Search
  1. Home |
  2. विज्ञान

विज्ञान

Also Read in : English

बैलगाड़ी एवं साइकिल द्वारा रॉकेट ढ़ोने से लेकर इसरो का अबतक का सफरनामा

Feb 9, 2018
इसरो (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) का अब तक का सफर काबिल-ए-तारीफ है। एक समय ऐसा भी था जब संसाधनों की कमी की वजह से रॉकेटों को बैलगाड़ी से जाया गया था। इसके अलावा भारत के पहले रॉकेट के लांच के समय भारतीय वैज्ञानिक हर रोज तिरूवंतपूरम से बसों में आते थे और रेलवे स्टेशन से दोपहर का खाना खाते थे। साथ ही पहले रॉकेट के कुछ हिस्सों को साइकिल पर भी ले जाया गया था। इस लेख में हम इसरो के सफरनामा और उपलब्धियों का विस्तृत विवरण दे रहे हैं|

Latest Videos

कैसे पौधे पर्यावरण से कार्बन डाइऑक्साइड प्राप्त करते हैं?

Feb 7, 2018
सभी जीवों और पौधों को विभिन्न जीवन सम्बंधी प्रक्रियाओं को करने के लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है, जिसके लिए भोजन अनिवार्य है. प्रकाश संश्लेषण प्रक्रिया की मदद से पौधें अपना स्वयं भोजन तैयार करते हैं. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते है कि पौधें कैसे पर्यावरण से कार्बन डाइऑक्साइड लेते है ताकि प्रकाश संश्लेषण कर सके और अपना भोजन बना सकें.

जानें खर्राटे आने के पीछे क्या वैज्ञानिक कारण हैं?

Feb 6, 2018
खर्राटे लेना एक आम परेशानी है. अकसर हर घर में यह किसी न किसी को होती है. परन्तु क्या खर्राटे लेना एक बिमारी है या यह एक बीमारी बन सकती है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं कि खर्राटे क्या होते है, इसके आने के पीछे क्या वैज्ञानिक कारण हो सकते हैं, इसके क्या लक्षण है, कैसे खर्राटे लेना कम कर सकते है आदि.

रासायनिक अभिक्रियाएं कितने प्रकार की होती हैं

Feb 3, 2018
हमारे दैनिक जीवन में रासायनिक अभिक्रियाओं का उपयोग होता है जैसे कि भोजन का पाचन, दूध का दही बनना, फलों का पकना, आदि. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते है कि रसायनिक अभिक्रिया क्या होती है और उदाहरणों की मदद से यह कितने प्रकार की होती हैं.

जानें कान में पाए जाने वाले वैक्स के बारे में

Feb 2, 2018
कान से निकलने वाला वैक्स कुछ लोगों में गीला या सूखा पाया जाता है. क्या आप जानतें है कि ये वैक्स काफी उपयोगी होता है और कान को स्वास्थ्य रखने में मदद करता है. इस लेख में कान के वैक्स से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में अध्ययन करेंगे.

नेट न्यूट्रैलिटी किसे कहते हैं?

Jan 30, 2018
नेट न्यूट्रैलिटी का मतलब है कि इन्टरनेट पर हर यूजर के साथ समानता का व्यवहार किया जाये. अर्थात सभी यूजर्स को सोशल मीडिया, ईमेल, वॉइस कॉल, ऑनलाइन शॉपिंग और यूट्यूब वीडियो जैसी सुविधाओं का इस्तेमाल करने के लिए इन्टरनेट की एक समान स्पीड और एक्सेस उपलब्ध हो.

कोलाइडी विलयन (Colloidal Solution) क्या है?

Jan 29, 2018
कोलाइडी विलयन (Colloidal Solution) के कण निलंबन के कणों (Suspension particles) की अपेक्षा आकार में छोटे होने के कारण यह समांगी (Homogeneous) मिश्रण प्रतीत होते है, परंतु वास्तव में यह एक विषमांगी मिश्रण (Heterogeneous mixture) होते है. उदारण दूध, शेविंग क्रीम इत्यादि. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते है कि कोलाइडल विलयन क्या होते है, इनका कहा उपयोग होता है, टिनडल प्रभाव क्या होता है आदि.

इंटरनेट पर 1 मिनट में क्या-क्या होता है?

Jan 24, 2018
आज हम इन्टरनेट और सोशल मीडिया के युग में रह रहे हैं. दुनिया के कुल 7.47 बिलियन लोगों के बीच 4.9 बिलियन मोबाइल फोन हैं. इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि मोबाइल लोगों की जिंदगी का कितना अभिन्न अंग बन चुका है. आजकल एक मिनट में ऑनलाइन शॉपिंग पर $751522 खर्च कर दिया जाता हैं. यह लेख इंटरनेट पर एक मिनट में होने वाली ऐसी ही विभिन्न गतिविधियों के बारे में कुछ बहुत रोचक तथ्य बता रहा है.

पौधों में जल का परिवहन कैसे होता है?

Jan 23, 2018
पौधों को जीवित रहने के लिए पोषक तत्वों की जरुरत होती हैं. पानी या अन्य खनिन, मिट्टी से प्राप्त होते है और जड़ों के माध्यम से पानी पेड़ के सभी भागों में जाता है जिसकी मदद से पत्तियां अपना खाना बनाती है. आइये इस लेख के माध्यम से देखते है कि कैसे पौधें या पेड़ों में पानी का परिवहन होता है और कौन सा ऊतक इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.

जानें रोबोटिक मशीन का नौकरियों पर क्या प्रभाव होगा?

Jan 23, 2018
इसमें कोई संदेह नहीं है कि प्रौद्योगिकी ने उत्पादकता के स्तर को बढ़ाया है, जिसके परिणामस्वरूप हमारे जीवन में काफी सुधार हुआ है. लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि आने वाले दिनों में प्रौद्योगिकी का उपयोग अब तक मनुष्य द्वारा प्रतिपादित होने वाले कार्यों में किया जाएगा. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं की रोबोटिक मशीन के आने से नौकरियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा.

जानें लोहे में जंग कैसे लगता है?

Jan 19, 2018
जब लोहे से बने सामान नमी वाली हवा में ऑक्सीजन से प्रतिक्रिया करते हैं तो लोहे पर एक भूरे रंग की परत यानी आयरन ऑक्साइड (Iron oxide) की जम जाती है. यह भूरे रंग की परत लोहे का ऑक्सीजन के साथ प्रतिक्रिया के कारण आयरन ऑक्साइड बनने से होता है, जिसे धातु का संक्षारण कहते या लोहे में जंग लगना कहते है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं की लोहे में जंग कैसे लगता है और उसको जंग लगने से कैसे बचाया जा सकता है.

इसरो चेयरमैनों की सूची

Jan 19, 2018
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो), भारत सरकार की अंतरिक्ष एजेंसी है. अगस्त 15, 1969 में स्थापित इसरो का मुख्यालय बेंगलुरु (कर्नाटक) में स्थित है. सन 1963 से इसरो के 10 चेयरमैन नियुक्त किए जा चुके हैं. इसरो के मौजूदा चेयरमैन के. सिवान ने जनवरी 2018 में पद ग्रहण किया है. इसरो के पहले चेयरमैन डॉ. विक्रम साराभाई थे. इस लेख में इसरो के सभी चेयरमैन के नाम बताये जा रहे हैं.

जानें आयनिक यौगिक (Ionic Compound) कैसे बनते हैं?

Jan 18, 2018
आयनिक यौगिकों (Ionic compounds) को इलेक्ट्रोवैलेंट यौगिकों (electrovalent compounds) के रूप में भी जाना जाता है. एक परमाणु (Atom) के द्वारा दूसरे परमाणु पर इलेक्ट्रॉन के स्थानांतरण (Transfer of electron) के कारण बनने वाले रासायनिक बांड (Chemical bond) को आयनिक बांड (Ionic bond) कहते है. इन यौगिकों में आयन (ion) होते हैं. इस लेख के माध्यम से अध्ययन करेंगे कि आयनिक यौगिक क्या होते है, उदाहरण के साथ सीखेंगे की यह कैसे बनते है आदि.

महत्वपूर्ण हार्मोन और उनके कार्यों की सूची

Jan 18, 2018
हमारे शरीर में विभिन्न ग्रंथियां मौजूद हैं जो अलग-अलग प्रकार के हार्मोन को स्रावित करती हैं. ये हार्मोन विकास, प्रजनन, मेटाबोलिज्म आदि के लिए आवश्यक होते हैं. विभिन्न हार्मोन्स का शरीर के आकार पर अलग-अलग प्रभाव होता हैं. यह लेख महत्वपूर्ण हार्मोन्स और उनके कार्यों की सूची से संबंधित है.

बायो टॉयलेट किसे कहते हैं?

Jan 17, 2018
बायो टॉयलेट, परम्परागत टॉयलेट से अलग एक ऐसा टॉयलेट होता है जिसमें बैक्टेरिया की मदद से मानव मल को पानी और गैस में बदल दिया जाता है. इसमें पानी की बहुत ज्यादा बचत होती है और स्टेशन पर बहुत अधिक सफाई रहती है. इस लेख में बायो टॉयलेट का मतलब और उसकी कार्य करने की तकनीकी के बारे में बताया गया है.

जानें किस ब्लड ग्रुप के व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है

Jan 16, 2018
ब्लड ग्रुप होते हैं A, B, AB और O, जिन्हें A+, A- , B+, B- , AB+, AB-, O+ और O- समूहों में बांटा गया हैl परन्तु आप इस बात से वाकिफ नहीं होंगे कि ये ब्लड ग्रुप हमारे स्वभाव के बारे में भी बताते हैंl आइये इस लेख के जरिये हम जानने की कोशिश करते हैं और साथ ही यह भी जानकारी प्राप्त होगी कि किस ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को किस ब्लड ग्रुप का ब्लड चढ़ाया जा सकता है l

किस तकनीक के माध्यम से फिल्मों में वस्तु को छोटा या बड़ा दिखाया जाता है?

Jan 16, 2018
एक ऐसी तकनीक जिसके कारण कोई वस्तु छोटी, बड़ी, दूर या पास हो जाती है. यह एक प्रकार का ऑप्टिकल भ्रम पैदा करती है. इस तकनीक को फोर्स्ड पर्सपेक्टिव कहते है. आइये इस लेख के माध्यम से जानते है कि यह तकनीक क्या है, कैसे काम करती है, कहा-कहा इसका उपयोग किया जाता है आदि.

वैश्विक तापन/ग्लोबल वार्मिंग के कारण और संभावित परिणाम कौन से हैं?

Jan 15, 2018
वर्तमान में मानवीय गतिविधियों के कारण उत्पन्न ग्रीनहाउस गैसों के प्रभावस्वरूप पृथ्वी के दीर्घकालिक औसत तापमान में हुई वृद्धि को वैश्विक तापन/ग्लोबल वार्मिंग कहा जाता है | समुद्री जलस्तर में वृद्धि, ग्लेशियरों का पिघलना, वर्षा प्रतिरूप का बदलना, प्रवाल भित्तियों व प्लैंकटनों का विनाश आदि वैश्विक तापन के संभावित दुष्प्रभावों में शामिल हैं |

जानें ISRO भारतीय रेलवे को कैसे सुरक्षा प्रदान करेगा?

Jan 11, 2018
ISRO अपने इंडियन रीजनल नैविगेशन सैटेलाइट सिस्टम (IRNSS) या नेविगेशन सिस्टम नाविक (NaVIC) का उपयोग कर रहा है, जिससे भारतीय रेलवे और इसरो के बीच संयुक्त सहयोग की सहायता से रेलवे मानव रहित फाटकों पर हो रहीं दुर्घटनाओं को रोका जा सकेगा. यह लेख भारतीय रेलवे सुरक्षा के लिए इसरो द्वारा उपयोग किए जाने वाले सैटेलाइट सिस्टम से संबंधित है, यह सिस्टम किस प्रकार से सुरक्षा प्रदान करेगा, IRNSS और NaVIC प्रणाली क्या है आदि.

उबासी/जम्हाई आने के पीछे वैज्ञानिक कारण

Jan 10, 2018
उबासी लेना एक बहुत ही आम प्रक्रिया है. यह हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा है. इसे हर कोई यहां तक की जानवर भी लेते है. अधिकतर उबासी तब आती है जब हम सोने जाते हैं या जब सोकर उठते है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं कि हमें उबासी क्यों आती है, इसके पीछे क्या कोई वैज्ञानिक कारण है या फिर यह एक प्राकृतिक घटना है.
LibraryLibrary

Newsletter Signup

Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK