भारत में राज्यों के मुख्यमंत्रियों को कितनी सैलरी मिलती है?

एक राज्य का मुख्यमंत्री राज्य में ठीक उसी तरह की शक्तियां रखता है जैसा कि प्रधानमंत्री को पूरे देश में प्राप्त होतीं हैं. किसी राज्य का मुख्यमंत्री राज्य विधानसभा में विधायकों का नेता होता है जबकि प्रधानमंत्री लोकसभा में सांसदों का नेता होता है.

भारत सरकार के अधिकारियों को उनके काम के लिए वेतन मिलता है. भारत के प्रधानमन्त्री को संसद सदस्य के रूप में हर माह 1.6 लाख रुपये मिलते हैं और इसके अलावा उसे अन्य  भत्ते भी मिलते हैं. भारतीय राष्ट्रपति का वेतन रु. 5 लाख प्रति माह और अन्य भत्ते भी मिलते हैं जो कि पूरे भारत में किसी भी अधिकारी से अधिक है.

भारत में मुख्यमंत्रियों का वेतन एक राज्य से दूसरे राज्य में भिन्न होता है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री को देश के अन्य मुख्यमंत्रियों की तुलना में सबसे अधिक वेतन मिलता है.

तालिका में भारत के मुख्यमंत्रियों के वेतन पर एक नज़र डालें;

क्रम संख्या

                                 राज्य

                           सैलरी (प्रति माह रुपये में)

1.

तेलंगाना

Rs.410,000 (US$5,900)

2.

दिल्ली

Rs.390,000 (US$5,600)

3.

उत्तर प्रदेश

Rs.365,000 (US$5,300)

4.

महाराष्ट्र

Rs.340,000 (US$4,900)

5.

आंध्र प्रदेश

Rs.335,000 (US$4,800)

6.

गुजरात

Rs.321,000 (US$4,600)

7.

हिमाचल प्रदेश

Rs.310,000 (US$4,500)

8.

हरियाणा 

Rs.288,000 (US$4,200)

9.

झारखंड

Rs.272,000 (US$3,900)

10.

मध्य प्रदेश

Rs.255,000 (US$3,700)

11.

छत्तीसगढ़

Rs.230,000 (US$3,300)

12.

पंजाब

Rs.230,000 (US$3,300)

13.

गोवा

Rs.220,000 (US$3,200)

14.

बिहार

Rs.215,000 (US$3,100)

15.

पश्चिम बंगाल

Rs.210,000 (US$3,000)

16.

तमिलनाडु

Rs.205,000 (US$3,000)

17.

कर्नाटक

Rs.200,000 (US$2,900)

18.

सिक्किम

Rs.190,000 (US$2,700)

19.

केरल

Rs.185,000 (US$2,700)

20.

राजस्थान

Rs.175,000 (US$2,500)

21.

उत्तराखंड

Rs.175,000 (US$2,500)

22.

ओडिशा

Rs.160,000 (US$2,300)

23.

मेघालय

Rs.150,000 (US$2,200)

24.

अरुणाचल प्रदेश

Rs.133,000 (US$1,900)

25.

असम

Rs.125,000 (US$1,800)

26.

मणिपुर

Rs.120,000 (US$1,700)

27.

नागालैंड 

Rs.110,000 (US$1,600)

28.

त्रिपुरा

Rs.105,500 (US$1,500)

उपरोक्त तालिका से पता चलता है कि अमीर भारतीय राज्य अपने मुख्यमंत्रियों को अच्छी सैलरी दे रहे हैं जबकि उत्तर पूर्व के राज्यों की तरह गरीब राज्य अपने मुख्यमंत्रियों को कम वेतन दे रहे हैं.

यह बहुत आश्चर्यजनक तथ्य है कि सिर्फ तीन राज्य, तेलंगाना, दिल्ली और उत्तर प्रदेश अपने प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को राज्य के राज्यपालों के वेतन से अधिक वेतन दे रहे हैं.

यह सूची विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण है इसलिए विद्यार्थियों को इसे ध्यान से याद रखने की आवश्यकता है.

क्या आप भारत के सभी वेतन आयोगों का इतिहास जानते हैं?

जानें सरकार हर वर्ष बजट क्यों पेश करती है?

Advertisement

Related Categories

Popular

View More