Search
  1. Home |
  2. भारत दर्शन |
  3. राष्ट्रीय संगठन

राष्ट्रीय संगठन

Also Read in : English

सरकार UGC की जगह “उच्च शिक्षा आयोग” क्यों बनाना चाहती है?

Jun 29, 2018
केंद्र सरकार; यूजीसी अधिनियम, 1956 को निरस्त करके उसके स्थान पर 'भारत के उच्च शिक्षा आयोग, 2018 बिल संसद के मानसून सत्र में लाने पर विचार कर रही है. सरकार के इस कदम से फर्जी व खराब गुणवत्ता वाले संस्थानों को बंद करने का रास्ता साफ होगा. उच्च शिक्षा आयोग का आदेश नहीं मानने वाले संस्थान के खिलाफ जुर्माना और भारतीय दंड संहिता के हिसाब से 3 साल तक की सजा दिलाने का प्रावधान होगा.

Latest Videos

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थानः शिक्षण, शोध और मरीजों की देखभाल का संस्थान

Jul 8, 2016
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) उच्च शिक्षा के स्वायत्त सार्वजनिक चिकित्सा महाविद्यालयों का समूह है। इन संस्थानों को संसद के अधिनियम द्वारा राष्ट्रीय महत्व का संस्थान घोषित किया गया है। एम्स, नई दिल्ली प्रमुख उत्कृष्ट संस्थान है। इसकी स्थापना 1956 में हुई थी। देश में फिलहाल 7 एम्स काम कर रहे हैं और आगामी वर्षों में 7 और एम्स बनाया जाना प्रस्तावित है।

योजना आयोग की जगह नीति आयोग क्यों बना ?

Jun 30, 2016
स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किए गए एक महत्वपूर्ण घोषणा के द्वारा, केंद्र सरकार ने 1 जनवरी 2015 को योजना आयोग की जगह नीति आयोग (बदलते भारत के लिए राष्ट्रीय संस्थान) की स्थापना की। नीति आयोग का चेयरमैन भी योजना आयोग की तरह ही प्रधानमंत्री होगा I अरविंद पनगढ़िया को इसका पहला वाईस चेयरमैन बनाया गया है I

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) देश की मौद्रिक व्यवस्था का प्रबंध कैसे करती है?

Jun 30, 2016
भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना 1 अप्रैल 1935 को भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम,1934 के प्रावधानों के अनुसार की गई थी। रिजर्व बैंक का केंद्रीय कार्यालय शुरुआत में कलकत्ता में खोला गया था लेकिन 1937 में इसे स्थायी रूप से बॉम्बे ले जाया गया। आरबीआई देश की सर्वोच्च मौद्रिक प्राधिकरण है, इसलिए आर. बी. आई. पूरी अर्थव्यवस्था में मुद्रा की आपूर्ति का निर्णय करती है।

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) भारतीय पूंजी बाजार को कैसे नियंत्रित करता है?

Jun 30, 2016
भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी), का गठन आरंभ में प्रतिभूति बाजार के विकास एवं विनिमय और निवेशकों के संरक्षण से संबंधित सभी मामलों पर गौर करने और इन मामलों पर सरकार को परामर्श देने के लिए सरकार के प्रस्ताव के माध्यम से 12 अप्रैल 1988 को गैर अंशदायी निकाय के तौर पर किया गया था।

वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद की उपलब्धियां, भाग ख

Jun 29, 2016
वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर)– भारत का प्रमुख औद्योगिक अनुसंधान एवं विकास संगठन का गठन तत्कालीन केंद्रीय विधानसभा के संकल्प द्वारा 1942 में किया गया था। यह सोसायटीज पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत पंजीकृत स्वायत्त निकाय है। सीएसआईआर का उद्देश्य सामरिक क्षेत्र के लिए औद्योगिक प्रतिस्पर्धा, समाज कल्याण, मजबूत विज्ञान एवं तकनीक आधार प्रदान करना एवं मूल ज्ञान की उन्नति करना है।

वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद की उपलब्धियां, (भाग क)

Jun 29, 2016
वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) वर्ष 1942 में अस्तित्व में आया था । यह मुख्य रूप से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित है। यह एक स्वायत्त निकाय के तौर पर संचालित होता है और सोसायटीज अधिनियम पंजीकरण 1860 के तहत पंजीकृत है। सीएसआईआर के अनुसंधान एवं विकास गतिविधियों में एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग, समुद्र विज्ञान, जीवन विज्ञान, धातु विज्ञान, रसायन, खनन, खाद्य, पेट्रोलियम, चमड़ा और पर्यावरण शामिल है।

भारत के परमाणु अनुसंधान में भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (बीएआरसी– बार्क) की भूमिका

Jun 27, 2016
भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (बार्क) ट्रॉम्बे, मुबंई, महाराष्ट्र में स्थित भारत का प्रमुख परमाणु अनुसंधान सुविधा केंद्र है। बार्क बहुविषयक अनुसंधान केंद्र है। इसमें परमाणु वित्रान, इंजीनियरिंग और उससे संबंधित क्षेत्रों के पूरे स्पेक्ट्रम को कवर करने हेतु उन्नत अनुसंधान और विकास के लिए व्यापक बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध हैं। "राष्ट्र की सेवा में परमाणु" की भावना के साथ इसकी स्थापना 3 जनवरी 1954 को हुई थी।

राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्रः महामारी विज्ञान एवं संक्रामक रोगों का नियंत्रण

Jun 27, 2016
राष्ट्रीय संक्रामक रोग संस्थान (National Institute of Communicable Diseases (NICD)) नई दिल्ली में है। अब इसका नाम बदल कर राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र कर दिया गया है। इसकी स्थापना भारत सरकार ने भारतीय मलेरिया संस्थान (एमआईआई) की गतिविधियों के विस्तार एवं पुनर्व्यवस्थित करने के लिए 30 जुलाई 1963 को की थी। यह संस्थान भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है।

राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्रः महामारी विज्ञान एवं संक्रामक रोगों का नियंत्रण

Jun 25, 2016
राष्ट्रीय संक्रामक रोग संस्थान (National Institute of Communicable Diseases (NICD)) नई दिल्ली में है। अब इसका नाम बदल कर राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र कर दिया गया है। इसकी स्थापना भारत सरकार ने भारतीय मलेरिया संस्थान (एमआईआई) की गतिविधियों के विस्तार एवं पुनर्व्यवस्थित करने के लिए 30 जुलाई 1963 को की थी। यह संस्थान भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है।

भारत में चिकित्सा शिक्षा प्रणाली के विकास में भारतीय चिकित्सा परिषद की क्या भूमिका है?

Mar 4, 2016
भारतीय चिकित्सा परिषद की स्थापना भारतीय चिकित्सा परिषद अधिनियम, 1933 के तहत वर्ष 1934 में की गयी थी | बाद में वर्ष 1956 में इसकी जगह एक नए अधिनियम को पारित किया गया | इस अधिनियम को भी पुनः वर्ष 1964, 1993 और 2001 में संशोधित किया जा चुका है | इसकी स्थापना का मुख्य उद्देश्य भारत में उच्चस्तरीय चिकित्सा शिक्षा और चिकित्सा संस्थानों के लिए एकसमान मानक तय करने और डॉक्टरों का स्थायी या अस्थायी पंजीकरण था |
LibraryLibrary