Search
  1. Home
  2. भारत दर्शन
  3. राष्ट्रीय प्रतीक | सम्मान
View in English

राष्ट्रीय प्रतीक | सम्मान

  • भारत का राष्ट्रीय ध्वजः तथ्यों पर एक नजर

    ध्वज, किसी भी देश की आज़ादी और संप्रभुता का प्रतीक होता हैं | भारत बहुजनो का देश है जैसे हिन्दू, मुस्लिम, ईसाई यहूदी, पारसी, और अन्य जाति और जनजाति जिनको ये राष्ट्रीय ध्वज एक सूत्रों में बांधने का काम करता है | भारत का राष्ट्रिय ध्वज भारत के लोगो के साथ-साथ स्वतंत्रता के लिए भारत के लंबे संघर्ष का भी प्रतिनिधित्व करता है| प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने कहा था "एक ध्वज/ झंडा न सिर्फ हमारी स्वतंत्रता बल्कि सभी लोगों की स्वतंत्रता का प्रतीक है।" भारतीय राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पिंगली वेंकय्या द्वारा डिजाइन किया गया था जिसको भारत की संविधान सभा ने 22 जुलाई,1947 को अपनाया था।

    Aug 13, 2018
  • कार की नंबर प्लेट पर अशोक चिन्ह का उपयोग कौन कर सकता है?

    भारत का राज्य चिन्ह (अनुचित प्रयोग प्रतिषेध) अधिनियम, 2007 की अनुसूची 2 के नियम 7 के अनुसार केवल कुछ सांविधिक प्राधिकारियों और अन्य उच्चाधिकारियों को ही यह अधिकार होगा कि वे अपनी कारों पर अशोक का चिन्ह या EMBLEM इस्तेमाल कर सकते हैं. इस लेख में आप जानेंगे कि कौन कौन से लोग इस चिन्ह का इस्तेमाल कर सकते हैं.

    Jul 13, 2018
  • क्या आप भारतीय झंडा संहिता,2002 के बारे में जानते हैं?

    भारतीय राष्ट्रीय ध्वज का प्रदर्शन; प्रतीक और नाम (अनुचित प्रयोग का निवारण) अधिनियम, 1950 और राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम,1971 उपबंधों के अनुसार नियंत्रित होता है. भारतीय ध्वज संहिता, 2002 में इन सभी नियमों, रिवाजों, औपचारिकताओं और निर्देशों को एक साथ लाने के प्रयास किया गया है. इस लेख में हमने भारतीय ध्वज संहिता, 2002 में वर्णित मुख्य नियमों, रिवाजों, औपचारिकताओं और निर्देशों को बताया है.

    May 3, 2018
  • कौन से गणमान्य व्यक्तियों को वाहन पर भारतीय तिरंगा फहराने की अनुमति है?

    आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि भारत के हर व्यक्ति को अपनी कार पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अनुमति नही है. हमारे देश में केवल कुछ गणमान्य व्यक्तियों को ही ऐसा करने की अनुमति है. भारतीय ध्वज संहिता, 2002 ने उन गणमान्य व्यक्तियों का नाम सूचीबद्ध किया है जो कि अपनी कारों पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा सकते हैं. इस लेख में सभी गणमान्य व्यक्तियों के नामों की सूची दी गयी है.

    Apr 10, 2018
  • 26 जनवरी की परेड से संबंधित 13 रोचक तथ्य

    हर साल आप 26 जनवरी के अवसर पर राजपथ पर आयोजित परेड को दूरदर्शन के माध्यम से देखते हैं| लेकिन क्या आपको पता है कि 26 जनवरी की परेड के आयोजन की जम्मेवारी किसकी है एवं इसके आयोजन में कितना खर्च होता है? इस लेख में हम 26 जनवरी की परेड से जुड़े 13 रोचक तथ्यों का विवरण दे रहें हैं|

    Jan 25, 2018
  • ज्ञानपीठ सम्मान: भारत का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान

    ज्ञानपीठ सम्मान भारत का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान है, जिसकी शुरुआत भारतीय ज्ञानपीठ के संस्थापक साहू शांतिप्रसाद जैन की पचासवीं वर्षगाँठ पर 22 मई,1961 को की गयी थी| प्रथम ज्ञानपीठ सम्मान वर्ष 1965 में जी. शंकर कुरूप को प्रदान किया गया | वर्ष 2015 के लिए ज्ञानपीठ सम्मान रघुवीर चौधरी को प्रदान किया गया है|

    Nov 6, 2017
  • राष्ट्रीय ध्वज को किन परिस्थितियों में आधा झुकाया जाता है

    भारत सरकार ने मार्शल ऑफ इंडियन एयर फोर्स अर्जन सिंह के निधन पर सोमवार 18 सितम्बर, 2017 को राजकीय शोक की घोषणा की थी और पूरे दिन दिल्ली के सभी सरकारी भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहा. लेकिन क्या आप जानते हैं कि किन-किन परिस्थितियों में राष्ट्रीय धवज को आधा झुकाया जाता है. यदि आप इस प्रश्न के उत्तर से अनभिज्ञ हैं तो इस लेख को पढ़कर अवश्य जान जाएंगे कि किन-किन परिस्थितियों में राष्ट्रीय ध्वज को आधा झुकाया जाता है.

    Sep 19, 2017
  • अशोक चक्र की 24 तीलियां क्या दर्शातीं हैं?

    सम्राट अशोक के बहुत से शिलालेखों पर प्रायः एक चक्र (पहिया) बना हुआ है इसे अशोक चक्र कहते हैं. यह चक्र "धर्मचक्र" का प्रतीक है. भारत के राष्ट्रीय ध्वज में अशोक चक्र को स्थान दिया गया है. अशोक चक्र में 24 तीलियाँ होती हैं जिनमे हर एक तीली का एक विशेष मतलब होता है. इस लेख में इन 24 तीलियों के अर्थ को समझाया गया है.

    Aug 11, 2017
  • जानें भारत का गलत नक्शा दिखाने पर कितनी सजा और जुर्माना लगेगा

    भारत के नक़्शे के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं को देखते हुए सरकार “भू-स्थानिक सूचना बिल 2016” लाने का विचार कर रही है. इस बिल के अनुसार, भारत की किसी भी भू-स्थानिक जानकारी को प्राप्त करने, प्रसार, प्रकाशन या वितरण करने से पहले सरकारी प्राधिकरण से अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है. यदि कोई भारत के नक़्शे का गलत प्रसार, प्रकाशन या वितरण करता है तो उस पर 100 करोड़ रुपये का जुर्माना या 7 साल की कैद हो सकती है.

    May 23, 2017
  • जानें प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड्स के ब्रीफ़केस में क्या होता है

    प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी एसपीजी (विशेष सुरक्षा दल) 'स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप' नाम की संस्था के पास होती है। क्या अपने कभी ध्यान दिया है कि इन बॉडीगार्ड्स के हाथ में ब्रीफ़केस या सूटकेस भी होता है| लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि इस ब्रीफ़केस मे आखिर क्या रहता है? आइये देखते है कि आखिर इन ब्रीफ़केस मे होता क्या है |

    Feb 1, 2017
  • रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को जीतने वाले भारतीय

    रैमन मैग्सेसे पुरस्कार की स्थापना अप्रैल 1957 में हुई थी। यह पुरस्कार फिलीपींस के दिवंगत राष्ट्पति रैमन मैग्सेसे की याद में दिया जाता है। रैमन मैग्सेसे पुरस्कार एशिया का प्रमुख और सर्वोच्च सम्मान है। यह पुरस्कार फिलीपींस के मनीला शहर में फिलीपींस के राष्ट्रपति के जन्म दिवस, 31 अगस्त पर, दिया जाता है।

    Jul 25, 2016
  • भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोरः तथ्यों पर एक नजर

    आमतौर पर ज्यादातर लोग "मोर" शब्द का प्रयोग नर और मादा दोनों ही पक्षियों के लिए करते हैं लेकिन मोर वास्तव में ‘नर मोर’ होता है। मोर, तीतर परिवार का होता है। ये पक्षी मूल रूप से एशिया के निवासी हैं। मोर की दो प्रजातियां हैं– भारतीय मोर और हरा मोर (Green Peafowl)। आवास के खत्म होने, तस्करी और शिकार के कारण दोनों ही प्रकार की प्रजातियां लुप्तप्राय प्रजातियों (endangered species) की सूची में रखी गईं हैं। मोर, भारत का राष्ट्रीय पक्षी है।

    Jul 8, 2016
  • साहित्य अकादमी पुरस्कार: तथ्यों पर एक नजर

    भारत सरकार द्वारा साहित्य अकादमी की औपचारिक शुरूआत 12 मार्च 1954 को की गयी थी। भारत सरकार ने एक प्रस्ताव के तहत इस अकादमी की स्थापना की थी। यह ऐसी संस्था है, जोकि भारत की 24 भाषाओं में साहित्यिक क्रिया-कलापों का पोषण करती है। अकादमी एक स्वायत्त संस्था के रूप में कार्य करती है। सन 2016 का साहित्य अकादमी पुरस्कार हिंदी लेखिका "नासिरा शर्मा" को उनके उपन्यास 'पारिजात’ के लिए दिया गया है|

    Jul 5, 2016
  • भारत का राष्ट्रीय प्रतीकः मुख्य तथ्य एक नजर में

    राष्ट्रीय प्रतीक को अशोक की राजधानी सारनाथ के सिंह स्तंभ से लिया गया है। वास्तव में स्तंभ पर चार सिंह हैं, जो एक दूसरे की तरफ पीठ किए खड़े हैं। इसका गोलाकार कंठ चक्र से चार भागों में बंटा है। इसमें क्रमशः हाथी, घोड़ा, बैल और सिंह की सजीव प्रतिकृतियां उकेरी गई हैं। पॉलिश किए गए बलुआ पत्थर के एक बड़े टुकड़े पर इस प्रतीक को उकेरा गया है I

    Jun 30, 2016
  • पद्म पुरस्कार: भारत के नागरिक सम्मान

    पद्म पुरस्कार भारत के नागरिक सम्मान है, जिन्हें तीन अर्थात पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री श्रेणियों में प्रदान किया जाता है। पद्म विभूषण असाधारण और उत्कृष्ट सेवाओं के लिए दिया जाता है । पद्म भूषण उच्च श्रेणी की उत्कृष्ट सेवाओं तथा पद्मश्री किसी क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए प्रदान किया जाता है । इन पुरस्कारों की घोषणा प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है।

    Mar 22, 2016
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK