क्षार क्या है और कितने प्रकार का होता है?

क्षार (Base) एक ऐसा पदार्थ है जो अम्ल (Acid) के साथ प्रतिक्रिया करके लवण बनाता है. क्षार धातु मुलायम, चमकदार, मानक ताप तथा दाब पर उच्च अभिक्रियाशील होती हैं. कोमलता के कारण यह एक चाकू से आसानी से काटी जा सकती हैं. परन्तु यह शीघ्र अभिक्रिया करने वाले होते हैं, इसलिए इन्हें वायु तथा इनके बीच की रासायनिक अभिक्रिया को रोकने हेतु इन्हें तेल आदि में संग्रहित किया जाता है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते है कि क्षार क्या होते है, कितने प्रकार के होते है और इसके क्या-क्या गुण है.
क्षार क्या है?
क्षार (base) का स्वाद bitter होता है. क्षार को छूने से साबुन के जैसा महसूस होता है. यह एक ऐसा पदार्थ है, जिसको जल में मिलाने से जल का pH मान 7.0 से अधिक हो जाता है. इसलिए ये लाल लिट्मस पेपर को ब्लू में बदल देता है. यह अम्लीय पदार्थों को OH-  आयन दान करता हैं.
उदाहरण: कॉस्टिक सोडा [Caustic soda (sodium hydroxide)], Washing soda (sodium carbonate), पोटैशियम हाइड्रॉक्साइड (Potassium hydroxide),  Slaked lime (calcium hydroxide), आदि. क्या आप जानते हैं कि सभी मेटल ऑक्साइड, मेटल हाइड्रॉक्साइड तथा मेटल कार्बोनेट क्षार (base) होते हैं. क्षार के लगभग रासायनिक गुण अम्ल (Acid) के विपरीत होते हैं. जब क्षार, अम्ल के साथ प्रतिक्रिया करता है तो दोनों एक दूसरे को उदासीन (neutralize) बना देते हैं तथा लवण (salt) एवं पानी (water) बनता है. मेटल के ऑक्साइड (Oxides), हाइड्रोक्साइड (Hydroxides) तथा कार्बोनेट (Carbonate) क्षार ही होते हैं.

जानें लोहे में जंग कैसे लगता है?
क्षार के प्रकार (Types of bases)
क्षार को, पानी में घुलनशीलता के आधार पर दो भागों में विभाजित किया गया है.
1. पानी में घुलनशील क्षार यानी ऐल्कैली (Alkali)
2. पानी में अघुलनशील क्षार यानी क्षारक (Base)
अधिकांश तौर पर क्षार पानी में अघुलनशील होते हैं. क्षारक (Base) और क्षार (ऐल्कैली) पर्यायवाची शब्द नहीं हैं. सब क्षार क्षारक हैं पर सब क्षारक क्षार नहीं हैं. क्षार-धातुओं के ऑक्साइड, जैसे सोडियम ऑक्साइड, जल में घुलकर हाइड्रॉक्साइड बनाते हैं. ये प्रबल क्षारकीय होते हैं. क्षारीय मृदाधातुओं के आक्साइड, जैसे कैल्सियम ऑक्साइड, जल में अल्प विलेय और अल्प क्षारीय होते हैं. अन्य धातुओं के ऑक्साइड जल में नहीं घुलते और उनके हाइड्रॉक्साइड परोक्ष रीतियों से ही बनाए जाते हैं.
ऐल्कैली (Alkali)
जो क्षार, पानी में घुलनशील होते है उन्हें ऐल्कैली (Alkali) कहा जाता है. Alkaline metals का ऐल्कैली, एक basic ionic salt है. लिथियम, सोडियम, पोटैशियम, आदि ऐल्कैली धातु कहलाते हैं. और तो और alkaline earth metals के हाइड्रोक्साइडों को भी ऐल्कैली कहते हैं.
उदाहरण के लिए: सोडियम हाइड्रॉक्साइड, कैल्शियम हाइड्रॉक्साइड, पोटैशियम  हाइड्रॉक्साइड, लिथियम हाइड्रॉक्साइड, आदि. अमोनिया अधातु (non-metal) का एक लवण (hydride salt) है, परंतु यह एक क्षार है.
क्षार के गुण (Properties of Bases)
-  क्षार स्वाद में तीखा (Bitter) होता है.
-  क्षार का जलीय घोल छूने में साबुन की तरह होता है.
-  क्षार या भस्म लाल लिटमस पेपर को ब्लु में बदल देता है.
-  क्षार, अम्ल के साथ प्रतिक्रिया करके उसको उदासीन (Neutralise) कर देता है.
-  क्षार में पानी को मिलाना एक उष्माक्षेपी प्रक्रिया (Exothermic process) है.
-  क्षार, अम्ल के साथ प्रतिक्रिया कर लवण (Salt) तथा पानी बनाता है.
- कुछ क्षार प्रबल (strong) और कुछ कमजोर (weak)  होते हैं.
- क्षारों में जल मिलाने से इनकी सांद्रता (concentration) कम हो जाती है
उपरोक्त लेख से ज्ञात होता है कि क्षार क्या होता है, कैसे बनता है, कितने प्रकार का होता है और इसके क्या-क्या गुण होते हैं.

रासायनिक अभिक्रियाएं कितने प्रकार की होती हैं

Advertisement

Related Categories