1. Home
  2. GENERAL KNOWLEDGE
  3. पर्यावरण और पारिस्थितिकीय
View in English

पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

  • COVID-19: भारत में लॉकडाउन से वायु की गुणवत्ता पर क्या प्रभाव पड़ा

    कोरोना संकट से लड़ने के लिए भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है, जिसके कारण स्थानीय कारक जैसे उद्योग और निर्माण और यातायात को बंद किया गया. इससे भारत को कोरोना से तो लड़ने में मदद मिल ही रही है साथ ही वायु की गुणवत्ता में भी सुधार देखने को मिला है. आइये इस लेख के माध्यम से देखते है कि भारत में किस राज्य में वायु की गुणवत्ता में कितना सुधार हुआ है.

    Apr 6, 2020
  • डूम्स डे क्लॉक क्या है?

    Doomsday Clock: डूम्स डे क्लॉक एक प्रतीकात्मक घडी है इसमें रात के 12 बजने के मतलब यह होगा कि अब दुनिया कभी भी ख़त्म हो सकती है. डूम्स डे क्लॉक में सबसे पहला समय 1947 में सेट किया गया था. यह समय रात के “12 बजने से 7 मिनट पहले” (अर्थात 11.53 PM) सेट किया गया था.

    Mar 2, 2020
  • स्मॉग टॉवर क्या होता है और यह कैसे काम करता है?

    वर्तमान परिपेक्ष्य में प्रदूषण पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है. भारत की राजधानी दुनिया में सबसे प्रदूषित शहरों में गिनी जाती है. लेकिन अब इस प्रदूषण की समस्या से निजात पाने के लिए स्मॉग टॉवर को लगाने की बात चल रही है.आइये इस लेख में जानते हैं कि स्मोग टावर क्या होता है और यह कैसे काम करता है?

    Dec 3, 2019
  • एयर क्वालिटी इंडेक्स क्या होता है और यह क्या बताता है?

    पर्यावरण प्रदूषण की समस्या विश्व के लिए नयी चुनौती बन चुकी है. दिल्ली में अक्टूबर और नवम्बर महीने में हर वर्ष प्रदूषण की स्थिति बिगड़ने लगती है. इस प्रदूषण की समस्या के माप के लिए भारत में राष्ट्रीय वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 17 सितंबर, 2014 को स्वच्छ भारत अभियान के तहत नई दिल्ली में शुरू किया गया था.

    Nov 6, 2019
  • सुनामी वार्निंग सिस्टम क्या होता है और यह कैसे काम करता है?

    सुनामी; भूकंप या पानी के नीचे ज्वालामुखी विस्फोट और पानी के नीचे भूस्खलन के कारण होने वाली विशाल लहरों की एक श्रृंखला होती है. सुनामी की पहचान के लिए डीप ओशेन ऐसेसमेंट एंड रिपोर्टिंग ऑफ़ सुनामी (DART) को पहली बार सन् 2000 के अगस्त महीने में शुरू किया गया था. डार्ट प्रणाली के माध्यम से जानकारी जुटाने के लिए बोटम प्रेशर रिकार्डर (बीपीआर) और समुद्री लहरों पर तैरती हुई एक डिवाइस को रखा जाता है. 

    Nov 5, 2019
  • बायो टॉयलेट किसे कहते हैं?

    भारत सरकार ने 2013 से हाथ से मैला उठाने की प्रथा को प्रतिबंधित कर दिया है. इसी कारण भारतीय रेलवे में भी मल से सम्बंधित सभी काम अब मशीन के द्वारा ही कराये जाने की प्रणाली को शुरू करने के लिए सरकार ने ट्रेन में बायो टॉयलेट्स या जैविक शैचालयों को लगाने के निश्चय किया है. बायो टॉयलेट (Bio Toilet), परम्परागत टॉयलेट से अलग एक ऐसा टॉयलेट होता है जिसमें बैक्टेरिया की मदद से मानव मल को पानी और गैस में बदल दिया जाता है.

    Oct 14, 2019
  • मौसम के रेड, ऑरेंज और येलो अलर्ट क्या होते हैं और कब जारी किये जाते हैं?

    बिहार में बाढ़ की हालत बिगड़ने के बाद मौसम विभाग ने वहां पर येलो अलर्ट जारी कर दिया है. मौसम विभाग, इस अलर्ट के अलावा अन्य अलर्ट जैसे रेड अलर्ट, ऑरेंज अलर्ट,  और ग्रीन अलर्ट को जारी करता है. चेतावनी देने के लिए रंगों का चुनाव कई एजेंसियों के साथ मिलकर किया जाता है. इन अलर्ट को मौसम के ख़राब होने की तीव्रता के आधार पर जारी किया जाता है. यानि भीषणता के माध्यम से रंग बदलते रहते हैं. क्या आप इन सभी अलर्ट का मतलब जानते हैं.? यदि नहीं तो आइये इस वीडियो के माध्यम से जानते हैं.

    Sep 30, 2019
  • विश्व ओजोन दिवस: मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल

    विश्व ओजोन दिवस (when world ozone) की शुरुआत 1987 में मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर करने साथ ही हुई थी. मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर 16 सितम्बर 1987 को हुए थे लेकिन 16 सितम्बर को विश्व ओजोन दिवस के रूप में मनाने कीई शुरुआत संयुक्त राष्ट्र जनरल असेंबली के द्वारा 1994-95 में की गयी थी. विश्व ओजोन दिवस 2019 की थीम है;'32 years and Healing'.

    Sep 16, 2019
  • जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान, बाघों का स्वर्गः तथ्य एक नजर में

    जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान भारत का सबसे पुराना राष्ट्रीय उद्यान है | इसकी स्थापना विलुप्तप्राय बंगाल टाइगरों की रक्षा के लिए 1936 में की गई थी। यह उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित है और इसका नाम इसकी स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले जिम कॉर्बेट के नाम पर रखा गया है। प्रोजेक्ट टाइगर पहल के तहत आने वाला यह पहला उद्यान था। इसका क्षेत्रफल 520.82 वर्ग मील है।

    May 3, 2019
  • अर्थ आवर (Earth Hour) क्या है और यह हमारे लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

    पिछले कुछ दिनों से समाचार-पत्रों, पत्रिकाओं, विभिन्न टीवी चैनलों और इंटरनेट पर अर्थ ऑवर (Earth Hour) की चर्चा चल रही हैl जिसके कारण हर किसी के मन में यह उत्सुकता हो सकती है कि अर्थ ऑवर (Earth Hour) क्या है और किस कारण से यह इतनी चर्चा में है? इस लेख में हम यही जानने की कोशिश कर रहे है कि आखिर यह अर्थ ऑवर (Earth Hour) क्या है और यह किस प्रकार हमारे लिए महत्वपूर्ण है?

    Mar 30, 2019
  • विश्व जल दिवस की महत्ता और जल के उपयोग से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

    आज पूरी दुनिया औद्योगीकरण की राह पर चल रही है, किंतु स्वच्छ और रोग रहित जल मिल पाना कठिन होता जा रहा हैl विश्व भर में साफ और पीने योग्य जल की अनुपलब्धता के कारण ही जल जनित रोग महामारी का रूप ले रहे हैंl कहीं-कहीं तो यह भी सुनने में आता है कि अगला विश्व युद्ध जल को लेकर ही होगाl विश्व के हर नागरिक को पानी की महत्ता से अवगत कराने के लिए ही संयुक्त राष्ट्र ने "विश्व जल दिवस" मनाने की शुरुआत की थी। इस लेख में हम विश्व जल दिवस की महत्ता और जल के उपयोग से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों का विवरण दे रहे हैंl

    Mar 22, 2019
  • विश्व के 10 सबसे बड़े समुद्री संरक्षित क्षेत्र

    IUCN के अनुसार, विश्व में लगभग 5000 से ज्यादा समुद्री संरक्षित क्षेत्र नामित हैं। यह विश्व के 10 सबसे बड़े समुद्री संरक्षित क्षेत्र हैं जिसमें वैश्विक समुद्री क्षेत्र के 74% संरक्षित और 80% वैश्विक आरक्षित क्षेत्र शामिल हैं। इस लेख में हमने विश्व के 10 सबसे बड़े समुद्री संरक्षित क्षेत्रों को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Mar 15, 2019
  • विकसित ऊर्जा दक्षता के लिए राष्ट्रीय मिशन क्या है?

    भारत विश्व का पांचवां ऐसा देश है जिसकी ऊर्जा दक्षता सबसे कम है जिसका अर्थ है कि भारत में जीडीपी ऊर्जा की खपत का अनुपात बहुत खराब है। इसलिए, भारत को ऊर्जावान देशों के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए, विकास और ऊर्जा दक्षता पर समझौता किए बिना जीवाश्म ईंधन के उपयोग को कम करने के लिए रणनीतिक योजना पर काम करना बेहद जरुरी है। इस लेख में हमने विकसित ऊर्जा दक्षता के लिए राष्ट्रीय मिशन की पहल और दक्षता पर चर्चा की है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Feb 27, 2019
  • जलवायु परिवर्तन के ज्ञान का रणनीतिक मंच क्या है?

    जलवायु परिवर्तन के ज्ञान का रणनीतिक मंच, जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना (एनएपीसीसी) के तहत आठ मिशनों में से एक है, जिसका उद्देश्य मौजूदा ज्ञान संस्थानों की नेटवर्किंग, क्षमता निर्माण और प्रमुख जलवायु प्रक्रियाओं तथा जलवायु जोखिमों की समझ में सुधार करना है। इस लेख में हमने जलवायु परिवर्तन के ज्ञान का रणनीतिक मंच के उद्देश्य और कार्यात्मक क्षत्रों पर चर्चा की है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Feb 26, 2019
  • हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र पोषणीय मिशन क्या है?

    जलवायु परिवर्तन के खतरों से निपटने के लिए 2008 में भारत सरकार द्वारा आठ मिशन वाली ‘राष्ट्रीय जलवायु परिवर्तन कार्ययोजना’ (NAPCC) प्रारंभ की गई थी। हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र पोषणीय मिशन जलवायु परिवर्तन की चुनौती से निपटने के लिए भारत के आठ मिशनों में से एक है।इस लेख में हमने राष्ट्रीय हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र पोषणीय मिशन या नेशनल मिशन फॉर सस्टेनिंग द हिमालयन इकोसिस्टम (NMSHE) कार्यात्मक क्षेत्र और के उद्देश्यों पर चर्चा की है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

    Feb 25, 2019

Just Now