Advertisement

भारत के 7 प्रधानमंत्री और उनकी अद्भुत कारें

प्रधानमंत्री देश का प्रतिनिधि और भारत सरकार का मुख्य कार्यकारी अधिकारी होता है। वह संसद में बहुमत प्राप्त पार्टी का नेता भी होता है। वह देश के राष्ट्रपति का मुख्य सलाहकार होने के साथ ही मंत्रीपरिषद का मुखिया भी होता है। स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से अब तक भारत में 15 प्रधानमंत्री हुए हैं| वर्तमान में भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र दामोदरदास मोदी जी हैं| अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्री बनने से पहले भारत के सभी प्रधानमंत्री हिंदुस्तान मोटर्स द्वारा निर्मित एम्बेसडर कार "सेडान" से भ्रमण करते थे|
 
अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्री बनने से पहले भारत के सभी प्रधानमंत्री हिंदुस्तान मोटर्स द्वारा निर्मित एम्बेसडर कार "सेडान" से भ्रमण करते थे और इसे "रेलीस ऑफ द राज" (Relic of the Raj) भी कहा जाता था| प्रधानमंत्री वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के काफिले से एम्बेसडर कार "सेडान" को हटाकर आलीशान बीएमडब्ल्यू 7 सीरीज की बुलेट प्रूफ लक्जरी सैलून को शामिल किया| तब से भारत के सभी प्रधानमंत्री बीएमडब्ल्यू सीरीज के वाहन से ही यात्रा करते हैं|

आइये प्रधानमंत्रियों की कारों के बारे मे और जानकारी प्राप्त करते हैं:

1. इंदिरा गाँधी


 इंदिरा गाँधी भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस की टिकट पर राय बरेली की सांसद के रूप में चुनी जाने के बाद प्रधानमंत्री बनी थी और उन्होंने 24 जनवरी 1966 से 24 मार्च 1977 तक राष्ट्र को अपनी सेवाएँ दी थी। वह अपनी सफेद रंग की एम्बेसडर कार से ही जाया करती थी | पर कभी कभी घोड़े की बग्गी से भी दिल्ली मे भ्रमण करना पसंद करती थी |

जानें प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड्स के ब्रीफ़केस में क्या होता है

प्रधानमंत्री आवास के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य

भारत में प्रतिष्ठित व्यक्तियों के लिए सुरक्षा श्रेणियां

2. पी.वी नरसिंह राव

 
Source: www.siliconindia.com

पी.वी नरसिंह राव 1991 और 1996 के बीच भारत के प्रधानमंत्री थे, इनके समय में ही आर्थिक उदारीकरण हुआ था। लेकिन इस आर्थिक उदारीकरण का लाभ उन्हें प्राप्त नहीं हुआ, खासकर उस कार के संदर्भ में जिससे वह यात्रा करते थे| उस दौर में भारत समाजवाद से सामाजिक पूंजीवाद की ओर बढ़ रहा था लेकिन प्रधानमंत्री नरसिंह राव अपनी यात्राओं के लिए हिंदुस्तान मोटर्स द्वारा निर्मित एम्बेसडर कार का ही प्रयोग करते रहे|

3. एच डी देवगौड़ा


 एच डी देवगौड़ा जून 1996 से अप्रैल 1997 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे| उनको प्रधानमंत्री के रूप में काम करने का बहुत ही कम समय मिला था| उन्होंने अपनी ऊर्जा और ध्यान को प्रधानमंत्री भवन की वास्तु को सही करने मे लगाया और अपने सोफे की पीछे की सीट के लिए प्रशंसित पहियों का एक सरल सेट को प्राथमिकता दी। ये भी हिंदुस्तान एम्बेसडर की सवारी किया करते थे|
4. इन्द्र कुमार गुजराल
 
Source:www.upload.wikimedia.org.com

एक अस्थिर गठबंधन के तहत प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल भारत के शीर्ष पद पर 2 वर्षों तक रहे। चूंकि वह ज्यादा लंबे समय के लिए प्रधानमंत्री नहीं थे, अतः वह पूर्व प्रधानमंत्री राव के द्वारा सौंपी गई एक सफेद हिंदुस्तान एम्बेसडर इस्तेमाल किया करते थे|

 

5. अटल बिहारी वाजपेयी


भारत रत्न से नवाज़े गए अटल बिहारी वाजपेयी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के मुखिया थे और सबसे लंबे समय तक सेवारत सांसदों मे से एक थे | वाजपेयी के प्रधानमंत्री बनने तक भारतीय प्रधानमंत्री एम्बेसडर कार से ही यात्रा करते थे| वाजपेयी ने सर्वप्रथम बीएमडब्ल्यू 7i और 5i सीरीज को चुना जोकि बुलेट प्रूफ थी और इसके बाद से अब तक भारत के सभी प्रधानमंत्री इसी सीरीज का प्रयोग कर रहे हैं| वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल में आतंकी हमले बढ़ रहे थे, अतः उन्होंने प्रधानमंत्री की सवारी की रक्षा के लिए विशेष सुरक्षा समूह को नियुक्त किया जो अमेरिकी सीक्रेट सर्विस की तरह क्षमतावान थी| यह विशेष सुरक्षा समूह ही इस बात का फैसला करती है कि प्रधानमंत्री अपनी यात्रा के दौरान किन रास्तों से जाएंगे|
वाजपेयी के समय में प्रधानमंत्री के काफिले में बीएमडब्ल्यू 740 ली कारें, वी 8 पेट्रोल मोटर्स चला करती थी| वाजपेयी जी द्वारा एम्बेसडर कार को बदलने के पीछे एक अजीब घटना है| एक बार वाजपेयी जी की कार एम्बेसडर “फेरी” का दरवाजा जाम हो गया था| तब वाजपेयी जी को पहले आगे वाली सीटों के बीच खाली जगह के माध्यम से अगली सीट वर लाया गया और उसके बाद अगले दरवाजे से बाहर निकला गया| जिसके बाद वाजपेयी को ऑफिस पहुंचाया गया| मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री बनने के बाद वाजपेयी द्वारा प्रयुक्त 4 बीएमडब्ल्यू को काफिले से हटा दिया गया|  

जाने भारत के प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था कैसी होती है
 6. मनमोहन सिंह
 
Source:www.cdn.cartoq.com
मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री के रूप मे 10 वर्षो तक कार्य किया|डॉ मनमोहन सिंह के आधिकारिक सवारी के रूप में प्रधानमंत्री वाजपेयी की BMW 7 सीरीज़ और BMW X5 SUVs के चारों ओर अन्य गाड़ियों के माध्यम से एक घेरा का गठन किया गया था। वर्तमान में प्रधानमंत्री के काफिले में रेडियो तरंगों से लैस उपकरण वाले टाटा सफारी के अलावा एक मर्सिडीज स्प्रिंटर एम्बुलेंस भी चलती है|
7. नरेन्द्र मोदी
 
Source:www.s3.india.com
मोदी जी ने मई 2014 से प्रधानमंत्री के कार्य को संभाला है | उनके काफिले में बुलेट प्रूफ बीएमडब्ल्यू 760Li कार चलती है | यह उनको 44 मैग्नम और राइफल AK47 सहित बंदूकों के हमलों से सुरक्षित करती है| इसमें कुछ ऐसे डिवाइस होते है जो कि विस्फोटक बम और मिसाइलों से भी रक्षा करते है| यहां तक कि कार में फ्लैट टायर लगे हुए है जो कि कई किलोमीटर की दूरी तय कर सकते है पंक्चर होने के बाद और इसके साथ 20 इंच का बुलेटप्रूफ अल्लोय भी लगा हुआ होता है | ऑक्सीजन की कमी को पूरा करके यह गैस हमलों के मामले में भी प्रधानमंत्री को सुरक्षा प्रदान करती है।  सुरक्षा को और मजबूत करने के लिए आत्म सील वाला ईंधन टैंक (self sealing fuel tank) लगा हुआ है ताकि ईंधन टैंक में किसी भी प्रकार के विस्फोट को रोका जा सके |

प्रधानमंत्री मोदी की महत्वपूर्ण विदेश यात्राएं

 

Advertisement

Related Categories

Advertisement