भारत में राज्यवार अक्षय ऊर्जा उत्पादन की स्थिति क्या है?

ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोतों में वे स्रोत शामिल किये जाते हैं जो कि एक बार इस्तेमाल हो जाने पर दुबारा इस्तेमाल करने लायक हो जाते हैं. नवीकरणीय उर्जा/ अक्षय ऊर्जा स्रोतों के नाम हैं; सूर्य ऊर्जा, पनचक्की उर्जा, भूतापीय ऊर्जा और बायोमास (इसमें इथेनॉल, बायोडीजल आते हैं).

नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत की कुल अक्षय ऊर्जा उत्पादन क्षमता 896602 मेगावाट है. राजस्थान सौर ऊर्जा उत्पादन और देश में कुल अक्षय ऊर्जा उत्पादन का सबसे बड़ा उत्पादक है, इसके बाद 118208 मेगावाट उत्पादन क्षमता के साथ जम्मू और कश्मीर दूसरे और 74500 मेगावाट अक्षय ऊर्जा का उत्पादन करके महाराष्ट्र तीसरे स्थान पर है.

भारत के पास अक्षय ऊर्जा स्रोतों जैसे सौर ऊर्जा, वायु उर्जा , जल उर्जा और जैव-ऊर्जा से 900 गीगावॉट नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादन की क्षमता है. नीचे दी गयी तालिका में देखा जा सकता है कि भारत का कौन सा राज्य कितनी अक्षय ऊर्जा का उत्पादन करता है.

    राज्य

   वायु उर्जा (MW)                                           सौर उर्जा (MW)

 कुल उर्जा उत्पादन क्षमता  (MW)

 1. राजस्थान   

  5050                                                   142310

148518

 2. जम्मू और कश्मीर

  5685                                                    111050

118208

 3. महाराष्ट्र

  5961                                                    64320

74500

 4. गुजरात

  35071                                                  35770

72726

 5. मध्य प्रदेश

  2931                                                    61660

66853

 6. आंध्र प्रदेश

  14497                                                  38440

54916

 7.  कर्नाटक

  13593                                                  24700

44015

 8. हिमाचल प्रदेश

  64                                                       33840

36446

 9. तमिलनाडु

  14152                                                  17670

34152

 10. उत्तर प्रदेश

  1260                                                    22830

27593

 11. ओडिशा

  1384                                                    25780

27728

 12. तेलंगाना

--                                                          20410

20410

 13. छत्तीसगढ़

  314                                                      18270

19951

 14. उत्तराखंड

  534                                                      16800

19071

 15. झारखण्ड

  91                                                       18180

18580

Sources: Ministry of New and Renewable Energy

भारत में अक्षय ऊर्जा से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य:

1. भारत का अक्षय ऊर्जा सेक्टर दुनिया में दूसरा सबसे आकर्षक अक्षय ऊर्जा का बाजार है.

2. कुल स्थापित पवन ऊर्जा क्षमता के मामले में भारत दुनिया में चौथे स्थान पर है.

3. जनवरी से नवंबर 2017 तक; भारत ने अक्षय स्रोतों से लगभग 12 गीगावॉट बिजली उत्पादन किया है.

4. वर्तमान में भारत के पास नवीकरणीय स्रोतों (Renewable sources) से 58.30 गीगावाट उर्जा उत्पादन की क्षमता है जो कि भारत की कुल ऊर्जा उत्पादन का लगभग 18.5% है.

5. भारत की कुल सौर उर्जा उत्पादन क्षमता 2035 तक वैश्विक सौर क्षमता का 8% होने की उम्मीद है.

6. भारत में कुल 148518 मेगावाट “अक्षय उर्जा” उत्पादन और 142310 मेगावाट  “सौर ऊर्जा” उत्पादन के साथ राजस्थान पूरे देश में सबसे पहला स्थान रखता है.

निष्कर्ष में यह कहा जा सकता है कि भारत शीध्र ही अक्षय उर्जा के क्षेत्र में दुनिया में एक उत्कृष्ट स्थान हासिल कर लेगा और हाल ही में नई दिल्ली में संपन्न “अंतर्राष्ट्रीय सौर एलायंस” शिखर सम्मेलन इसका बहुत बड़ा सबूत है.

जानें अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन क्या है?

Advertisement

Related Categories

Popular

View More