Search
  1. Home |
  2. भारत दर्शन |
  3. राष्ट्रीय प्रतीक | सम्मान

राष्ट्रीय प्रतीक | सम्मान

Also Read in : English

भारत का राष्ट्रीय ध्वजः तथ्यों पर एक नजर

Aug 13, 2018
ध्वज, किसी भी देश की आज़ादी और संप्रभुता का प्रतीक होता हैं | भारत बहुजनो का देश है जैसे हिन्दू, मुस्लिम, ईसाई यहूदी, पारसी, और अन्य जाति और जनजाति जिनको ये राष्ट्रीय ध्वज एक सूत्रों में बांधने का काम करता है | भारत का राष्ट्रिय ध्वज भारत के लोगो के साथ-साथ स्वतंत्रता के लिए भारत के लंबे संघर्ष का भी प्रतिनिधित्व करता है| प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने कहा था "एक ध्वज/ झंडा न सिर्फ हमारी स्वतंत्रता बल्कि सभी लोगों की स्वतंत्रता का प्रतीक है।" भारतीय राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पिंगली वेंकय्या द्वारा डिजाइन किया गया था जिसको भारत की संविधान सभा ने 22 जुलाई,1947 को अपनाया था।

Latest Videos

कार की नंबर प्लेट पर अशोक चिन्ह का उपयोग कौन कर सकता है?

Jul 13, 2018
भारत का राज्य चिन्ह (अनुचित प्रयोग प्रतिषेध) अधिनियम, 2007 की अनुसूची 2 के नियम 7 के अनुसार केवल कुछ सांविधिक प्राधिकारियों और अन्य उच्चाधिकारियों को ही यह अधिकार होगा कि वे अपनी कारों पर अशोक का चिन्ह या EMBLEM इस्तेमाल कर सकते हैं. इस लेख में आप जानेंगे कि कौन कौन से लोग इस चिन्ह का इस्तेमाल कर सकते हैं.

क्या आप भारतीय झंडा संहिता,2002 के बारे में जानते हैं?

May 3, 2018
भारतीय राष्ट्रीय ध्वज का प्रदर्शन; प्रतीक और नाम (अनुचित प्रयोग का निवारण) अधिनियम, 1950 और राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम,1971 उपबंधों के अनुसार नियंत्रित होता है. भारतीय ध्वज संहिता, 2002 में इन सभी नियमों, रिवाजों, औपचारिकताओं और निर्देशों को एक साथ लाने के प्रयास किया गया है. इस लेख में हमने भारतीय ध्वज संहिता, 2002 में वर्णित मुख्य नियमों, रिवाजों, औपचारिकताओं और निर्देशों को बताया है.

कौन से गणमान्य व्यक्तियों को वाहन पर भारतीय तिरंगा फहराने की अनुमति है?

Apr 10, 2018
आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि भारत के हर व्यक्ति को अपनी कार पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अनुमति नही है. हमारे देश में केवल कुछ गणमान्य व्यक्तियों को ही ऐसा करने की अनुमति है. भारतीय ध्वज संहिता, 2002 ने उन गणमान्य व्यक्तियों का नाम सूचीबद्ध किया है जो कि अपनी कारों पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा सकते हैं. इस लेख में सभी गणमान्य व्यक्तियों के नामों की सूची दी गयी है.

26 जनवरी की परेड से संबंधित 13 रोचक तथ्य

Jan 25, 2018
हर साल आप 26 जनवरी के अवसर पर राजपथ पर आयोजित परेड को दूरदर्शन के माध्यम से देखते हैं| लेकिन क्या आपको पता है कि 26 जनवरी की परेड के आयोजन की जम्मेवारी किसकी है एवं इसके आयोजन में कितना खर्च होता है? इस लेख में हम 26 जनवरी की परेड से जुड़े 13 रोचक तथ्यों का विवरण दे रहें हैं|

ज्ञानपीठ सम्मान: भारत का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान

Nov 6, 2017
ज्ञानपीठ सम्मान भारत का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान है, जिसकी शुरुआत भारतीय ज्ञानपीठ के संस्थापक साहू शांतिप्रसाद जैन की पचासवीं वर्षगाँठ पर 22 मई,1961 को की गयी थी| प्रथम ज्ञानपीठ सम्मान वर्ष 1965 में जी. शंकर कुरूप को प्रदान किया गया | वर्ष 2015 के लिए ज्ञानपीठ सम्मान रघुवीर चौधरी को प्रदान किया गया है|

राष्ट्रीय ध्वज को किन परिस्थितियों में आधा झुकाया जाता है

Sep 19, 2017
भारत सरकार ने मार्शल ऑफ इंडियन एयर फोर्स अर्जन सिंह के निधन पर सोमवार 18 सितम्बर, 2017 को राजकीय शोक की घोषणा की थी और पूरे दिन दिल्ली के सभी सरकारी भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहा. लेकिन क्या आप जानते हैं कि किन-किन परिस्थितियों में राष्ट्रीय धवज को आधा झुकाया जाता है. यदि आप इस प्रश्न के उत्तर से अनभिज्ञ हैं तो इस लेख को पढ़कर अवश्य जान जाएंगे कि किन-किन परिस्थितियों में राष्ट्रीय ध्वज को आधा झुकाया जाता है.

अशोक चक्र की 24 तीलियां क्या दर्शातीं हैं?

Aug 11, 2017
सम्राट अशोक के बहुत से शिलालेखों पर प्रायः एक चक्र (पहिया) बना हुआ है इसे अशोक चक्र कहते हैं. यह चक्र "धर्मचक्र" का प्रतीक है. भारत के राष्ट्रीय ध्वज में अशोक चक्र को स्थान दिया गया है. अशोक चक्र में 24 तीलियाँ होती हैं जिनमे हर एक तीली का एक विशेष मतलब होता है. इस लेख में इन 24 तीलियों के अर्थ को समझाया गया है.

जानें भारत का गलत नक्शा दिखाने पर कितनी सजा और जुर्माना लगेगा

May 23, 2017
भारत के नक़्शे के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं को देखते हुए सरकार “भू-स्थानिक सूचना बिल 2016” लाने का विचार कर रही है. इस बिल के अनुसार, भारत की किसी भी भू-स्थानिक जानकारी को प्राप्त करने, प्रसार, प्रकाशन या वितरण करने से पहले सरकारी प्राधिकरण से अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है. यदि कोई भारत के नक़्शे का गलत प्रसार, प्रकाशन या वितरण करता है तो उस पर 100 करोड़ रुपये का जुर्माना या 7 साल की कैद हो सकती है.

जानें प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड्स के ब्रीफ़केस में क्या होता है

Feb 1, 2017
प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी एसपीजी (विशेष सुरक्षा दल) 'स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप' नाम की संस्था के पास होती है। क्या अपने कभी ध्यान दिया है कि इन बॉडीगार्ड्स के हाथ में ब्रीफ़केस या सूटकेस भी होता है| लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि इस ब्रीफ़केस मे आखिर क्या रहता है? आइये देखते है कि आखिर इन ब्रीफ़केस मे होता क्या है |

रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को जीतने वाले भारतीय

Jul 25, 2016
रैमन मैग्सेसे पुरस्कार की स्थापना अप्रैल 1957 में हुई थी। यह पुरस्कार फिलीपींस के दिवंगत राष्ट्पति रैमन मैग्सेसे की याद में दिया जाता है। रैमन मैग्सेसे पुरस्कार एशिया का प्रमुख और सर्वोच्च सम्मान है। यह पुरस्कार फिलीपींस के मनीला शहर में फिलीपींस के राष्ट्रपति के जन्म दिवस, 31 अगस्त पर, दिया जाता है।

भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोरः तथ्यों पर एक नजर

Jul 8, 2016
आमतौर पर ज्यादातर लोग "मोर" शब्द का प्रयोग नर और मादा दोनों ही पक्षियों के लिए करते हैं लेकिन मोर वास्तव में ‘नर मोर’ होता है। मोर, तीतर परिवार का होता है। ये पक्षी मूल रूप से एशिया के निवासी हैं। मोर की दो प्रजातियां हैं– भारतीय मोर और हरा मोर (Green Peafowl)। आवास के खत्म होने, तस्करी और शिकार के कारण दोनों ही प्रकार की प्रजातियां लुप्तप्राय प्रजातियों (endangered species) की सूची में रखी गईं हैं। मोर, भारत का राष्ट्रीय पक्षी है।

साहित्य अकादमी पुरस्कार: तथ्यों पर एक नजर

Jul 5, 2016
भारत सरकार द्वारा साहित्य अकादमी की औपचारिक शुरूआत 12 मार्च 1954 को की गयी थी। भारत सरकार ने एक प्रस्ताव के तहत इस अकादमी की स्थापना की थी। यह ऐसी संस्था है, जोकि भारत की 24 भाषाओं में साहित्यिक क्रिया-कलापों का पोषण करती है। अकादमी एक स्वायत्त संस्था के रूप में कार्य करती है। सन 2016 का साहित्य अकादमी पुरस्कार हिंदी लेखिका "नासिरा शर्मा" को उनके उपन्यास 'पारिजात’ के लिए दिया गया है|

भारत का राष्ट्रीय प्रतीकः मुख्य तथ्य एक नजर में

Jun 30, 2016
राष्ट्रीय प्रतीक को अशोक की राजधानी सारनाथ के सिंह स्तंभ से लिया गया है। वास्तव में स्तंभ पर चार सिंह हैं, जो एक दूसरे की तरफ पीठ किए खड़े हैं। इसका गोलाकार कंठ चक्र से चार भागों में बंटा है। इसमें क्रमशः हाथी, घोड़ा, बैल और सिंह की सजीव प्रतिकृतियां उकेरी गई हैं। पॉलिश किए गए बलुआ पत्थर के एक बड़े टुकड़े पर इस प्रतीक को उकेरा गया है I

पद्म पुरस्कार: भारत के नागरिक सम्मान

Mar 22, 2016
पद्म पुरस्कार भारत के नागरिक सम्मान है, जिन्हें तीन अर्थात पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री श्रेणियों में प्रदान किया जाता है। पद्म विभूषण असाधारण और उत्कृष्ट सेवाओं के लिए दिया जाता है । पद्म भूषण उच्च श्रेणी की उत्कृष्ट सेवाओं तथा पद्मश्री किसी क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए प्रदान किया जाता है । इन पुरस्कारों की घोषणा प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है।

‘जन गण मन’: भारत का राष्ट्र गान

Mar 18, 2016
भारत के राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ की रचना नोबेल पुरस्कार प्राप्त भारतीय कवि रवीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा मूलतः बांग्ला भाषा में 1911 ई. में की गयी थी| ‘जन गण मन’ के हिंदी संस्करण को भारतीय संविधान सभा द्वारा 24 जनवरी,1950 को राष्ट्रगान के रूप में स्वीकृति प्रदान की गयी| ‘जन गण मन’ को पहली बार 27 दिसंबर,1911 को कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था|

हाथी: भारत का राष्ट्रीय विरासत पशु

Mar 17, 2016
जैव वैज्ञानिक दृष्टि से हाथी एलिफ़ैंटिडी (Elephantidae) परिवार (Family) व प्रोबोसीडिया क्रम (Order) का जानवर है, जोकि पृथ्वी पर विचरण करने वाला सबसे विशालकाय स्तनधारी (Mammal) है। एशियाई हाथी (Elephas maximus) व अफ़्रीकी हाथी (Loxodonta africana) नाम की इसकी दो प्रजातियाँ पायी जाती हैं | अक्टूबर 2010 में हाथी को भारत का ‘राष्ट्रीय विरासत पशु’ घोषित किया गया है|

सरस्वती सम्मान : भारत का प्रतिष्ठित साहित्यिक सम्मान

Mar 14, 2016
भारत के प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कारों में शामिल सरस्वती सम्मान प्रतिवर्ष के. के. बिरला फ़ाउंडेशन द्वारा प्रदान किया जाता है | सरस्वती पुरस्कार का नाम विद्या की देवी ‘सरस्वती’ के नाम पर रखा गया है| सरस्वती पुरस्कार प्रदान करने की शुरुआत वर्ष 1991 में की गयी थी और पहला सरस्वती सम्मान हरिवंश राय बच्चन को प्रदान किया गया था |

बाघ: भारत का राष्ट्रीय पशु

Mar 11, 2016
पीले रंग और धारीदार लोमचर्म (Coat) वाला बाघ (पैंथेरा टिगरिस -लिन्नायस) भारत का राष्ट्रीय पशु है| वर्ष 1972 तक ‘शेर’ भारत का राष्ट्रीय पशु था, लेकिन शालीनता, दृढ़ता, फुर्ती और अपार शक्ति के कारण ‘बाघ’ को राष्ट्रीय पशु घोषित किया गया है। बाघ की आठ प्रजातियों में से भारत में पायी जाने वाली बाघ प्रजाति को 'रॉयल बंगाल टाइगर' के नाम से जाना जाता है।

भारत द्वारा प्रदान किए जाने वाले वीरता पदकों की सूची

Mar 11, 2016
भारत में ब्रिटिश सत्ता की समाप्ति के साथ ही ब्रिटिश सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले वीरता पदकों की पुरानी परंपरा भी समाप्त हो गयी | स्वतन्त्रता के बाद भारत में वीरता पदकों की नयी परंपरा प्रारम्भ की गयी, जिसके तहत परमवीर चक्र, महावीर चक्र,अशोक चक्र, शौर्य चक्र जैसे पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं | परमवीर चक्र युद्धकाल के दौरान सैन्यकर्मियों द्वारा प्रदर्शित अद्भुत वीरता के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च वीरता पदक है |

12 Next   

LibraryLibrary