Search
  1. Home
  2. GENERAL KNOWLEDGE
  3. सामान्य ज्ञान तथ्य
View in English

सामान्य ज्ञान तथ्य

  • एंग्लो इंडियन कौन होते हैं और उनके पास संसद में क्या अधिकार होते हैं?

    संविधान के अनुच्छेद 366 (2) के तहत एंग्लो इंडियन ऐसे किसी व्यक्ति को माना जाता है जो भारत में रहता हो और जिसका पिता या कोई पुरुष पूर्वज यूरोपियन वंश के हों. यह शब्द मुख्य रूप से ब्रिटिश लोगों के लिए इस्तेमाल किया जाता है जो कि भारत में काम कर रहे हों और भारतीय मूल के हों. भारत का राष्ट्रपति इस समुदाय के दो लोगों को चुनकर लोकसभा में भेज सकता है.

    17 hrs ago
  • मुद्रा क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है?

    सामान्य अर्थों में ‘मुद्रा’ सिर्फ उस वस्तु को कहते हैं जिसको केंद्र सरकार ने सिक्कों या नोटों के रूप में छापा है परन्तु मुद्रा की सर्व व्यापक परिभाषा यह है कि “मुद्रा वह है जो कि मुद्रा का कार्य करे”|भारत में पत्र मुद्रा को निर्गत करने का अधिकार भारतीय रिजर्व बैंक को है जबकि इस पर लिखी गयी राशि के भुगतान का अंतिम दायित्व भारत सरकार का होता है| सभी सिक्कों और एक रुपये के नोट बनाने का अधिकार भारत सरकार के वित्त मंत्रालय का पास है |

    19 hrs ago
  • जानिये क्रिकेट इतिहास की किस घटना के कारण फील्डिंग के नियम बने?

    वर्ष 1980 के पहले इंटरनेशनल क्रिकेट में फील्डिंग के लिए नियम नहीं बने थे. लेकिन 28 नवम्बर 1979 के दिन इंग्लैंड और वेस्ट इंडीज के बीच “बेंसन एंड हेजेज” क्रिकेट सीरीज 1979-80 के एक मैच में एक घटना ने इंटरनेशनल क्रिकेट में फील्डिंग के लिए नियम बनाने पर मजबूर कर दिया था. इस लेख में आप इस घटना और वर्तमान में फील्डिंग के लिए बनाये गए वर्तमान पॉवर प्ले के नियमों के बारे में जानेंगे.

    19 hrs ago
  • पुलिस कस्टडी और ज्यूडिशियल कस्टडी में क्या अंतर होता है?

    पुलिस कस्टडी और ज्यूडिशियल कस्टडी दोनों शब्द एक जैसे ही लगते हैं लेकिन बारीकी से अध्ययन करने के बाद इन दोनों शब्दों में अंतर साफ साफ दिखता है. पुलिस कस्टडी तथा ज्यूडिशियल कस्टडी दोनों में संदिग्ध व्यक्ति को कानून की हिरासत में रखा जाता है. इन दोनों का एक ही उद्येश्य है समाज में अपराध को कम करना. आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि इन दोनों शब्दों में क्या अंतर है.

    19 hrs ago
  • पृथ्वी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?

    पृथ्वी दिवस एक वार्षिक आयोजन है, जिसे 22 अप्रैल को दुनिया भर में पर्यावरण संरक्षण के लिए समर्थन प्रदर्शित करने के लिए आयोजित किया जाता है.यह तारीख उत्तरी गोलार्द्ध में वसंत और दक्षिणी गोलार्द्ध में शरद का मौसम है. पृथ्वी दिवस की स्थापना अमेरिकी सीनेटर गेलोर्ड नेल्सन (Gaylord Nelson) ने पर्यावरण शिक्षा के रूप की थी. सन् 1970 से प्रारम्भ हुए इस दिवस को आज पूरी दुनिया के 192 से अधिक देशों के 1 अरब से अधिक लोग मनाते हैं.

    22 hrs ago
  • बेरोजगारी कितने प्रकार की होती है और भारत में कैसी बेरोजगारी पायी जाती है?

    बेरोजगारी की परिभाषा हर देश में अलग अलग होती है जैसे अमेरिका में यदि किसी व्यक्ति को उसकी योग्यता /क्वालिफिकेशन के हिसाब से नौकरी नही मिलती है तो उसे बेरोजगार माना जाता है. सामान्य तौर पर बेरोजगार उस व्यक्ति को कहा जाता है जो कि बाजार में प्रचलित मजदूरी दर पर काम तो करना चाहता है लेकिन उसे काम नही मिल पा रहा है.

    3 days ago
  • 50 रुपये के नए नोट के बारे में 13 रोचक तथ्य

    जैसा कि हम जानते हैं कि RBI ने 16 अप्रैल, 2019 को 50 रुपये के नए नोट जारी किए जिस पर RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास के हस्ताक्षर हैं. आइए इस लेख के माध्यम से नए मूल्यवर्ग के बैंकनोट 50 और साथ ही नए और पुराने 50 रुपये के नोट में क्या अंतर होता है के बारे में अध्ययन करते हैं.

    3 days ago
  • भारत में लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए राज्यवार खर्च की सीमा

    चुनाव में धन के प्रभाव को कम करने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने बड़े राज्यों में लोक सभा चुनावों में खर्च की अधिकतम सीमा 70 लाख रुपये और छोटे राज्यों में 54 लाख रुपये कर दी है. विधान सभा में चुनाव के लिए बड़े राज्यों में चुनाव खर्च की अधित्तम सीमा 28 लाख रुपये है. आइये इस लेख में जानते हैं कि किस राज्य में लोकसभा और विधानसभा चुनाव खर्च की सीमा कितनी है?

    Apr 18, 2019
  • चुनाव आयोग द्वारा भारतीय चुनावों में खर्च की अधिकत्तम सीमा क्या है?

    चुनाव आयोग ने हाल ही में प्रत्येक लोकसभा सीट के लिए व्यय सीमा बड़े राज्यों में 40 लाख रुपए से बढाकर 70 लाख और छोटे राज्यों में लोकसभा चुनावों के लिए यह सीमा 22 लाख रुपये से बढाकर 54 लाख कर दी है| विधान सभा में चुनाव के लिए बड़े राज्यों में चुनाव खर्च की अधित्तम सीमा 16 लाख से बढाकर 28 लाख रुपये कर दी है |

    Apr 18, 2019
  • भारत में वोट करने के लिए पंजीकरण कैसे करें?

    हमें, हमारे लोकतांत्रिक देश में अपनी पसंद के अनुसार नेता को चुनने का अधिकार है. लेकिन इसके लिए मतदान या वोट करना आवश्यक है और इसके लिए भारत के प्रत्येक नागरिक को अपना वोट दर्ज करना होता है. आखिर मतदान आपका कानूनी अधिकार है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं कि वोट करने के लिए कैसे रजिस्टर या पंजीकरण करना चाहिए.

    Apr 18, 2019
  • अब तक के सभी लोकसभा चुनावों में किस पार्टी को कितनी सीटें मिली हैं?

    भारत में लोकसभा के सबसे पहले आम चुनाव 1951 में हुए थे. इस चुनाव में 489 लोक सभा सीटों के लिए चुनाव हुए थे. इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने 364 सीटें जीती थीं जबकि जनसंघ को केवल 3 सीटों पर जीत मिली थी. वर्ष 1952 में हुए लोक सभा आम चुनावों के बाद अब तक कुल 16 लोकसभा चुनाव भारत में कराये जा चुके हैं. इस लेख में हम भारत के पहले लोक सभा चुनाव से लेकर अभी तक के चुनावों में विभिन्न राजनीतिक दलों द्वारा जीती गयी सीटों के बारे में बताया गया है.

    Apr 18, 2019
  • भारत में EVM कहाँ बनायी जाती है और इसमें कितनी लागत आती है?

    इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (EVM) को चुनाव आयोग के तकनीकी विशेषज्ञ समिति (टीईसी) द्वारा दो सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों यानी इलेक्ट्रॉनिक कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, हैदराबाद और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड, बैंगलोर के सहयोग से डिजाइन किया और बनाया जाता है. वर्तमान में एक M3 ईवीएम की लागत लगभग 17,000 रु. प्रति यूनिट है.

    Apr 17, 2019
  • जानें हर भारतीय के ऊपर कितना विदेशी कर्ज है?

    भारत का विदेशी ऋण स्टॉक मार्च 2016 के अंत में 485.6 बिलियन अमरीकी डॉलर था जो कि मार्च 2015 के 475 बिलियन अमरीकी डॉलर से 2.2 % या 10.6 बिलियन अमरीकी डॉलर बढ़ गया है l लेकिन यदि सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की नजर से देखा जाये तो 2015 में यह कर्ज GDP का 23.8% था जो कि 2016 में घटकर 23.7% रह गया है l

    Apr 17, 2019
  • यूनिवर्सल बेसिक इनकम (यूबीआई): परिभाषा, विशेषताएं, लाभ और हानि

    यूनिवर्सल बेसिक इनकम (यूबीआई) एक देश के लोगों को एक मुश्त फिक्स धनराशि देने की योजना है. इसमें लाभार्थियों का चयन करने के लिए उनकी आय, रोजगार की स्थिति, भौगोलिक स्थिति इत्यादि का आकलन नहीं किया जायेगा. यूबीआई का उद्देश्य देश में गरीबी को कम करना और नागरिकों में आर्थिक समानता बढ़ाना है. UBI को शुरू करने का विचार वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2016-17 के आर्थिक सर्वेक्षण में रखा था.

    Apr 16, 2019
  • भारत में मान्यता प्राप्त राज्य के राजनीतिक दलों की सूची

    अप्रैल 2019 तक भारत में राष्ट्रीय राजनीतिक दलों की संख्या 7 है, जबकि राज्यों की मान्यता प्राप्त पार्टियों की संख्या 35 है और क्षेत्रीय दलों की संख्या लगभग 329 है. यदि कोई पार्टी राज्य विधानसभा की कुल सीटों में से कम-से-कम 3% सीट या कम-से-कम 3 सीटें, जो भी ज्यादा हो प्राप्त करती है; तो उसे राज्य की मान्यता प्राप्त पार्टी का दर्जा चुनाव आयोग द्वारा मिल जाता है.

    Apr 15, 2019