Search
  1. Home
  2. GENERAL KNOWLEDGE
  3. सामान्य ज्ञान तथ्य
View in English

सामान्य ज्ञान तथ्य

  • जानें चाय का इतिहास जिसका सेवन आप रोज़ करते है !

    चाय पीने का इतिहास 750 ईसा पूर्व से है । आम तौर पर भारत में चाय उत्तर-पूर्वी भागों और नीलगिरि पहाड़ियों में उगायी जाती है। टी को चाय के नाम से भी जाना जाता है और भारत में हर जगह यह प्रसिद्ध है, आप इसे विभिन्न चाय की दुकानों और रेलवे प्लेटफॉर्म आदि में देख सकते हैं और यह आसानी से उपलब्ध हो जाती है।आज भारत दुनिया में चाय का सबसे बड़ा उत्पादक है।

    Aug 9, 2016
  • क्या कभी सोचा है कि भारत देश का नाम “भारत” ही क्यों पड़ा?

    विश्व में भारत सबसे पुरानी सभ्यता का एक जाना-माना देश है जहाँ वर्षों से कई प्रजातीय समूह एक साथ रहते हैं। भारत विविध सभ्यताओं का देश है जहाँ लोग अपने धर्म और इच्छा के अनुसार लगभग 1650 भाषाएँ और बोलियों का इस्तेमाल करते हैं। संस्कृति, परंपरा, धर्म, और भाषा से अलग होने के बावजूद भी लोग यहाँ पर एक-दूसरे का सम्मान करते हैं | प्राचीन काल से ही हमारे देश को भारत (संस्कृत का शब्द है) के नाम से पुकारा जाता है | भारत का नाम 'भारत' कैसे पड़ा इसके पीछे कई इतिहासकारों ने अपने अपने विचार रखे है|

    Aug 9, 2016
  • GST बिल क्या है, और यह आम आदमी की जिंदगी को कैसे प्रभावित करेगा?

    राज्य सभा ने GST बिल को 3 अगस्त, 2016 को पास कर दिया है जबकि लोकसभा इसे पहले ही पास कर चुकी है | कुछ और औपचारिकताओं के बाद यह बिल एक कानून बन जायेगा| यह कर सभी मौजूदा अप्रत्यक्ष करों का स्थान लेगा | इससे देश में वस्तुओं की कीमतों के घटने के साथ-साथ सकल घरेलु उत्पाद में भी 2% की बृद्धि होने का अनुमान है |

    Aug 8, 2016
  • रिओ ओलम्पिक खेल 2016: 10 तथ्य एक नज़र में

    ओलम्पिक खेलों का आयोजन प्रत्येक 4 साल के अन्तराल पर किया जाता है | 5 अगस्त 2016 से 21 अगस्त के बीच ब्राज़ील के शहर रिओ डी जनेरिओ में खेले जाने वाले 31 वें ओलंपिक खेलों का उद्घाटन हो चुका है | इन खेलों में लगभग 10500 खिलाडी भाग लेंगे | इस बार ओलंपिक खेलों भारत की ओर से इसमें 119 खिलाडियों का दल भाग लेगा |

    Aug 8, 2016
  • विश्व की 10 सबसे खतरनाक नौकरियां

    विश्व में मानव ने अपनी यात्रा को पाषाण युग से प्रारंभ किया, और आज अनेक बदलावों के दौर से गुजरते हुए मानव जीवन काफी आगे निकल चला है। प्रारंभिक मानव की जीवनचर्या भोजन को आधारभूत आवश्यकता मानते हुए प्रारंभ हुई और उत्तरोत्तर भोजन, वस्त्र और आवास की आधारभूत संरचना तक पहुंची | मनुष्य को अपने भरण पोषण के लिए किसी न किसी काम को करना ही पड़ता है और वह कुछ ऐसे कार्यो को भी करता है जिससे उसका अस्तित्व भी खतरे में हेाता है | ऐसी 10 नौकरियों के बारे में विवरण नीचे दिया गया है।

    Aug 5, 2016
  • क्या आप दुनिया के 10 सबसे पुराने पेड़ों के बारे में जानते हैं?

    इस दुनिया में पेड़ों का अस्तित्व मानव सभ्यता के अस्तित्व से भी पहले का है | वर्तमान में भी पेड़ों के बिना मानव सभ्यता के अस्तित्व की कल्पना भी नही की जा सकती है | इन पेड़ों ने कई सभ्यताओं की उत्पत्ति और विनाश को देखा है | इस दुनिया में कुछ पेड़ ऐसे भी हैं जो 10000 सालों से अपने अस्तित्व को बनाये हुए हैं | आइये हम ऐसे ही 10 सबसे पुराने पेड़ों के बारे में कुछ जानकारी अर्जित करते हैं |

    Aug 2, 2016
  • जानिए विश्व में अबतक हुए परमाणु हमलों से संबंधित वो सब कुछ जिससे आप अब तक अंजान थे!

    आज जब पूरा विश्व परमाणु शस्त्र शक्ति संपन्न होने की होड़ में शामिल है, तब प्रत्येक व्यक्ति को यह जानना जरुरी है कि इस परमाणु शक्ति ने अपने विनाशकारी रूप में कितना नुकसान पहुँचाया था जब इसका प्रयोग एक बम के रूप में मानव सभ्यता के खिलाफ हुआ। जिसने मानव इतिहास में विनाश का कलंक मानव के हाथों ही लिख दिया ।

    Aug 1, 2016
  • जानें भारत की 10 सबसे तेज गति की ट्रेन कौन सी हैं?

    भारतीय रेल 1853 से 2016 तक तकरीबन 2 शताब्दियों की यात्रा और तीन शताब्दियों की तरंग को महसूस कर चुकी है| भारतीय रेल की यह लंबी यात्रा अनेक प्रयोगों और उतार चढ़ाव से भरी है| लगभग 65000 किमी लंबे पथ पर रोजाना भ्रमण करने वाली भारतीय रेल लगभग 11000 गाड़ियों को नियंत्रित करती है तथा 15 लाख लोगों को रोज़गार देती है|

    Aug 1, 2016
  • भारतीय सेना के 25 आश्चर्यजनक तथ्य जो कि हमें भारतीय होने पर गर्व कराते हैं

    भारतीय शस्‍त्र सेना में तीन प्रभाग हैं: थलसेना, जलसेना और वायुसेना | भारतीय सेना दुनिया की सबसे बड़ी और प्रमुख सेनाओं में से एक है। सँख्या की दृष्टि से भारतीय थलसेना के जवानों की सँख्या दुनिया में चीन के बाद सबसे अधिक है। भारतीय शस्‍त्र सेनाओं की सर्वोच्‍च कमान भारत के राष्‍ट्रपति के पास है।

    Jul 29, 2016
  • रावण के बारे में 10 आश्चर्यजनक तथ्य

    हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, रावण राक्षसों का राजा था जिसके 10 सिर और 20 हाथ थे। इनका असली नाम दशमुख था। इनके माता - पिता कैकसी और विश्वश्रवा थे। इनके छह भाई और दो बहने थीं। जिनके नाम भगवान कुबेर, विभीषण, कुंभकरण, राजा कारा, राजा अहिरावण, कुम्‍भिनी और शूर्पणखा थे।

    Jul 26, 2016
  • क्या आप जानते हैं कि ओलंपिक खेलों में अब तक भारतीय हॉकी टीम का प्रदर्शन कैसा रहा है?

    भारतीय हॉकी टीम ने अब तक 19 ओलंपिक खेलों में हिस्सा लिया है जिनमे उसने सन 1928 से 1956 तक लगातार हॉकी का स्वर्ण पदक जीता है और कुल मिलाकर 8 स्वर्ण पदक जीते है जो कि आज तक किसी भी देश के लिए सपने जैसा ही है | 1932 में लोस एंजिलिस में हुए ओलंपिक खेलों के दौरान भारत ने अमेरिका को 24-1 के अंतर से रौंदा था | इस मैच में हॉकी के जादूगर मेजर ध्यान चन्द ने 8 गोल किये थे |

    Jul 26, 2016
  • आखिर कौन है भारत का “फोरेस्ट मैन”?

    भारत मे पूर्वोत्तर के मुख्य द्धार कहे जाने वाले असम के जोरहट मे ब्रह्रपुत्र के किनारे पर बसे गांव मे जन्मे जादव मोलाई पियांग ने प्रकृति की गोद मे रहकर प्रकृति प्रेम का अदभुत पाठ सीखा, जिसने उन्हे पशु-पक्षी तक के दर्द से रूबरू करा दिया। जादव ने ब्रह्रपुत्र के एक-एक वीरान टापू पर बीस- बीस बांस के पौधे लगाकर 1350 एकड़ से भी ज्यादा का जंगल अर्थात लगभग 550 हेक्टेयर वनक्षेत्र विकसित कर लिया है |

    Jul 25, 2016
  • ये हैं भारत के पांच खास मंदिर

    भारत विश्व के उन देशों में है जहाँ आस्था का महत्व अपने आप में विशेष है| मंदिर, भारत की आस्था और संस्कृति को जोड़ कर रखने वाले वे बहुमूल्य रत्न हैं, जिनसे भारतीय कला प्रतिबिंबित होती है| यूँ तो भारत में अग्रणित मंदिर अपने अद्वितीय मूल्य के साथ आज भी मौजूद है, जिनमे से कुछ अत्यंत ख़ास महत्व रखने वाले मंदिरों पर चर्चा निम्नलिखित है|

    Jul 22, 2016
  • भारत के ऐसे 10 वैज्ञानिक जिन्हें सिर्फ़ भारत ही नहीं पूरी दुनिया करती है सलाम

    भारत आदिकाल से ही प्रतिमाओं की धरती और विज्ञान की जन्मदात्री रही है | भारत भूमि पर विज्ञान ने अक्सर ही अपनी चरम प्रतिष्ठा प्राप्त की है| वाराहमिहिर से आर्यभट्ट और उत्तरोत्तर ए पी जे अब्दुल कलाम तक भारत ने ऐसे मोती पिरोये हैं, जिनकी अन्यत्र कोई कल्पना ही नहीं है| वर्तमान भारत की धरती भी वैज्ञानिक प्रतिमाओं की महती उर्वर भूमि है| इन महान वैज्ञानिकों में से कुछ के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी इस लेख में दी जा रही है |

    Jul 22, 2016
  • विश्व के पांच रहस्यमय स्थल

    संसार ने समय को सदैव अपनी सुविधा के माध्यम से विभाजित करने का प्रयास किया है| आधुनिक विभाजन के अनुसार संसार आज स्वर्णयुग को जी रहा है, जहाँ विज्ञान का सबसे अधिक महत्व है| कोई भी बात अगर किसी भी प्रकार से मानव मूल्यों को या व्यवस्थाओं को प्रभावित करती है तो हम विज्ञान की और देखने लगते हैं, परन्तु प्रकृति द्वारा निर्मित कुछ स्थान आज भी हमारे विज्ञान को धता बता कर निर्भीक खड़े हैं| उनमें से कुछ रहस्यमयी स्थानों के बारे में इस आलेख में चर्चा की गयी है|

    Jul 21, 2016