प्रियंका गांधी की जीवनी: परिवार, शिक्षा और राजनीतिक जीवन

जन्म: 12 जनवरी, 1972
जन्म स्थान: नई दिल्ली, भारत
पिता: राजीव गांधी
माँ: सोनिया गाँधी
पति: रॉबर्ट वाड्रा
बच्चे: रेहान और मिराया
शिक्षा: दिल्ली विश्वविद्यालय से एम.ए.
राजनीतिक दल: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (कांग्रेस)
पेशा: राजनीतिक प्रचारक

प्रियंका गांधी या प्रियंका गांधी वाड्रा एक भारतीय राजनेता और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और फिरोज गांधी की पोती हैं. उनके पिता पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी और माता सोनिया गांधी हैं. वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की सदस्य हैं. वह अपने आप में एक अद्वितीय व्यक्तित्व है और अक्सर प्रियंका गाँधी की तुलना दादी-माँ के साथ की जाती है. उन्होंने अपना पहला भाषण 16 साल की उम्र में ही दे दिया था, जिससे यह पता चलता है कि उनके अंदर नेता की गुणवत्ता अंतर्निर्मित है और यह वंशानुगत है. जैसा कि हम जानते हैं कि वह 2019 तक राजनीति में वे ज्यादा सक्रिय नहीं थीं. होने वाले लोकसभा चुनाव में सभी पार्टी जीत हासिल करने के लिए काफी मेहनत कर रही हैं. इसी के कारण कांग्रेस पार्टी ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है और प्रियंका गाँधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश के AICC के जनरल सेकेटरी बनाने का निर्णय लिया गया है. आइये इस लेख के माध्यम से प्रियंका गांधी की जीवनी, उनका जीवन, शिक्षा, राजनीतिक सफर, परिवार इत्यादि के बारे में अध्ययन करते हैं.

प्रियंका गांधी: परिवार और प्रारंभिक जीवन
प्रियंका गांधी या प्रियंका गांधी वाड्रा का जन्म 12 जनवरी, 1972 को नेहरू-गांधी परिवार में हुआ था. वह राजीव गांधी और सोनिया गांधी की बेटी हैं. उनके पिता भारत के प्रधानमंत्री थे और माँ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की अध्यक्ष थीं. राहुल गांधी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष प्रियंका गांधी के भाई हैं. वह अपने भाई राहुल गांधी से दो साल छोटी हैं. उन्होंने 18 फरवरी,1997 को एक व्यवसायी रॉबर्ट वाड्रा से शादी की और रेहान और मिराया 2 बच्चों की मां हैं.
आपको बता दें कि संजय गांधी उनके चाचा थे जिनकी 1980 में विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी और मेनका गांधी उनकी चाची हैं और दक्षिणपंथी राजनीतिक दल, भाजपा की एक राजनेता और महिला और बाल विकास की केंद्रीय कैबिनेट मंत्री हैं. वरुण गांधी प्रियंका गांधी के चचेरे भाई और भाजपा के एक राजनीतिज्ञ हैं.

राजीव गांधी के बारे में 10 अज्ञात तथ्य

प्रियंका गांधी: शिक्षा
उन्होंने अपनी प्राथमिक और उच्च शिक्षा मॉडर्न स्कूल और कॉन्वेंट ऑफ जीसस एंड मैरी, नई दिल्ली से पूरी की. उन्होंने 2010 में साइकोलॉजी विषय में स्नातक और फिर बौद्ध अध्ययन में एम.ए किया.

प्रियंका गांधी: राजनीतिक जीवन

वह जनवरी 2019 तक राजनीति में सक्रिय नहीं रहीं, लेकिन वह अमेठी और रायबरेली निर्वाचन क्षेत्र में लोकप्रिय हैं. क्या आप जानते हैं कि 2004 में, वह उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अपनी माँ के अभियान की प्रबंधक थीं? उन्होंने 2007 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अमेठी-रायबरेली क्षेत्र की 10 सीटों के लिए कांग्रेस पार्टी की मदद की. आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उन्हें 23 जनवरी, 2019 को पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रभारी के रूप में कांग्रेस पार्टी का महासचिव नियुक्त किया गया है.

प्रियंका गांधी या प्रियंका गांधी वाड्रा के बारे में कुछ रोचक तथ्य

- 16 साल की उम्र में प्रियंका गाँधी ने अपना पहला भाषण दिया था जो कि एक नेता की विरासत की गुणवत्ता को दर्शाता है.

- प्रियंका गांधी बौद्ध धर्म की अनुयायी और उन्होंने विपासना के एक चिकित्सक एस एन गोयनका से इसकी शिक्षा प्राप्त की. इसके बाद प्रियंका बौद्ध धर्म में परिवर्तित भी हो गई थी. वह एक सख्त अनुशासनात्मक व्यक्ति हैं.

- उन्होंने अपने बचपन के दोस्त रॉबर्ट वाड्रा से 18 फरवरी, 1997 को शादी की थी. वह दिल्ली का एक व्यापारी है.

- रॉबर्ट वाड्रा की बहन मिशेल प्रियंका गांधी की सहपाठी और अच्छी दोस्त थीं.

- प्रियंका गांधी को खाना बनाना, पढ़ना, मैडिटेशन और फोटोग्राफी करना बेहद पसंद है.

- वह एक बहुत अच्छी आर्गेनाइजर हैं. उन्होंने राजनीतिक हित के मामले में अपनी माँ की मुख्य सलाहकार की भूमिका निभायी है.

- उनकी पसंदीदा पुस्तक जवाहरलाल नेहरु द्वारा लिखित 'डिस्कवरी ऑफ़ इंडिया' है.

- कहा जाता है कि प्रियंका की दादी इंदिरा गांधी की हत्या के बाद उन्हें अपनी पढ़ाई छोड़नी पड़ी और घर पर ही उनकी शिक्षा हुई.

- रेडियो ऑपरेटिंग में, प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपना करियर बनाने की कोशिश की थी.

- वह राजीव गांधी फाउंडेशन की ट्रस्टी भी हैं.

एक प्रभावशाली व्यक्तित्व, सख्त अनुशासनात्मक, एक अच्छी माँ और उत्तर प्रदेश पूर्व के लिए AICC की महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा हैं.

महात्मा गांधी के जीवन का सार

मनोहर पर्रिकर की जीवनी

Advertisement

Related Categories

Popular

View More