Search
  1. Home
  2. GENERAL KNOWLEDGE
  3. सामान्य ज्ञान तथ्य
View in English

सामान्य ज्ञान तथ्य

  • पैन कार्ड एवं पैन नंबर: अर्थ, उपयोग एवं लाभ

    पैन कार्ड क्या है? पैन कार्ड का उपयोग कहां होता है? पैन कार्ड कौन बनवा सकता है? पैन कार्ड होने के क्या लाभ हैं? पैन कार्ड का होना महत्वपूर्ण क्यों है? इस प्रकार के प्रश्न अक्सर खोजे जाते हैं. आइए हम इनके बारे मैं जानते हैं:

    May 10, 2019
  • हीरा कैसे बनता है और असली हीरे को कैसे पहचानें?

    हीरा एक पारदर्शी रत्न होता है। यह रासायनिक रूप से कार्बन का शुद्धतम रूप है इसमें बिल्कुल मिलावट नहीं होती है, यदि हीरे को ओवन में 763 डिग्री सेल्सियस पर गरम किया जाये, तो यह जलकर कार्बन डाइ-आक्साइड बना लेता है तथा बिलकुल भी राख नहीं बचती है, इस प्रकार हीरे 100% कार्बन से बनते हैं।

    May 10, 2019
  • डेबिट कार्ड पर छपे 16 अंक क्या बताते है?

    डेबिट कार्ड पर लिखे गए नंबरों का क्या अर्थ होता है? डेबिट कार्ड पर दी गई संख्याओं की पहचान कैसे करें? कार्ड नंबर क्या है और डेबिट कार्ड पर 16 अंकों का क्या मतलब होता है? ये कुछ ऐसे प्रश्न हैं जो अक्सर पूछे जाते हैं. पूरी जानकारी के लिए आइये देखते हैं.

    May 10, 2019
  • कॉलेजियम सिस्टम क्या होता है?

    कॉलेजियम सिस्टम का भारत के संविधान में कोई जिक्र नही है. यह सिस्टम 28 अक्टूबर 1998 को 3 जजों के मामले में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसलों के जरिए प्रभाव में आया था. कॉलेजियम सिस्टम में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस और सुप्रीम कोर्ट के 4 वरिष्ठ जजों का एक पैनल जजों की नियुक्ति और तबादले की सिफारिश करता है. कॉलेजियम की सिफारिश (दूसरी बार भेजने पर) मानना सरकार के लिए जरूरी होता है.

    May 9, 2019
  • भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के क्या-क्या कार्य होते हैं?

    भारत में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पद को सबसे पहले 1998 में पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने सृजित किया था. ज्ञातव्य है कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार की नियुक्ति भारत के प्रधानमन्त्री के द्वारा की जाती है. वर्तमान में भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार श्री अजीत डोभाल हैं. अब तक इस पद पर 5 व्यक्ति रह चुके हैं. इस लेख में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के कार्यों के बारे में बताया गया है.

    May 9, 2019
  • भारत की परमाणु नीति क्या है?

    भारत ने 2003 में अपना परमाणु सिद्धांत अंगीकार किया था. भारत की परमाणु नीति का मूल सिद्धांत " पहले उपयोग नही" है. इस नीति के अनुसार भारत किसी भी देश पर परमाणु हमला तब तक नही करेगा जब कि वह देश भारत के ऊपर हमला नही कर देता है. भारत के पास परमाणु हथियारों की संख्या लगभग 110 -130 के बीच मानी जाती है जबकि पाकिस्तान के पास 130 से 150 के बीच परमाणु हथियार हैं.

    May 9, 2019
  • सेल्यूलर जेल या काला पानी की सजा इतनी खतरनाक क्यों थी?

    सेल्यूलर जेल अंडमान निकोबार द्वीप की राजधानी पोर्ट ब्लेयर में बनी हुई है. जो कैदी सजा पाकर इस जेल में पहुँचता था उसे ही काला पानी की सजा कहा जाता था. इस जेल के निर्माण का ख्याल अंग्रेजों के दिमाग में 1857 के विद्रोह के बाद आया था. कुल ‘696 सेल’ वाली इस जेल का निर्माण कार्य 1896 में शुरू हुआ था और 1906 में बनकर तैयार हो गई थी.

    May 8, 2019
  • भारत में EVM कहाँ बनायी जाती है और इसमें कितनी लागत आती है?

    इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (EVM) को चुनाव आयोग के तकनीकी विशेषज्ञ समिति (टीईसी) द्वारा दो सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों यानी इलेक्ट्रॉनिक कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, हैदराबाद और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड, बैंगलोर के सहयोग से डिजाइन किया और बनाया जाता है. वर्तमान में एक M3 ईवीएम की लागत लगभग 17,000 रु. प्रति यूनिट है.

    May 8, 2019
  • जानें सर्जिकल स्ट्राइक किसे कहते हैं?

    स्वभावतः एक नरमपंथी राष्ट्र होने के बावजूद भारत हमेशा खुफिया एजेंसियों से प्राप्त विश्वसनीय सूचनाओं के आधार पर सर्जिकल स्ट्राइक और गुप्त ऑपरेशन जैसे कठोर कदम उठाता रहा है। हाल ही में, भारत ने आतंकवाद के खिलाफ शून्य सहिष्णुता (zero tolerance) बरतने के अपने रुख को साबित करते हुए नियंत्रण रेखा (LOC) के पार आतंकवादियों के ठिकानों (launch pads) को लक्षित कर सर्जिकल स्ट्राइक की घटना को अंजाम दिया है। यह एक सुनियोजित सैन्य कारवाई होती है जिसका उद्येश्य अतिरिक्त क्षतिपूर्ति से बचते हुए एक निश्चित लक्ष्य पर हमला कर उसे नेस्तनाबूद करना होता है।

    May 7, 2019
  • भारतीय शेयर बाज़ार में उतार चढ़ाव क्यूँ और कैसे होता है?

    सेंसेक्स नाम का शब्द अंग्रेजी के 'Sensitive Index' से लिया गया है Sens + Ex, इसे हिंदी में संवेदी सूचकांक भी कहा जाता है| जैसा कि इसके नाम से स्पष्ट होता है कि एक ऐसा सूचकांक जो कि बहुत ही ज्यादा संवेदनशील (Sensitive) हो, उसे ही सेंसेक्स के नाम से पुकारा जाता है| शेयर बाज़ार में उतार चढ़ाव के लिए अच्छा मानसून, सकारात्मक बजट, सहयोगी मौद्रिक नीति, सरकार की नीतियां आदि जिम्मेदार होते हैं l

    May 6, 2019
  • कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी किसे कहते हैं और भारत में इस पर कितना खर्च होता है?

    कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी का सीधा मतलब कंपनियों को उनकी सामाजिक जिम्मेदारी के बारे में बताना है. भारत में कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) के नियम अप्रैल 1, 2014 से लागू हैं. इसके अनुसार, जिन कम्पनियाँ की सालाना नेटवर्थ 500 करोड़ रुपये या सालाना आय 1000 करोड़ की या सालाना लाभ 5 करोड़ का हो तो उनको CSR पर खर्च करना जरूरी होता है. यह खर्च तीन साल के औसत लाभ का कम से कम 2% होना चाहिए.

    May 6, 2019
  • दुनिया भर में सरकारों द्वारा लगाये गए 11 अजीब प्रतिबंध

    विश्व के विभिन्न देशों ने अपनी जरुरत और संस्कृति के हिसाब से कुछ सेवाओं, खानपान और फैशन पर प्रतिबन्ध लगाया हुआ है. कुछ देशों ने जीन्स को बैन किया हुआ है तो कुछ ने गूगल और फेसबुक और ऊबर जैसी कंपनियों पर भी प्रतिबन्ध लगाया हुआ है. आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि किन देशों ने किस चीज पर बैन लगाया हुआ है.

    May 3, 2019
  • भारत के लाइसेंस से किन किन देशों में गाड़ी चला सकते हैं?

    भारत में टू व्हीलर्स और फोर व्हीलर्स इत्यादि को चलाने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस की जरुरत पड़ती है. ये ड्राइविंग लाइसेंस तय करते हैं कि कोई व्यक्ति किस वाहन को चला सकता है और कब तक चला सकता है. क्या आपको पता है कि आप भारत के ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से विदेशों में भी ड्राइविंग कर सकते हैं. इस लेख में हम ऐसे ही देशों के बारे में बता रहे हैं जहाँ पर आप 3 माह से लेकर 1 साल तक गाड़ी चला सकते हैं.

    May 3, 2019
  • येती: हिमालय क्षेत्र में एक रहस्यमय विशाल हिममानव के बारे में

    अप्रैल,2019 माह में भारतीय सेना ने ट्वीट किया कि उसके पर्वतारोहण अभियान दल ने 9 अप्रैल, 2019 को नेपाल में स्थित मकालू बारुन नेशनल पार्क के पास 32x15 इंच के पैरों के निशान देखे थे. कुछ लोग कह रहे हैं कि ये हिमालय क्षेत्र में पाए जाने वाले हिम मानव "येती" के पैरों के निशान हैं.

    May 3, 2019
  • मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के क्या परिणाम होंगे?

    अभी हाल ही में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् (UNSC) ने मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित कर दिया है. इसका मतलब है कि अब मसूद की विभिन्न गतिविधियों पर प्रतिबंध लग जायेगा जिससे वह अपनी आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा नहीं दे पायेगा. आइये इस लेख में जानते हैं कि सुरक्षा परिषद् का निर्णय मसूद को किस तरह से प्रभावित करेगा?

    May 2, 2019