मूला क्या है?

    भारत में पहले वेतन आयोग का गठन जनवरी, 1946 में श्रीनिवास वरादाचरियर की अध्यक्षता में स्थापित किया गया था. भारत में अब तक 7 पे कमीशन बनाये जा चुके हैं और इसकी सिफारिसों को 1 जनवरी 2016 से लागू किया गया है. इस पे कमीशन द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने के लिए एक्राय्ड फॉर्मूले का इस्तेमाल किया गया है. यह एक्राय्ड फॉर्मूले क्या है और इसके क्या प्रभाव होंगे? आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं?

    May 16, 2019
  • भारत में सबसे ज्यादा कमाई वाली नौकरियां कौन सी हैं?

    अच्छी और आरामदायक नौकरी सभी को पसंद होती है लेकिन किस नौकरी में सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है और इसके लिए कौन सी पढाई करनी पड़ती है इस प्रकार के सवालों के जवाब बहुत ही कम लोगों को पता होते है. इसलिए हमने इस लेख में इन प्रश्नों के उत्तर देने के साथ साथ 10 सबसे अधिक सैलरी देने वाली नौकरियों के बारे में भी बताया है.

    May 16, 2019
  • क्या आप भारत के सभी वेतन आयोगों का इतिहास जानते हैं?

    भारत में पहले वेतन आयोग का गठन जनवरी, 1946 में श्रीनिवास वरादाचरियर की अध्यक्षता में स्थापित किया गया थाl दूसरे वेतन आयोग का गठन अगस्त 1957 में आजादी के 10 साल बाद स्थापित हुआ था और इसकी सिफारिशों का सरकार पर ₹ 39.6 करोड़ का वित्तीय प्रभाव पड़ा था। अभी हाल ही में घोषित 7 वें वेतन आयोग को लागू किये जाने से सरकार पर 1 लाख करोड़ से अधिक का वित्तीय बोझ सहन करना पड़ेगा l

    May 13, 2019
  • जानें अकबर के शासन के दौरान अमेरिकियों की तुलना में भारतीय कितने अमीर थे?

    सन 1600 ईस्वी के आस पास भारत में अकबर का शासन था और इसी साल अंग्रेजों ने भारत में ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना की थी. ग्रोनिंगेन विश्वविद्यालय, नीदरलैंड की एक रिपोर्ट के मुताबिक जब भारत में अकबर का शासन था उस समय भारत की प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद आज के ज़माने में विकसित देश कहे जाने वाले फ़्रांस, जर्मनी, अमेरिका और जापान से भी अधिक थी.

    May 13, 2019
  • हीरा कैसे बनता है और असली हीरे को कैसे पहचानें?

    हीरा एक पारदर्शी रत्न होता है। यह रासायनिक रूप से कार्बन का शुद्धतम रूप है इसमें बिल्कुल मिलावट नहीं होती है, यदि हीरे को ओवन में 763 डिग्री सेल्सियस पर गरम किया जाये, तो यह जलकर कार्बन डाइ-आक्साइड बना लेता है तथा बिलकुल भी राख नहीं बचती है, इस प्रकार हीरे 100% कार्बन से बनते हैं।

    May 10, 2019
  • कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी किसे कहते हैं और भारत में इस पर कितना खर्च होता है?

    कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी का सीधा मतलब कंपनियों को उनकी सामाजिक जिम्मेदारी के बारे में बताना है. भारत में कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) के नियम अप्रैल 1, 2014 से लागू हैं. इसके अनुसार, जिन कम्पनियाँ की सालाना नेटवर्थ 500 करोड़ रुपये या सालाना आय 1000 करोड़ की या सालाना लाभ 5 करोड़ का हो तो उनको CSR पर खर्च करना जरूरी होता है. यह खर्च तीन साल के औसत लाभ का कम से कम 2% होना चाहिए.

    May 6, 2019
  • मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट से भारत को क्या फायदे होंगे?

    "मेक इन इंडिया" एक ऐसा प्रोजेक्ट है जिसमे बहुराष्ट्रीय और घरेलू कंपनियों को अपने उत्पाद भारत में बनाने के लिए प्रेरित करने के लिए कदम उठाने की बात कही गयी हैl इस प्रोजेक्ट का एकमात्र उद्देश्य लगभग 25 आर्थिक क्षेत्रों में अधिकतम रोजगार सृजन और कौशल बृद्धि पर ध्यान केंद्रित करना है। इस प्रोजेक्ट का निर्माण मिस्टर वीदेन कैनेडी (Wieden Kennedy) ने किया था l

    Apr 25, 2019
  • जानें फर्जी GST बिल की जाँच कैसे करें?

    भारत सरकार ने 1 जुलाई, 2017 से पूरे देश में वस्तु एवं सेवा कर (GST) लागू करने का फैसला किया है. शुरुआत के दिनों में बिना एयर कंडीशनर (AC) वाले रेस्टोरेंट में उपभोक्ताओं के बिल पर 12% की दर से GST लगाया जाता था और एयर कंडीशनर (AC) वाले रेस्टोरेंट में 18% की दर से. लेकिन वर्तमान में एयर कंडीशनर (AC) और बिना एयर कंडीशनर (AC) वाले रेस्टोरेंट में अब कर की दर को घटाकर 5% कर दिया गया है. कुछ चालाक रेस्टोरेंट मालिक एक फर्जी GST नम्बर बिल पर छाप कर ग्राहकों से GST वसूल रहे हैं जो कि ग्राहक के साथ धोखा है. यह लेख इसी धोखे से बचने के उपाय पर आधारित है.

    Apr 25, 2019
  • मुद्रा क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है?

    सामान्य अर्थों में ‘मुद्रा’ सिर्फ उस वस्तु को कहते हैं जिसको केंद्र सरकार ने सिक्कों या नोटों के रूप में छापा है परन्तु मुद्रा की सर्व व्यापक परिभाषा यह है कि “मुद्रा वह है जो कि मुद्रा का कार्य करे”|भारत में पत्र मुद्रा को निर्गत करने का अधिकार भारतीय रिजर्व बैंक को है जबकि इस पर लिखी गयी राशि के भुगतान का अंतिम दायित्व भारत सरकार का होता है| सभी सिक्कों और एक रुपये के नोट बनाने का अधिकार भारत सरकार के वित्त मंत्रालय का पास है |

    Apr 22, 2019
  • बेरोजगारी कितने प्रकार की होती है और भारत में कैसी बेरोजगारी पायी जाती है?

    बेरोजगारी की परिभाषा हर देश में अलग अलग होती है जैसे अमेरिका में यदि किसी व्यक्ति को उसकी योग्यता /क्वालिफिकेशन के हिसाब से नौकरी नही मिलती है तो उसे बेरोजगार माना जाता है. सामान्य तौर पर बेरोजगार उस व्यक्ति को कहा जाता है जो कि बाजार में प्रचलित मजदूरी दर पर काम तो करना चाहता है लेकिन उसे काम नही मिल पा रहा है.

    Apr 19, 2019