Search
  1. Home
  2. कला एवं संस्कृति
View in English

कला एवं संस्कृति

  • भारत के प्रसिद्ध बौद्ध मठों की सूची

    बौद्ध मठ का अर्थ ऐसे संस्थानों से है जहाँ बौद्ध धर्म के गुरु अपने शिष्यों को शिक्षा, उपदेश इत्यादि प्रदान करते हैं। विश्व में बौद्ध धर्म के बहुत से तीर्थ स्थल हैं। इनमें से कुछ प्रमुख इस प्रकार से हैं:- विहार, पगोडा, स्तूप, चैत्य, गुफा, बुद्ध मुर्ती एवं अन्य। इस लेख में हमने भारत की प्रसिद्ध बौद्ध मठों को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Sep 20, 2018
  • जानें भारतीय मंदिरों के कौन-कौन से अंग होते हैं

    भारतीय स्थापत्य में भारतीय मंदिरों के वास्तुकला का विशेष स्थान है। यदि आप प्राचीनकाल के मंदिरों की रचना देखेंगे तो जानेंगे कि सभी कुछ-कुछ पिरामिडनुमा आकार के होते थे। भारत के स्थापत्य की जड़ें यहाँ के इतिहास, दर्शन एवं संस्कृति में निहित हैं और यहाँ की परम्परागत एवं बाहरी प्रभावों का मिश्रण है। इस लेख में हमने शिल्पशास्त्र के अनुसार भारतीय मंदिरों के प्रमुख अंगो की सूची दिया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Sep 20, 2018
  • क्या आप जानते हैं भारतीय लघु कला चित्रकारी कैसे विकसित हुई?

    मिनीएचर (Miniature) का मतलब होता है लाघु लैटिन शब्द 'मिनियम' से व्युत्पन्न हुआ है जिसका अर्थ 'लाल रंग का शीशा' होता है। भारतीय उप-महाद्वीप में लघु चित्रकारी का लम्बा परम्परा रहा है और इसका विकास कई शैलियों में हुआ है। इस लेख में हमने भारतीय लघु चित्रकारी के विकास को लघु चित्रकारी का क्रमागत उन्नति के बारे में बताया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Sep 7, 2018
  • भारतीय स्वर्ण युग के प्रसिद्ध नाटककारों की सूची

    भारत में नाट्यकला का आरंभ एक कथात्मक कला विधा के रूप में हुआ, जिसमे संगीत, नृत्य तथा अभिनय के मिश्रण को सम्मिलित कर लिया गया। अनुवाचन, नृत्य तथा संगीत नाट्यकला के अभिनय अंग थे। इस लेख में हमने भारतीय स्वर्ण युग के प्रसिद्ध नाटककारों की सूची दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Sep 3, 2018
  • क्या आप जानते हैं साड़ी की उत्पत्ति भारत में नहीं हुयी है?

    किसी भी देश की पहचान उसकी भौगोलिक स्थिति, जनसंख्या, राजनीतिक व्यवस्था, नृजातीयता (Ethnicity) एवं सांस्कृतिक परिवेश से होती है। इन सभी पहचान के तत्वों के साथ साथ भारत अपनी सांस्कृतिक पहचान के लिए विशेष रूप से विश्वपटल पर जाना जाता है। इस लेख में ऐतिहासिक तथ्यों के माध्यम से इस सत्य सी प्रतीत मान्यता पर पड़ी परतों को हटाकर आप तक साड़ी की वास्तिविक उत्पत्ति कहाँ हुई इसकी जानकारी देने का प्रयास किया हैं।

    Aug 21, 2018
  • भारत की प्राचीन लिपियों की सूची

    भारत की सारी वर्तमान लिपियां (अरबी-फारसी लिपि को छोड़कर) ब्राह्मी से ही विकसित हुई हैं। इतना ही नहीं तिब्बती, सिंहली तथा दक्षिण-पूर्व एशिया के देशों की बहुत-सी लिपियां ब्राह्मी से ही जन्मी हैं। लिपि का शाब्दिक अर्थ होता है -लिखित या चित्रित करना। ध्वनियों को लिखने के लिए जिन चिह्नों का प्रयोग किया जाता है, वही लिपि कहलाती है। इस लेख में हमने भारत की प्राचीन लिपियों की सूची दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Aug 7, 2018
  • भारत के प्रसिद्ध पारंपरिक नाटक या लोकनाट्य की सूची

    भारत में विभिन्न सामाजिक और धार्मिक अवसरों के दौरान पर बृहद पारंपरिक नाटक या लोकनाट्य किया जाता है जिसको ग्रामीण या गांव का रंग-मंच बोला जाता है। यह पारंपरिक नाटक या लोकनाट्य भारत के सामाजिक और सांस्कृतिक दृष्टिकोण तथा धारणाओं को दर्शाता है। इस लेख में हमने भारत के प्रसिद्ध पारंपरिक नाटक या लोकनाट्य को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Aug 2, 2018
  • भारत में विदेशी पर्यटक सबसे ज्यादा कहां एकत्रित होते हैं?

    क्या आप जानतें हैं कि भारत के किस राज्य या जगह में विदेशी पर्यटक सबसे ज्यादा एकत्रित होते हैं और इसके अनुसार इन राज्यों को क्या रैंकिंग दी गई है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

    Aug 1, 2018
  • भारतीय राज्यों के प्रमुख कठपुतली परंपराओं की सूची

    भारतीय संस्कृति का प्रतिबिंब लोककलाओं में झलकता है। इन्हीं लोककलाओं में कठपुतली कला भी शामिल है। यह देश की सांस्कृतिक धरोहर होने के साथ-साथ प्रचार-प्रसार का सशक्त माध्यम भी हैं। कठपुतली कला इंसानों की सबसे उल्लेखनीय और सरल आविष्कारों में से एक है। इस कला का इतिहास बहुत पुराना है। इस लेख में हमने भारतीय राज्यों के प्रमुख कठपुतली परंपराओं की सूची दिया हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 31, 2018
  • भारत के महत्चपूर्ण प्रागैतिहासिक कालीन चित्रों वाले स्थलों की सूची

    पूरे विश्‍व में इस काल के अनेक चित्रावशेष मिलते हैं। भारत में प्राप्त चित्र अन्य देशों से प्राप्त चित्रों के समान महत्वपूर्ण है। प्रागैतिहासिक कला का पहला प्रमाण 1878 ई. में इटली और फ्रांस में मिला तथा भारत में भित्तिचित्र चित्रकला के महत्व पर 1880 ई. में आर्किबाल्ड कार्लेली और जॉन कॉकबर्न ने कैमर (मिर्जापुर) पहाड़ी पेंटिंग्स के आधार देश को अवगत कराया था। इस लेख में हमने भारत के महत्चपूर्ण प्रागैतिहासिक कालीन चित्रों वाले स्थलों की सूची दिया हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 27, 2018
  • उत्तर प्रदेश के लोकगीतो की सूची

    लोक संगीत किसी भी संस्कृति में आम जनता द्वारा पारंपरिक रूप से प्रचलित गीत-संगीत को बोला जाता है। उत्तर प्रदेश में लोक संगीत का खजाना है, जिसमें प्रत्येक जिले में अद्वितीय संगीत परंपराएं हैं। इस राज्य को हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के 'पुबैया अंग' के गढ़ के रूप में माना जाता है। इस लेख में हमने उत्तर प्रदेश के लोकगीतो की सूची दिया हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 26, 2018
  • भारतीय लोक चित्रकलाओं की सूची

    कला मानव की सौन्दर्य भावना का परिचायक होता है और यह मानव संस्कृति की उपज है। भारत एक प्राचीन सांस्कृतिक देश है। इसलिए यहाँ कला एवं संस्कृति में लोककला का अनूठा समन्वय दिखाई देता है। इस लेख में हमने भारतीय लोक चित्रकलाओं की सूची दिया हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 24, 2018
  • भारत की विभिन्न भाषाओं की पहली फिल्म

    भारतीय फिल्म के अन्तर्गत भारत के विभिन्न भागों और भाषाओं में बनने वाली फिल्में आती हैं जिनमें आंध्र प्रदेश और तेलंगाना, असम, बिहार, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, जम्मू एवं कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और बॉलीवुड शामिल हैं। इस लेख में हमने भारत की विभिन्न भाषाओं की पहली फिल्मो के बारे में बताया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 19, 2018
  • जाने शास्त्रीय भाषाओं के रूप में कौन कौन सी भारतीय भाषाओं को सूचीबद्ध किया गया है

    भारत की भाषायी विविधता की पहचान और सम्मान करते हुए संविधान की आठवीं अनुसूची में 22 भाषाओं को सम्मिलित किया गया है। कुछ भारतीय भाषाओं की प्राचीन साहित्यिक परंपरा का संरक्षण और संवर्द्धन करने के लिये केंद्र सरकार द्वारा उन्हें ‘शास्त्रीय भाषा’ का दर्जा प्रदान किया जाता है। इस लेख में हमने बताया है की भारत सरकार द्वारा कौन कौन सी भाषाओ को शास्त्रीय भाषाओं के रूप में सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 9, 2018
  • क्या आप जानते हैं मूर्तिकला और वास्तुकला में क्या अंतर है?

    हम अक्सर मूर्तिकला और वास्तुकला के शाब्दिक अर्थ समझे बिना दोनों को एक समझने की गलती कर देते हैं। असल में, दोनों अलग-अलग शब्द हैं। मूर्तिकला प्रोटो-इंडो-यूरोपीय (पीआईई) शब्द 'केल' से लिया गया है जिसका अर्थ होता है 'कट या क्लीव'। दूसरी ओर, शब्द वास्तुकला लैटिन शब्द 'टेकटन' से लिया गया है जिसका अर्थ होता है निर्माता (बिल्डर) । इस लेख में हमने मूर्तिकला और वास्तुकला में अंतर बताया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Jul 6, 2018