Search
  1. Home
  2. GENERAL KNOWLEDGE
  3. परीक्षापयोगी सामान्य ज्ञान
  4. बैंकिंग सामान्य ज्ञान
View in English

बैंकिंग सामान्य ज्ञान

  • भारतीय रिज़र्व बैंक के मुख्य कार्य क्या हैं?

    भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) भारत का सर्वोच्च मौद्रिक प्राधिकरण हैl यह संगठन भारतीय अर्थव्यवस्था में नोटों की छपाई और पैसों की आपूर्ति का प्रबंधन करने के लिए जिम्मेदार हैl भारतीय रिजर्व, बैंक विदेशी मुद्रा का संरक्षक, वाणिज्यिक बैंकों का बैंक, भारत सरकार का बैंक और क्रेडिट नियंत्रक के तौर पर काम करता हैl

    2 days ago
  • मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी): संरचना और उद्देश्य

    केंद्र सरकार द्वारा संशोधित RBI अधिनियम, 1934 की धारा 45ZB के अनुसार 6 सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (MPC) का गठन किया गया है. मौद्रिक नीति समिति की पहली बैठक 3 अक्टूबर, 2016 को आयोजित की गई थी. यह समिति विभिन्न नीतिगत निर्णय लेती है जैसे रेपो रेट, रिवर्स रेपो रेट, एमएसएफ और लिक्विडिटी एडजस्टमेंट फैसिलिटी आदि से सम्बंधित होते हैं.

    Apr 8, 2019
  • भारत में महत्वपूर्ण समितियों और आयोगों की सूची

    भारत में विभिन्न क्षेत्रों में कई समितियाँ और आयोग बने हैं. इन समितियों और आयोगों की सिफारिशों के आधार पर हमारे देश में कई सुधार हुए हैं. यह देखा गया है कि इन समितियों और आयोगों के आधार पर परीक्षा में कई प्रश्न पूछे जाते हैं. इसलिए प्रतियोगी छात्रों की मदद के लिए हमने यह आर्टिकल भारत में गठित समितियों और आयोगों और उनके कार्यक्षेत्रों के आधार पर बनाया है.

    Mar 29, 2019
  • विश्व जल दिवस की महत्ता और जल के उपयोग से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

    आज पूरी दुनिया औद्योगीकरण की राह पर चल रही है, किंतु स्वच्छ और रोग रहित जल मिल पाना कठिन होता जा रहा हैl विश्व भर में साफ और पीने योग्य जल की अनुपलब्धता के कारण ही जल जनित रोग महामारी का रूप ले रहे हैंl कहीं-कहीं तो यह भी सुनने में आता है कि अगला विश्व युद्ध जल को लेकर ही होगाl विश्व के हर नागरिक को पानी की महत्ता से अवगत कराने के लिए ही संयुक्त राष्ट्र ने "विश्व जल दिवस" मनाने की शुरुआत की थी। इस लेख में हम विश्व जल दिवस की महत्ता और जल के उपयोग से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों का विवरण दे रहे हैंl

    Mar 22, 2019
  • सेस या उपकार क्या होता है और यह कितने प्रकार का होता है?

    सेस; टैक्स के ऊपर लगाया जाने वाला टैक्स है और आमतौर पर विशिष्ट उद्देश्यों के लिए लगाया जाता है. एक बार इसका उद्देश्य हल हो जाता है तो इसको हटा लिया जाता है. सेस से मिलने वाली राशि को भारत सरकार अन्य राज्य सरकारों के साथ साझा नहीं करती है और इससे प्राप्त समस्त कर राशि अपने पास रख लेती है. वर्तमान में भारत में 6 प्रकार के उपकर लगाए जा रहे हैं.

    Feb 21, 2019
  • भारत के 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण कब और क्यों हुआ था?

    इंदिरा गाँधी सरकार ने 19 जुलाई, 1969 को एक आर्डिनेंस जारी करके देश के 14 बड़े निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण कर दिया था. जिस आर्डिनेंस के ज़रिये ऐसा किया गया वह ‘बैंकिंग कम्पनीज आर्डिनेंस’ कहलाया था. इस राष्ट्रीयकरण के पीछे सबसे बड़ा कारण बैंकों को केवल कुछ अमीरों के चंगुल से बाहर निकालना था ताकि आम आदमी को भी बैंकिंग क्षेत्र से जोड़ा जाए.

    Feb 6, 2019
  • अंतरिम बजट 2019-20 की खास बातें

    देश का 15वां अंतरिम बजट कार्यवाहक वित्त मंत्री पियूष गोयल द्वारा पेश किया गया है. चूंकि अगले कुछ महीनों में देश में आम चुनाव होने हैं इसलिए इस बजट के लोक लुभावन होने की पहले से ही उम्मीद थी. आइये इस लेख में जानते हैं कि किस वर्ग के लिए क्या क्या है इस बजट में.

    Feb 1, 2019
  • भारत के वर्तमान पदाधिकारियों की सूची

    इन लेख में हमने भारत में विभिन्न संवैधानिक और गैर-संवैधानिक संस्थाओं के प्रमुखों की सूची जारी की है. यह सूची भारत में आयोजित होने वाली सभी प्रकार की परीक्षाओं जैसे SSC/Banking/CDS/IAS/PCS/TET/CTET के लिए बहुत ही उपयोगी है. विभिन्न परीक्षाओं में इन संस्थाओं के प्रमुखों से सम्बंधित प्रश्न अवश्य पूछे जाते हैं.

    Jan 28, 2019
  • जानें नेपाल ने भारत की करेंसी क्यों बैन की?

    नेपाल ने 14 दिसम्बर 2018 को भारत के 100 रूपए से ऊपर के सभी नोटों को अपने देश में बैन कर दिया है. अर्थात नेपाल जाने वाले भारतीय लोगों (व्यापारी, पर्यटक और आम जन) को नेपाल जाने के लिए 200 रूपए से कम वैल्यू के नोट लेकर ही जाना चाहिए. इस लेख में हम यह विश्लेषण कर रहे हैं कि नेपाल ने यह निर्णय क्यों लिया और इससे दोनों देशों की अर्थव्यवस्थाओं पर क्या प्रभाव पड़ेगा.

    Dec 17, 2018
  • इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक क्या है और इससे आम आदमी को क्या सुविधाएँ मिलेगीं?

    पेमेंट बैंक भारत में मौजूद कमर्शियल बैंकों से अलग प्रकार के बैंक है. पेमेंट बैंकों की स्थापना के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक ने 24 नवम्बर 2014 को दिशा निर्देश जारी कर दिए थे. इस समय देश में 11 पेमेंट बैंक काम कर रहे हैं. सितम्बर 1, 2018 को मोदी जी ने ‘इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक’ का उद्घाटन किया है. इस लेख में बताया गया है कि किस प्रकार इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक आम आदमी के लिए फायदेमंद होगा.

    Sep 4, 2018
  • पेमेंट बैंक किसे कहते हैं और इसकी क्या विशेषताएं है?

    पेमेंट बैंक भारत में मौजूद कमर्शियल बैंकों से अलग प्रकार के बैंक है. इसकी स्थापना के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक ने 24 नवम्बर 2014 में दिशा निर्देश जारी कर दिए थे. पेमेंट बैंक जनता की सामान्य बैंकिंग की जरूरतों को तो पूरा करेंगे लेकिन कुछ प्रतिबंधों के साथ; जैसे पेमेंट बैंक लोगों के कर्रेंट और बचत खाते खोल सकेंगे लेकिन लोगों को क्रेडिट कार्ड नही दे सकेंगे. इस समय देश में 11 पेमेंट बैंक कार्य कर रहे हैं.

    Sep 4, 2018
  • भारत के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले कौन-कौन से हैं?

    किसी भी देश की बैंकिंग व्यवस्था में लोगों की छोटी छोटी बचतों का पैसा जमा होता है. यह जमा राशि जब बड़ी रकम का रूप ले लेती है तो बैंक इस जमा को व्यक्तियों, व्यापारियों, संस्थाओं को उधार दे देते हैं. कई बार देश के बड़े उद्योग घराने जनता की इन छोटी बचतों को अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए उधार ले लेते हैं लेकिन समय पर लौटाते नही हैं जिससे देश की बैंकिंग व्यवस्था चरमरा जाती है.

    Jun 8, 2018
  • एशियाई विकास बैंक के मुख्य कार्य और भारत के विकास में क्या भूमिका है ?

    एशियाई विकास बैंक (ADB) की स्थापना 1966 में हुई थीl इस बैंक की स्थापना का उद्देश्य एशिया-प्रशांत क्षेत्र में आर्थिक और सामाजिक विकास को गति देना थाl 1 जनवरी, 1967 को इस बैंक ने पूरी तरह से काम करना शुरू किया थाl इसका मुख्यालय “मनीला”, फिलीपींस में स्थित हैl इसकी अध्यक्षता हमेशा जापानी को दी जाती है जबकि इसके 3 डिप्टी चेयरमैन का पद किसी अमेरिका, यूरोप और एशिया के नागरिक को दिया जाता हैl

    May 28, 2018
  • अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के (IMF) बारे में 14 परीक्षोपयोगी महत्वपूर्ण तथ्य

    अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) और आईबीआरडी की स्थापना एक ही समय और स्थान पर हुई थी, इस कारण इन दोनों को ब्रेटन वुड्स ट्विन्स के रूप में जाना जाता है. इस लेख में हमने IMF के बारे में सबसे महत्वपूर्ण तथ्यों को संकलित किया है. हम उम्मीद करते हैं कि अगर आपने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के बारे में ये 14 महत्वपूर्ण तथ्य जान लिए तो आप इस संगठन से सम्बंधित किसी प्रश्न को हल कर सकते हैं.

    May 18, 2018
  • अनुसूचित और गैर-अनुसूचित बैंकों के बीच अंतर

    भारत के बैंकिंग क्षेत्र को मुख्य रूप से दो प्रमुख समूहों अर्थात अनुसूचित और गैर-अनुसूचित बैंकों में विभाजित किया जा सकता है. जिन बैंकों को आरबीआई अधिनियम,1934 की द्वितीय अनुसूची में शामिल किया गया है, उनको अनुसूचित बैंक (Scheduled Bank) कहा जाता है. इसके अलावा जिन बैंकों को द्वितीय अनुसूची में शामिल नही किया गया है उनको गैर-अनुसूचित बैंकों (Non-Scheduled Banks) की श्रेणी में रखा जाता है. इस लेख में इन दोनों बैंकों के बीच अंतर को बताया गया है.

    May 10, 2018