Search
  1. Home
  2. विज्ञान
View in English

विज्ञान

  • मानव नेत्र और उसके दोष

    मानव आँख, पारदर्शी जीवित पदार्थ से बने एक प्राकृतिक उत्तल लेंस के माध्यम से प्रकाश के अपवर्तन पर काम करती है और हमें, हमारे आसपास की चीजों को देखने के लिए सक्षम बनाती है। इस आर्टिकल में हम देखेंगे कि कैसे आँख कार्य करती हैं, हमें रंग कैसे दीखते हैं, कैसे आँख के दोषों को दूर किया जाता है आदि|

    Jan 18, 2017
  • मानव परिसंचारण तंत्र / वाहिका तंत्र : संरचना, कार्य और तथ्य

    मनुष्यों और अन्य पशुओं का परिसंचारण तंत्र अंगों का वह तंत्र होता है जो शरीर के भीतर सामग्रियों के परिवहन का जिम्मेदार होता है| इसमें हृदय, धमनियां, नसें, केशिकाएं और रक्त होते हैं | हृदय रक्त को बाहर की तरफ धक्का देने वाले पंप के रूप में काम करता है| धमनियां, नसें और केशिकाएं नली या ट्यूब की तरह काम करती हैं जिनसे होकर रक्त प्रवाहित होता है| मनुष्य के शरीर में तीन प्रकार की रक्त वाहिकाएं होती हैं– धमनियां, नसें और केशिकाएं | अब हम परिसंचारण प्रणाली के सभी अंगों को विस्तार से समझेंगे |

    Jan 18, 2017
  • एसिड (अम्ल): संकल्पना, गुण और उपयोग

    एसिड पानी में घुलनशील यौगिक होता है| स्वाद में खट्टा और लिटमस पेपर को लाल रंग का करने एवं क्षार से प्रतिक्रिया कर लवण बनाने में सक्षम होता है और किसी पदार्थ के साथ पानी के घोल में मिलने पर हाइड्रोजन आयन मुक्त करता है| इसमें हम एसिड (अम्ल) की संकल्पना, गुण और उपयोग के बारें में अध्ययन करेंगें |

    Jan 17, 2017
  • पीएच (pH) स्केल की संकल्पना और महत्व

    1909 में जलीय घोल के एच+ आयन की सांद्रता बताने वाले डेनमार्क के बायोकेमिस्ट एस.पी.एल. सोरेनसन (S.P.L Sorenson) ने एक स्केल बनाया जिसे पीएच (pH) के रूप में जाना जाता है| किसी भी घोल का पीएच (pH) एक संख्या होता है जो उस घोल की अम्लता या क्षारता के बारे में बताता है| इस आर्टिकल में पीएच (pH) स्केल की संकल्पना और महत्व के बारे में बताया गया है |

    Jan 13, 2017
  • धातुः गुण और प्रतिक्रिया श्रृंखला

    धातु वैसेतत्व होते हैं जो इलेक्ट्रॉन खोते हैं और कैटाइअन (cation) देते हैं | आवर्त सारणी में, ये तत्व बाईं तरफ और बीच में रखे जाते हैं | इसके अलावा सबसे बाईं ओर रखे गए तत्व सर्वाधिक धात्विक गुणों वाले होते हैं | इस आर्टिकल में धातु के गुण और प्रतिक्रिया श्रृंखला के बारे में बताया गया है |

    Jan 13, 2017
  • क्या आप जानतें हैं कि 20 छोटे चांदों से मिलकर बना है अपना चांद

    सौर मंडल के अन्य ग्रहों की तुलना में, हमारा एकमात्र चमकता हुआ ग्रह चंद्र है। चांद की उत्पत्ति हमेशा से ही रहस्यों से भरी रही है | वैज्ञानिक कई समय से लगातार इससे जुड़े रहस्यों का पता लगा रहें है और इसी क्रम मे इसरायल के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि मौजूदा चांद की उत्पत्ति 20 छोटे चांदों से हुई है | इस आर्टिकल में हम कुछ इन तथ्यों पर नज़र डालेंगे |

    Jan 12, 2017
  • मेसेन्टरी: मानव शरीर का 79वां अंग

    मानव शरीर एक जटिल संगठन है जिसके विभिन्न अंगों एवं उसके कार्यप्रणाली के संबंध में समय-समय पर वैज्ञानिकों द्वारा नए-नए खोज होते रहे हैं| इन खोजों के द्वारा हमें नई-नई बिमारियों एवं उससे बचने के उपाय की जानकारी मिलती है| हाल ही में एक आयरिश वैज्ञानिक ने मानव पाचन तंत्र में एक नए अंग “मेसेन्टरी” की खोज की है| इस लेख में हम इस नए अंग एवं मानव पाचन तंत्र के अन्य अंगों का संक्षिप्त विवरण दे रहे हैं|

    Jan 5, 2017
  • भारत की 13 प्रमुख मिसाइलें, उनकी मारक क्षमता (Range) एवं विशेषताएं

    वैज्ञानिकों के कई वर्षों के अथक प्रयास के बाद आज भारत मिसाइल तकनीक के मामले में विश्व के अग्रणी देशों के साथ खड़ा है| आज भारत के पास ऐसी मारक क्षमता वाली मिसाइलें हैं जिससे दुश्मन देश थर्राते हैं| इस लेख में हम भारत के विभिन्न मिसाइलों और उनकी मारक क्षमता (Range) एवं विशेषताओं का विवरण दे रहे हैं|

    Jan 4, 2017
  • पिछले 10 सालों में विज्ञान के क्षेत्र में हुए महत्वपूर्ण आविष्कार

    पिछले एक दशक के भीतर विज्ञान के क्षेत्र में कई उल्लेखनीय आविष्कार किए गए हैं| इन आविष्कारों के कारण प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नए-नए उत्पादों का निर्माण किया गया है जिसके द्वारा मनुष्य के जीवन-शैली में लगातार बदलाव और सुधार हो रहा है| इस लेख में हम पिछले 10 वर्षों के दौरान विज्ञान के क्षेत्र में किए गए शीर्ष 9 आविष्कारों का विवरण दे रहे हैं|

    Jan 2, 2017
  • धातुओं के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य

    धातु वे तत्व हैं जो इलेक्ट्रॉन का त्याग कर धनायन का निर्माण करते हैं| चूंकि धातु इलेक्ट्रॉन का त्याग कर धनायन का निर्माण करते हैं, जिसके कारण इन्हें विद्युत धनात्मक तत्व के रूप में भी जाना जाता है| इस लेख में हम धातुओं से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों का विवरण दे रहे हैं जो विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी में काफी सहायक है|

    Dec 23, 2016
  • महत्वपूर्ण धातु एवं उनके अयस्कों की सूची

    धातु वे तत्व हैं जो आसानी से इलेक्ट्रॉन का त्याग करते हैं और जिनके पास धनायन या कैटायन होता है| इसके अलावा धातुओं में धात्विक बंधन भी पाए जाते हैं। इस लेख में हम धातु, उसके गुण और अयस्क का संक्षिप्त विवरण दे रहे हैं| इसके अलावा महत्वपूर्ण धातुओं और उनके अयस्कों (जिससे उन्हें प्राप्त किया जाता है) की सूची भी दे रहे हैं, जो विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए काफी उपयोगी है|

    Dec 23, 2016
  • महत्वपूर्ण मिश्रधातु और उनके उपयोग की सूची

    एक मिश्रधातु धातुओं या किसी अन्य तत्व का मिश्रण होता है। यह दो या दो से अधिक तत्वों का ठोस मिश्रण हो सकता है जिसमें से कम से कम एक तत्व मिश्रण होना चाहिए| इसके अलावा, द्रव अवस्था में मिश्रधातु समांगी होते हैं, लेकिन ठोस अवस्था में वे समांगी या विषमांगी दोनों हो सकते हैं| इस लेख में विभिन्न मिश्रधातु, उसके घटक एवं उपयोग की सूची दी गई है जो विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए काफी उपयोगी है|

    Dec 22, 2016
  • कार्य, शक्ति और ऊर्जा का संक्षिप्त विवरण

    कार्य का होना तब माना जाता है जब वस्तु पर बल लगाने से वस्तु में गति उत्पन्न होती है और कार्य करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है| हम जो भोजन करते हैं, उससे हमें ऊर्जा प्राप्त होती है और यदि कार्य मशीन द्वारा किया जाता है तब ऊर्जा की आपूर्ति ईंधन या बिजली द्वारा की जाती है| इस लेख में हम कार्य, शक्ति और ऊर्जा का संक्षिप्त विवरण दे रहे हैं जिसमें उनकी कार्यप्रणाली, सूत्रों और एक-दूसरे के बीच के संबंध का वर्णन किया गया है, जो विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए काफी उपयोगी है|

    Dec 16, 2016
  • जाने आवर्त सारणी में शामिल 4 नये तत्व कौन से हैं

    आवर्त सारणी को याद करने वाले विज्ञान के छात्रों की मशक्कत थोड़ी और बढ़ गई है, क्योंकि आवर्त सारणी में 4 नए तत्वों को शामिल किया गया है| इस लेख में हम आवर्त सारणी में शामिल किए गए इन 4 नए तत्वों का विवरण दे रहे हैं जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए काफी उपयोगी हैं|

    Dec 5, 2016
  • कीट विज्ञान क्या होता है?

    यह विज्ञान, जंतु विज्ञान या प्राणिविज्ञान का वह अंग है जिसके अंतर्गत कीटों अथवा षट्पादों का अध्ययन आता है। षट्पाद (षट्=छह, पाद=पैर) श्रेणी को ही कभी-कभी कीट की संज्ञा दी जाती हैं। जंतु जगत में 20 संघ है जिनमे आर्थोपोडा सबसे बड़ा है जिनका शरीर सिर, वृक्ष और उदर में विभक्त होता है | सामान्य तौर पर इस संघ के कीटों में तीन जोड़ा पैर और पंख पाये जाते हैं|

    Nov 28, 2016
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK