Are you worried or stressed? Click here for Expert Advice
Next

भारत में एशिया की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार लांच हो सकती है: जानें इसकी विशेषताओं के बारे में

Shikha Goyal

आने वाले समय में भारतीयों को कार्यालय से लौटते समय ट्रैफिक से परेशान नहीं होना पड़ेगा क्योंकि भारतीय जल्द ही हाइब्रिड कारों के माध्यम से शहरों में अपने गंतव्य के लिए परेशानी मुक्त यात्रा कर सकेंगे.

नागरिक उड्डयन मंत्री (Civil Aviation Minister) ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट के  माध्यम से बताया कि चेन्नई स्थित स्टार्टअप की युवा टीम द्वारा एशिया की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार के कॉन्सेप्ट मॉडल को उनसे परिचित करवाया गया है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आशा व्यक्त की कि जल्द ही फ्लाइंग कारों का इस्तेमाल लोगों और कार्गो के परिवहन के साथ-साथ चिकित्सा आपातकालीन सेवाएं प्रदान करने के लिए किया जा सकेगा.

फ्लाइंग कार का शुभारंभ कब से किया जाएगा?

चेन्नई स्थित विनाटा एरोमोबिलिटी (Vinata Aeromobility) 5 अक्टूबर को दुनिया की सबसे बड़ी हेलिटेक प्रदर्शनी - एक्सेल, लंदन (Helitech Exhibition - Excel, London) में अपनी स्वायत्त हाइब्रिड फ्लाइंग कार लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है.

आइये अब हाइब्रिड फ्लाइंग कार के बारे में जानते हैं 

Vinata AeroMobility वेबसाइट पर उपलब्ध विवरण के अनुसार, हाइब्रिड फ्लाइंग कार के कुछ विशेष विवरण निम्नलिखित हैं:

विमान का प्रकार: हाइब्रिड-इलेक्ट्रिक VTOL (पैसेंजर)

फ्लाइंग कार की क्षमता: दो यात्री (पायलट और यात्री के लिए एक वैकल्पिक)

रोटर कॉन्फ़िगरेशन (Rotor Configuration): को-एक्सियल क्वाड-रोटर (Co-axial quad-rotor)

प्रोपेलर (Propeller): 8 * फिक्स्ड पिच प्रोपेलर (8*Fixed pitch propellers)

इलेक्ट्रिक मोटर्स (Electric motors): 8 * BLDC मोटर्स

पॉवर का स्रोत (Power source): जनरेटर (जैव ईंधन)

कैनोपी (Canopy) : पैनोरमिक विंडो कैनोपी 300 डिग्री का द्रश्य प्रदान करती है (Panoramic window canopy provided for 300 degree)

लैंडिंग गियर (Landing gear): क्वाड्रिसाइकिल लैंडिंग गियर (Quadricycle landing gear)

प्रोपेलर सहित लंबाई (Length including propeller): 5548 मिलीमीटर

प्रोपेलर सहित चौड़ाई (Breadth including propeller): 5477.53 मिलीमीटर

ऊंचाई (Height): 2240 मिलीमीटर

अधिकतम टेक ऑफ वजन (Maximum take off weight): 1300 किग्रा

खाली वजन (Empty weight): 990 किलो

- अधिकतम उड़ान समय 60 मिनट होने का दावा किया गया है और इसकी अधिकतम गति 120 किमी प्रति घंटा है.

- रेंज 100 किलोमीटर है और सर्विस सीलिंग 3,000 फीट है. 

- उड़ने वाली कार में डिस्ट्रीब्यूटेड इलेक्ट्रिक प्रोपल्शन (Distributed Electric Propulsion, DEP) भी है, जो अपने यात्रियों को अतिरेक के माध्यम से सुरक्षा प्रदान करता है.

यहीं आपको बता दें कि डिस्ट्रीब्यूटेड इलेक्ट्रिक प्रोपल्शन का मतलब है कि विमान में विभिन्न प्रोपेलर के साथ-साथ मोटर भी हों, इसलिए यदि एक या अधिक प्रोपेलर या मोटर विफल हो जाते हैं, तो अन्य काम करने वाले प्रोपेलर और मोटर विमान को सुरक्षित रूप से उतार सकते हैं.

- इसके अलावा, जनरेटर की बिजली बाधित होने की स्थिति में, बैकअप पावर मोटर बिजली प्रदान करती है.

- ऐसा बताया जा रहा है कि हाइब्रिड फ्लाइंग कार में एक इजेक्शन पैराशूट होगा. इसमें एयरबैग सक्षम कॉकपिट के साथ एक पैराशूट होगा.

हाइब्रिड फ्लाइंग कार के फायदे 

विनाटा की हाइब्रिड फ्लाइंग कार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) के साथ डिजिटल इंस्ट्रूमेंट पैनल हैं, जो कार को उड़ाने और चलाने के अनुभव को अधिक आकर्षक और परेशानी मुक्त बनाते हैं.

कंपनी का दावा है कि उसकी फ्लाइंग कार शानदार है, बाहरी रूप से आकर्षक है, इसमें जीपीएस ट्रैकर और बोर्ड पर मनोरंजन है.

फ्लाइंग कार में पैनोरमिक विंडो कैनोपी है जो 300 डिग्री का दृश्य प्रदान करती है.

भारत में बजट सेडान कारें छोटी क्यों होती हैं? जानें भारत की प्राचीन गुप्त सुरंगों के बारे में

 

 

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश

Related Categories

Live users reading now