Search
  1. Home |
  2. विश्व |
  3. विश्व के देश

विश्व के देश

Also Read in : English

जानिये दुनिया के किस देश में महंगाई दर सबसे अधिक है?

20 hrs ago
मुद्रास्फीति बाजार की वह अवस्था होती है जिसमें वस्तुओं और सेवाओं की कीमतें "लगातार" बढ़ती जातीं हैं. ऐसी ही स्थिति दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला में है जहाँ पर महंगाई की दर इस साल के अंत तक 10 लाख प्रतिशत तक पहुंच जाने का अनुमान लगाया जा रहा है. इस लेख में हमने इस समस्या के कारणों और महंगाई के कुछ रोचक उदाहरणों को बताया है.

Latest Videos

जानें भारत की करेंसी कमजोर होने के क्या मुख्य कारण हैं?

Sep 7, 2018
भारत की आजादी के समय एक डॉलर का मूल्य एक रुपये के बराबर है लेकिन वर्ष 2018 में भारतीय रुपये का मूल्य अपने सबसे निचले स्तर पर पहुँच गया है और एक डॉलर में खरीदने के लिए 69 रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं. इस लेख में भारतीय रुपये की वैल्यू में गिरावट के कारणों की व्याख्या की गयी है.

दुनिया के किन देशों में टीचर को सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है?

Sep 4, 2018
आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OECD) ने हाल ही में अपनी एक रिपोर्ट (Education at a Glance 2017) में दुनिया के उन देशों की सूची जारी की है जहाँ पर टीचर की सैलरी सबसे ज्यादा और सबसे कम है. सबसे ज्यादा सैलरी देने वाले देशों की सूची में प्रथम स्थान पर लक्ज़मबर्ग का नंबर आता है जहाँ पर एक हाई स्कूल के फ्रेशर टीचर की शुरूआती सैलरी $80,000 है जबकि सबसे अच्छा टीचर सबसे अधिक सैलरी $1,35,000 पाता है.

भारत और चीन के बीच ख़राब सम्बन्धों में तिब्बत की क्या भूमिका है?

Aug 25, 2018
क्या आप जानते हैं कि जब 1942 में भारत छोडो आन्दोलन अपने पूरे जोश पर था तो चीन भी भारत के इस क्रन्तिकारी आन्दोलन को सपोर्ट कर रहा था. चीन और तब के अमेरिकी राष्ट्रपति रूजवेल्ट, ब्रिटेन के प्रधानमन्त्री चर्चिल पर दबाव बना रहे थे कि भारत को जल्दी से जल्दी आजाद करो. लेकिन फिर अचानक भारत और चीन के सम्बन्ध ख़राब कैसे हो गये. आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं.

चीन, पाकिस्तान में अपने 5 लाख लोगों को क्यों बसाना चाहता है?

Aug 24, 2018
CPEC प्रोजेक्ट की शुरुआत वर्ष 2015 में हुई थी. यह चीन के प्रोजेक्ट OBOR का हिस्सा है. CPEC प्रोजेक्ट का उद्येश्य दक्षिण-पश्चिमी पाकिस्तान से चीन के उत्तर-पश्चिमी स्वायत्त क्षेत्र शिंजियांग तक ग्वादर बंदरगाह, रेलवे और हाइवे के माध्यम से तेल और गैस का कम समय में वितरण करना है.

जानें किन देशों में निवेश करके वहां की नागरिकता हासिल कर सकते हैं?

Aug 1, 2018
यह लेख उन देशों पर आधारित है जो कि अपनी नागरिकता उन लोगों को दे देते हैं जो कि इन देशों में कुछ लाख या करोड़ रुपयों का निवेश करते हैं. आज की तारीख़ में अमेरिका से सिंगापुर तक क़रीब 23 ऐसे देश हैं जो निवेश के बदले अपने देश की नागरिकता देते हैं.

किस व्यक्ति के मरने पर कई देशों की करेंसी बदल जाएगी?

Jun 13, 2018
एलिज़ाबेथ II 6 फरवरी 1952 से ब्रिटेन की महारानी का पद संभाल रहीं हैं. इंग्लैंड की मुद्रा पाउंड पर यहाँ की महारानी एलिज़ाबेथ II की फोटो लगी हुई है. ब्रिटेन के अलावा ऐसे 10 देश और हैं जहाँ की मुद्रा पर ब्रिटेन की महारानी का फोटो लगा हुआ है. यदि ब्रिटेन की महारानी की मृत्यु हो जाती है तो इन सभी देशों की मुद्रा को बदलना पड़ेगा. इस लेख में इन्ही देशों की मुद्रा का बारे मे बताया गया है.

भारत के लाइसेंस से किन किन देशों में गाड़ी चला सकते हैं?

Apr 13, 2018
भारत में टू व्हीलर्स और फोर व्हीलर्स इत्यादि को चलाने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस की जरुरत पड़ती है. ये ड्राइविंग लाइसेंस तय करते हैं कि कोई व्यक्ति किस वाहन को चला सकता है और कब तक चला सकता है. क्या आपको पता है कि आप भारत के ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से विदेशों में भी ड्राइविंग कर सकते हैं. इस लेख में हम ऐसे ही देशों के बारे में बता रहे हैं जहाँ पर आप 3 माह से लेकर 1 साल तक गाड़ी चला सकते हैं.

जानें अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन क्या है?

Mar 12, 2018
अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन या ISA में 121 देश शामिल हैं. इनमे से लगभग 80% वे देश है जो कि कर्क और मकर रेखा के बीच स्थित हैं. अर्थात ये देश सूर्य से सबसे कम दूरी पर स्थित हैं और इन देशों में साल भर सौर ऊर्जा बहुत अधिक मात्रा में उपलब्ध रहती है. ISA का लक्ष्य 2030 तक 1 ट्रिलियन वाट (1000 गीगावाट) सौर ऊर्जा उत्पादन का है. ISA का मुख्यालय गुडगाँव (हरियाणा) में स्थित होगा.

बर्लिन की दीवार क्यों बनाई गयी थी?

Feb 8, 2018
द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद जब जर्मनी का विभाजन हो गया, तो सैंकड़ों कारीगर, प्रोफेसर, डॉक्टर, इंजीनियर और व्यवसायी प्रतिदिन पूर्वी बर्लिन को छोड़कर पश्चिमी बर्लिन जाने लगे. जिसके कारण पूर्वी बर्लिन में आर्थिक और राजनीतिक मुश्किलें पैदा होनी शुरू हो गयी थी. इसलिए प्रतिभा पलायन को रोकने के लिए 1961 में बर्लिन की दीवार को बनाया गया था.

क़यामत के दिन की तिजोरी (डूम्स डे वॉल्ट) क्या है और इसे क्यों बनाया गया है?

Jan 29, 2018
'डूम्स डे वॉल्ट' नार्वे में 100 देशों द्वारा बनाया गया एक ऐसा जीन बैंक है जिसमें अब तक 9 लाख विभिन्न खाद्य पदार्थों जैसे गेहूं, चना, मटर इत्यादि के बीजों को संभाल कर किसी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए रखा गया हैं.भारत भी इस परियोजना का हिस्सा है. इसका निर्माण 26 फरवरी 2008 में पूरा हुआ था.

भारत vs चीन: जल, थल और वायुसेना की ताकत का तुलनात्मक अध्ययन

Jan 10, 2018
क्या आज का भारत वही भारत है जिसको चीन ने 1962 के युद्ध में बुरी तरह से हरा दिया था या फिर आज का भारत इतना शक्तिशाली हो चुका है कि चीन इसके साथ लड़ाई का ख्याल भी अपने दिमाग में नही लायेगा. आइये इस लेख में यही जानने की कोशिश करते हैं कि इन दोनों देशों की सैन्य ताकत में किसका पलड़ा भारी है?

दुनिया के किन देशों में आयकर नही लगता है?

Jan 4, 2018
दुनिया के हर देश में सरकारें लोगों के ऊपर आयकर लगतीं हैं और इस आयकर के रूप में इकट्ठे हुए रुपयों की मदद से लोगों के कल्याण के लिए आधारभूत संरचना का विकास करतीं हैं. लेकिन दुनिया में सऊदी अरब, क़तर और बहामास जैसे देश भी हैं जहाँ पर लोगों से आयकर नही लिया जाता है. इस लेख में ऐसे ही कुछ देशों के बारे में बताया जा रहा है.

नया H1-B वीजा विधेयक: भारत को होने वाले 5 नुकसान

Jan 2, 2018
H1-B वीजा एक गैर-अप्रवासी वीजा है जो संयुक्त राज्य अमेरिका में आव्रजन और राष्ट्रीयता अधिनियम की धारा 101 (15) के तहत दिया जाता है। यह वीजा अमेरिकी कम्पनियों को विभिन्न व्यवसायों में विदेशी कामगारों को अस्थायी रूप से रोजगार देने की अनुमति देता है। नये वीज़ा बिल एक अनुसार अमेरिका आने वाले कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 60,000 से 1 लाख डॉलर करने का प्रस्ताव है |

विश्व में सबसे खतरनाक शहर कौन से हैं?

Dec 15, 2017
सार्वजनिक सुरक्षा और आपराधिक न्याय परिषद (Citizen’s Council for Public Security and Criminal Justice); जो कि मैक्सिको का एक गैर-सरकारी संगठन है, ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट-2017 में बताया है कि पूरी दुनिया में सबसे खतरनाक देश वेनेजुएला की राजधानी कराकस है. वर्ष 2016 में कराकस दुनिया में सबसे घातक शहर था, यहाँ पर मानव हत्या दर विश्व में सबसे अधिक अर्थात हर 1 लाख लोगों में से 130 लोग मारे जाते हैं.

चीन की विशाल दीवार: 22 रोचक तथ्य

Dec 8, 2017
चीन की विशाल दीवार मिट्टी और पत्थर से बनी एक किलेनुमा दीवार है जिसे चीन के विभिन्न शासकों के द्वारा उत्तरी हमलावरों से रक्षा के लिए 5 वीं शताब्दी ईसा पूर्व से लेकर 16 वीं शताब्दी तक बनवाया गया था. चीन की यह महान दीवार 2,300 से अधिक साल पुरानी है. यह दीवार दुनिया के सात अजूबों में गिनी जाती है.

जानें अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (ICJ) कैसे काम करता है?

Nov 20, 2017
अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) संयुक्त राष्ट्र (यूएन) का प्रमुख न्यायिक अंग है. यह संयुक्त राष्ट्र के चार्टर द्वारा जून 1945 में स्थापित किया गया था और इसने अप्रैल 1946 में काम करना शुरू किया था. इस न्यायालय का मुख्यालय हेग (नीदरलैंड) में शांति पैलेस में है. भारतीय जज के तौर पर यहां दलवीर भंडारी कार्य कर रहे हैं. भंडारी इस पद के लिये नवम्बर 2017 में दुबारा चुने गए और उनका कार्यकाल 9 साल का होगा.

सन 2019 तक विश्व की जीडीपी में सबसे अधिक योगदान करने वाले देश कौन होंगे

Nov 5, 2017
विश्व बैंक द्वारा इस वर्ष की शुरूआत में अनुमान लगाया गया कि 2017-2019 की अवधि में वैश्विक अर्थव्यवस्था की जीडीपी वृद्धि दर 2.8% रहने की संभावना है. लेकिन एक अहम् सवाल यह उठता है कि वास्तव में विकास कहाँ होगा? क्या यह विकास उन विकसित देशों में होगा जहाँ पर विकास दर 2% की स्थिर दर से बढ़ रही है या फिर उन विकसशील देशों में होगा जहाँ पर 7% से 8% की विकास दर होना कोई बड़ी बात नही है.

भारत में GST के लागू होने से चीन को क्या नुकसान होगा

Oct 24, 2017
चीन की सस्ती वस्तुएं भारत में बहुत बड़ी मात्रा में बेचीं जातीं हैं. ये वस्तुएं इतनी सस्ती होतीं हैं कि भारत के निर्माता इन चीनी निर्माताओं का मुकाबला नही कर पाते हैं. लेकिन GST लागू होने के बाद चीन के लिए मुसीबत पैदा होने वाली है क्योंकि अभी चीनी वस्तुएं एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश में बिना किसी कर को चुकाए और रजिस्ट्रेशन किये भेजी जा सकतीं हैं लेकिन GST लागू होने के बाद ऐसा नही हो पायेगा.

जानें दुनिया के इन देशों में प्रति व्यक्ति कितना कर्ज है?

Oct 6, 2017
अब यह लेख इस बात की जानकारी करेगा कि यदि किसी देश का पूरा कर्ज चुकाना है तो उस देश के प्रति नागरिक को कितना धन देना होगा. OECD (एक संगठन) के सदस्य देशों में प्रति व्यक्ति ऋण 2007 के बाद से 2017 तक 5.9% की औसत वार्षिक दर से बढ़ गया है. जापान को अपना कर्ज चुकाने के लिए प्रति नागरिक 90,345 डॉलर की जरुरत है जो कि पूरे दुनिया में सबसे ज्यादा है. भारत को अपना पूरा कर्ज चुकाने के लिए हर भारतीय को 26000 रुपये देने होंगे.

123 Next   

LibraryLibrary

Newsletter Signup

Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK