जानें कैसे मुफ्त में प्राप्त करें ePAN कार्ड?

भारत में लगभग हर सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए या फिर किसी अन्य सेवा का उपयोग करने के लिए आधार और पैन कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है. देश में आधार नंबर और पैन कार्ड का इस्तेमाल बहुत बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार को कम करने में सहयोग कर रहा है. 

लेकिन अभी देश के बहुत से लोगों के पास पैन कार्ड नहीं है जिसके कारण वे बैंकों में खाता नही खुलवा पा रहे हैं और वित्तीय लेन देन भी नहीं कर पा रहे हैं.

यदि लोग पैन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो उन्हें लाइन में लगना पड़ता है, फॉर्म भरने के लिए किसी एजेंट को ज्यादा पैसे देने पड़ते हैं और फिर 2 हफ़्तों में डाक के माध्यम से अपने पैन कार्ड के आने का इंतजार करना पड़ता है. लेकिन अब लोगों को इन सभी झंझटों से छुटकारा मिल गया है. देश में अब तुरंत ही e PAN Card मिल जायेगा.

ePAN Card सुविधा की शुरुआत (Launch of ePAN Card):-

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 2020-21 के बजट भाषण में तुरंत पैन नंबर आवंटन की सुविधा शुरू करने का ऐलान किया था, जिसकी शुरुआत अब कर दी गई है. जिन लोगों को तुरंत ePAN Card लेना है वे वित्त मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं.यहाँ पर डिटेल भरने के बाद रियल टाइम बेसिस पर यह सुविधा मिल जाएगी.

ePAN Card आवंटन प्रक्रिया कागज रहित है और आयकर विभाग द्वारा मुफ्त में इलेक्ट्रॉनिक पैन (ई-पैन) जारी किया जाता है. तत्काल पैन की सुविधा यह सुविधा 28 मई से शुरू की गयी है. इसका 'बीटा संस्करण' फरवरी से ही आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर मौजूद है.

ePAN Card के लिए जरूरी दस्तावेज (Required documents for ePAN Card):-

1. इसके लिए सभी आवेदकों के लिए जरूरी है कि उनके पास आधार कार्ड हो.

2. आधार कार्ड से आपका कांटेक्ट नंबर जुडा हुआ हो.

नोट: जिन लोगों के पास आधार नंबर नहीं है उनको इस सुविधा का लाभ नहीं मिलेगा. इसके अलावा अगर किसी के पास आधार नंबर है लेकिन उसका कांटेक्ट नंबर आधार से नहीं जुडा है उसको भी इस इंस्टेंट ePAN Card सुविधा का लाभ नहीं मिल पायेगा.

ePAN Card के लिए कैसे अप्लाई करें (How can I get instant e PAN card):-

ePAN Card के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया बेहद सरल है. आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर जाएं, अपना आधार नंबर डालें इसके बाद आपने आधार पंजीकृत मोबाइल नंबर पर OTP आएगा. इस OTP को फॉर्म में भरें इसके बाद आपको इस प्रक्रिया के पूरा होने पर, 15-अंकीय रसीद संख्या प्राप्त होगी. इसके आवंटन के साथ ही ई-पैन कार्ड वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है. आधार के साथ पंजीकृत होने पर ई-पैन आवेदक की ईमेल आईडी पर भी भेजा जाता है. 

इस ePAN Card का ठीक वैसा ही महत्त्व है जैसा कि हार्ड कॉपी वाले पैन कार्ड का होता है. आप इसे अपने मोबाइल पर डाउनलोड कर हमेशा के लिए सेव कर सकते हैं. 

ध्यान रहे कि भारत सरकार ने 30 जून 2020 तक पैन कार्ड को आधार से लिंक करना अनिवार्य कर दिया है. अभी आयकर विभाग ने सभी आयकरदाताओं को पैन के बदले अपने आधार नंबर का उपयोग करने की अनुमति दी है.लेकिन इस डेट के बीत जाने के बाद सिर्फ पैन कार्ड से ही आयकर दाखिल किया जा सकेगा.

अगर आप जानना चाहते है कि आधार को पैन नंबर ने कैसे लिंक करें तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें;

अपने आधार कार्ड को पैन कार्ड से कैसे लिंक करें?

कैसे जानें आपका आधार कार्ड कहाँ कहाँ इस्तेमाल किया गया है?

Related Categories

Also Read +
x