कैप्सूल के बारे में 6 अनजाने तथ्य

कैप्सूल को दवाओं और सप्लीमेंट की पसंदीदा वितरण पद्धति के रूप में जाना जाता है. यह शरीर में जल्दी से घुल जाता है और सस्ता भी होता हैं. निर्माण सामग्री के आधार पर बाजार में दो अलग-अलग प्रकार के कैप्सूल उपलब्ध हैं: पारंपरिक जिलेटिन कैप्सूल और शाकाहारी वैरायटी के कैप्सूल.


Source: www.healthline.com
हममें से अधिकतर अपने जीवन काल में दवाएं और हेल्थ सप्लीमेंट लेते ही है परन्तु यह नहीं सोचते है कि कैसे इन दवाओं या कैप्सूल्स को बनाया जाता है. आइए कैप्सूल्स के बारे में कुछ अज्ञात तथ्यों पर नज़र डालते है.
कैप्सूल्स किससे बनते हैं

Source: www.dallasplacentaencapsulation.com

जेनेरिक दवाएं क्या होतीं हैं और ये सस्ती क्यों होती हैं?

1. कैप्सूल के उत्पादन में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री है जिलेटिन क्योंकि यह सस्ता होता है और आसानी से हर जगह मिल जाता है.
2. ये कैप्सूल अपनी आवश्यकताओं के अनुसार विभिन्न रंगों, जायके तथा आकार में भी खरीदे जा सकते हैं.
3. क्या आप जानते हैं कि जिलेटिन जानवरों के उत्पाद द्वारा निर्मित कोलेजन से मिलकर बनता है. जिलेटिन क्राफ्ट और अन्य संयोजी ऊतक से बना होता है, जिनमें मुख्य रूप से जानवरों की हड्डी, गाय और सूअर की चमड़ी से ली गई अमीनो एसिड शामिल है.
4. इसी कारण से कई लोग कैप्सूल को खाना पसंद नहीं करते है.
5. वनस्पति कैप्सूल जैसे की नाम से पता चलता है, किसी भी पशु उत्पाद के साथ नहीं बनाये जाते हैं. इनका निर्माण शाकाहारी व्यक्तियों के लिए किया जाता है और धार्मिक कारणों से भी देखा जाए तो यह स्वीकार्य है. जब तक कैप्सूल के रैपर पर स्पष्ट रूप से 100% शाकाहारी न लिखा हो तो ऐसे कैप्सूल के पशु उत्पादों से बने होने की संभावना हो सकती है.
6. यदि आप इस बारे में अनिश्चित हैं कि कौन-सा कैप्सूल जानवरों के  उत्पाद से बनाया गया है तो आप खरीदने से पहले अपने फार्मासिस्ट की सलाह ले सकते हैं या सामग्री खोजने के लिए विनिर्माण कंपनी से संपर्क कर सकते हैं। कंटेनरों पर लिखे जाने वाली सामग्री से भी पता चल सकता है कि कैप्सूल किससे मिलकर बना है.
कैप्सूल के प्रकार


Source: www. image.slidesharecdn.com

जीका (ZIKA) वायरस क्या है और यह कैसे फैलता हैं?
हार्ड-शेल्लड कैप्सूल (Hard-shelled capsules) : हार्ड-शेल्लड कैप्सूल में पाउडर जैसी सामग्री होती हैं। इन कैप्सूलों में छोटी छोटी गोलियां भी हो सकती है.
सॉफ्ट-शेल्लड कैप्सूल (Soft-shelled capsules) : सॉफ्ट-शेल्लड कैप्सूल में तेल और अन्य सक्रिय तत्व होते हैं जो तेल में मिले हुए होते हैं.
गोलियां और कैप्सूल के बीच क्या अंतर होता है


Source: www. wallpaperscraft.com
- गोली एक संकुचित दवा है जो कि चीनी या किसी अन्य वस्तु द्वारा लेपित होती है और गोलियों का विनिर्माण तुलनात्मक रूप से कम महंगा भी होता है. दूसरी ओर कैप्सूल भी एक दवा है जिसमें तेल या पाउडर होता है जो कि लगभग बेलनाकार कंटेनर में संलग्न होते है.
- गोलियों की खुराक आसानी से स्पिल्ट हो सकती है लेकिन वे कैप्सूल की तरह आपके शरीर में तेज़ी से नहीं घुलती है.
- गोलियों की तुलना में कैप्सूल को आसानी से निगला जा सकता है.
- गोलियां कैप्सूल से सस्ती होती हैं.
- कैप्सूल संवेदनशील दवाओं के अधिक मिश्रणों को काफी समय के लिए स्टोर कर सकते हैं क्योंकि उनके कंटेनर में ऑक्सीजन प्रवेश नहीं करती  हैं.

इस लेख से यह पता चलता है कि कैप्सूल किससे मिलकर बनते है, हमारे लिए कितने हानिकारक होते है या नहीं, गोलियां और कैप्सूल में क्या अंतर होता है, कितने प्रकार के कैप्सूल होते है आदि.

जानें किस ब्लड ग्रुप के व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है

Related Categories

Popular

View More