Search
  1. Home
  2. भूगोल
View in English

भूगोल

  • विश्व के प्रमुख रेगिस्तानो की सूची

    रेगिस्तान पृथ्वी की शुष्क और अर्ध शुष्क भागों में पाया जाता है । वे मुख्य रूप से उप-उष्णकटिबंधीय उच्च दाब वाले क्षेत्र में पाए जाते हैं जहां हवा की कमी और तापमान में असमानता पाई जाती है। यहां हम परीक्षार्थियों के सामान्य जागरूकता के लिए विश्व के प्रमुख रेगिस्तान की सूची दे रहे हैं।

    Jul 19, 2017
  • विश्व के प्रमुख पर्वत श्रृंखलाओं की सूची

    पर्वत या पहाड़ पृथ्वी की भू-सतह पर प्राकृतिक रूप से ऊँचा उठा हुआ हिस्सा होता है, जो ज़्यादातर आकस्मिक तरीके से उभरा होता है और पहाड़ी से बड़ा होता है। पर्वत ज़्यादातर एक लगातार समूह में होते हैं। यहां हम परीक्षार्थियों, पर्वतारोही और यात्रियों की सामान्य जागरूकता के लिए दुनिया के प्रमुख पर्वत श्रृंखलाओं की सूची दे रहे हैं।

    Jul 19, 2017
  • विश्व के प्रमुख सक्रिय ज्वालामुखी की सूची

    ज्वालामुखी पृथ्वी पर स्थित वह स्थान है, जहाँ से पृथ्वी के बहुत नीचे स्थित पिघली चट्टान, जिसे मैग्मा कहा जाता है, पृथ्वी की सतह पर आता हैl मैग्मा ज़मीन पर आने के बाद लावा कहलाता हैl लावा ज्वालामुखी में मुख पर और उसके आस-पास के क्षेत्र में बिखर कर एक कोण का निर्माण करती हैl यहां, हम विश्व के प्रमुख सक्रिय ज्वालामुखी की सूची दे रहे हैं जिसका उपयोग शैक्षणिक उद्देश्यों के साथ-साथ प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की तैयारी के लिए भी किया जा सकता है।

    Jul 17, 2017
  • विश्व भूगोल से जुड़े सर्वोच्च वस्तु एवं स्थानों की सूची

    पृथ्वी ही केवल एक ऐसा ग्रह है जहां अनुकूल वातावरण और जीवमंडल के कारण जीवन मौजूद हैl इसका लगभग 70% भाग पानी से घिरा हुआ है और बाकी की सतह समुद्र तल से ऊपर की ओर उठे हुए हैं, जिसके कारण सात महाद्वीप और अनगिनत छोटे द्वीपों का निर्माण हुआ हैl यहां, हम सामान्य जागरूकता के लिए विश्व भूगोल से जुड़े सर्वोच्च वस्तु एवं स्थानों की सूची दे रहे हैंl

    Jul 14, 2017
  • भारत में रेलवे उत्पादन इकाइयों की सूची

    भारतीय रेलवे अपने सभी उपकरणों के निर्माण पूरी तरह से स्वतंत्र रूप से करता है और जिसकी आधारशिला 1921 में झारखंड के सिंहभूम जिले में 'प्रायद्वीपीय लोकोमोटिव कंपनी' नाम से की गयी थीl बाद में, इसे 'टाटा इंजीनियरिंग और लोकोमोटिव कंपनी (टेल्को)' के रूप में नामांकित कर दिया गया थाl इस लेख में हम भारत में रेलवे उत्पादन इकाइयों की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

    Jun 23, 2017
  • जैव विविधता संरक्षण पर सारांश

    जैव विविधता का आशय जीनो, जातियों एवं पारितंत्रो की समग्रता हैl जैव विविधता शब्द का प्रयोग पहली बार आर. एफ दसमान ने 1968 में किया थाl इसकी सामाजिक प्रासंगिकता इसलिए है क्योंकि नई फसलें हो या औषधियाँ, पेट्रोलियम स्थानापन्न तथा जैव नाशको एवं अन्य उत्पादों के रूप में संपत्ति के शक्तिशाली स्रोत का प्रतिनिधत्व करता हैl जैव विविधता के संरक्षण की आवश्यकता वाले मुख्य कारकों के बारे में इस लेख में चर्चा की गई हैl

    Jun 6, 2017
  • भारत के किस राज्य में गाय की कौन सी प्रजातियां पाई जाती हैं

    भारत की अर्थव्यवस्था मुख्यतः कृषि और पशुपालन पर आधारित है, जिसमें दूध उत्पादन की महत्वपूर्ण भूमिका है। भारत में लगभग 146.31 मिलियन टन दूध का वार्षिक उत्पादन होता है l यहां, हम भारत में पायी जाने वाली गायों की विभिन्न प्रजातियो की सूची दे रहे हैंl

    Jun 5, 2017
  • दुनिया के 15 अद्भुत प्राकृतिक चमत्कार

    हमारी सांस्कृतिक और प्राकृतिक विरासत दोनों जीवन और प्रेरणा का अदम्य स्रोत है। यूनेस्को द्वारा जारी किए गए दुनिया के 7 आश्चर्यों की सूची में केवल मानव की रचनात्मक प्रतिभा से निर्मित कलाकृतियों को शामिल किया गया है, लेकिन इस लेख के माध्यम से, हम प्रकृति की उन उलझनों का विवरण दे रहे हैं जिसे किसी भी इंसान द्वारा नहीं कल्पना की जा सकती है।

    May 23, 2017
  • कैसे मानसून-पूर्व वर्षा भारत के किसानो तथा बाजारों के लिए वरदान है

    भारत की जलवायु का सामान्यकरण करना बहुत ही मुस्किल है क्योंकि इसकी विविध भौगोलिक स्तर तथा मौसम विस्तृत श्रृंखला अपने आप में अतुलनीय हैl इसकी उष्णकटिबंधीय मानसून जलवायु की वजह से मानसून का जल प्रवाह होना प्राकृतिक है| मानसून पूर्व वर्षा को अप्रैल बारिश या ग्रीष्मकालीन बारिश के रूप में भी जाना जाता है, जिसका आगमन बंगाल की खाड़ी के ऊपर आंधी की वजह से होता हैl आइये जानते हैं मानसून पूर्व वर्षा कैसे भारतीय बाजार की शान को बढ़ाता हैl

    May 23, 2017
  • भारत के 9 ऐसे क्षेत्र जो अलग राज्य की मांग कर रहे हैं

    भारत में समय-समय पर नए राज्यों के निर्माण की मांग उठती रहती हैl यह मांग किसी क्षेत्र विशेष में हावी कुछ स्वायत संगठनो और किसी क्षेत्र विशेष में प्रभावी विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा उठाई जाती रही हैl भारत में नए राज्यों और क्षेत्रों के गठन का अधिकार केवल भारत के राष्ट्रपति के हाथों में हैंl राष्ट्रपति नए राज्यों की घोषणा कर किसी मौजूदा राज्य से किसी क्षेत्र विशेष को अलग कर सकते हैं या दो या दो से अधिक राज्यों या इसके कुछ हिस्सों को आपस में विलय कर सकते हैं। इस लेख में हम भारत के उन क्षेत्रों का विवरण दे रहे हैं, जहाँ वर्तमान समय में अलग राज्य के लिए मुहीम चलाए जा रहे हैंl

    Mar 9, 2017
  • दुनिया के 11 ऐसे देश जिनके पास अपनी सेना नही है

    आज जब पूरी दुनिया के देशों में ज्यादा से ज्यादा बड़ी सेना और खतरनाक हथियारों की होड़ लगी हुई है ऐसे माहौल में आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि दुनिया में ऐसे कई देश हैं जिनके पास अपनी खुद की सेना नही है और वे अपनी बाह्य सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर हैं| वेटिकन सिटी, मॉरीशस, पनामा और कोस्टारिका कुछ ऐसे देश हैं जिनके पास अपनी सेना नही है|

    Feb 28, 2017
  • इसरो द्वारा एक साथ 104 उपग्रहों को प्रक्षेपित कर रिकॉर्ड बनाने की तैयारी

    अब तक इसरो द्वारा एक बार में अधिकतम 20 उपग्रहों का प्रक्षेपण किया गया है| यह प्रक्षेपण 22 जून, 2016 को “ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान” PSLV-C34 के द्वारा किया गया था| लेकिन अब इसरो 15 फरवरी 2017 को एकसाथ 104 उपग्रहों को प्रक्षेपित कर इतिहास रचने जा रहा है| यह प्रक्षेपण आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केन्द्र से “ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV)” के द्वारा किया जाएगा| इस लेख में हम इसरो द्वारा प्रक्षेपित किए जाने वाले विभिन्न उपग्रहों का विवरण दे रहे हैं|

    Feb 14, 2017
  • क्या आप जानतें हैं कि 20 छोटे चांदों से मिलकर बना है अपना चांद

    सौर मंडल के अन्य ग्रहों की तुलना में, हमारा एकमात्र चमकता हुआ ग्रह चंद्र है। चांद की उत्पत्ति हमेशा से ही रहस्यों से भरी रही है | वैज्ञानिक कई समय से लगातार इससे जुड़े रहस्यों का पता लगा रहें है और इसी क्रम मे इसरायल के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि मौजूदा चांद की उत्पत्ति 20 छोटे चांदों से हुई है | इस आर्टिकल में हम कुछ इन तथ्यों पर नज़र डालेंगे |

    Jan 12, 2017
  • मुख्य अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखाएं

    प्रत्येक देश अपने देश की सीमा की रक्षा करने के लिए एक निश्चित सीमा का निर्धारण करता है | इस सीमा को पार करना देश की सीमा में घुसपैठ माना जाता है | इन सीमाओं के निर्धारण का एक फायदा यह भी है कि देशों को यह बात पता होती है कि उन्हें कहां तक अपने राज्य की सीमा का विस्तार करना है | कुछ प्रमुख सीमाओं का वर्णन इस लेख में किया गया है |

    Sep 20, 2016
  • कावेरी जल विवाद: जाने कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच की लड़ाई की मुख्य वजह

    कर्नाटक में हाल की हिंसक घटनाओं ने 124 साल पुराने कावेरी जल विवाद को पुनः सुर्खियों में ला दिया है। इस समस्या को हल करने के कई प्रयासों के बावजूद, जब भी कावेरी नदी के जल के बंटवारे की बात आती है तो कर्नाटक और तमिलनाडु आपस में भिड़ जाते हैं| यहाँ हम कावेरी जल विवाद और इसके ऐतिहासिक परिदृश्य का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत कर रहे हैं|

    Sep 14, 2016