क्या है होम क्वारंटाइन? और यह COVID-19 से निपटने में कैसे मदद करता है?

WHO के अनुसार, कोरोनावायरस या COVID-19 422,959  लोगों को प्रभावित करने वाली वैश्विक महामारी में बदल गया और 18,907 लोगों  की मृत्यु (इस लेख को लिखने के समय) का दावा किया है। लगभग 190 देश इस घातक वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, देश में अब तक 11 मौतों के साथ 562 लोग संक्रमित हुए हैं। तेजी से फैलने वाले इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए, क्वारंटाइन एक आवश्यक कदम है। आइये  जानतें हैं क्या है होम क्वारंटाइन के बारें  में ?

"होम क्वारंटाइन का मतलब घर पर अपने आप को दूसरे लोगों से अलग कर लेना है | अगर आपको कोरोना  वायरस से संक्रमित होने का संदेह है या सर्दी-जुखाम लगा हुआ है तो आप एक कमरे में अपने आप को अलग कर लें | इससे  किसी  को वायरस नहीं फैलेगा |" 

COVID-19  से बचाव को लेकर घर में खुद को क्वारंटाइन करने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कुछ  दिशा-निर्देश जारी किए हैं। मंत्रालय के मुताबिक घर पर अलग रहने का उद्देश्य 'आपको और आपके अपनों की रक्षा करना है।' अगर आपको या आपके परिवार को इस खतरनाक वायरस से संक्रमित होने का संदेह है, तो इन दिशा-निर्देशों को फॉलो कर आप अपने घर में ही खुद को आइसोलेट (अलग) कर सकते हैं।

घर पर ऐसे कर सकतें हैं अपने आप को क्वारंटाइन

  • होम क्वारंटाइन के लिए एक हवादार कमरा हो , जिसमे टॉयलेट भी हो | 
  • अगर उस कमरें में अन्य परिजन भी हो, तो दोनों में एक मीटर की दूरी हो | 
  • दोनों शख्स घर के अन्य बुज़ुर्गों, गर्भवतियों और बच्चों से दूर रहें | 
  • संदिग्ध किसी भी समारोह या भीड-भाड नाली जगह ना जाएं | 
  • साबुन से हाथ धोएं और अलकोहाल बेस्ड हैंड Sanitizer का इस्तेमाल करें | 

होम क्वारंटाइन के परिवार के सदस्यों के लिए गाइडलाइन्स 

  • केवल एक सदस्य को इस तरह की देखभाल करने का काम सौंपा जाना चाहिए
  •  ऐसे व्यक्ति के  त्वचा के सीधे संपर्क में आने से बचें
  • सफाई करते  समय डिस्पोजेबल दस्ताने का उपयोग करे
  • दस्ताने हटाने के बाद हाथ धोएं
  • घर में किसी बाहरी व्यक्ति ना आने दें
  • यदि व्यक्ति को अलग किया जा रहा है तो रोगसूचक, उसके सभी करीबी संपर्क बन जाते हैं

होम क्वारंटाइन व्यक्ति के लक्षण नजर आएं तो 14 दिनों तक सभी नजदीकी संपर्क बंद कर दें | ऐसा तब  तक करें जब तक रिपोर्ट नेगेटिव न आ जाए | 

 

क्या क्वारंटाइन वास्तव में COVID-19 से निपटने में मदद करता है?

चीन में COVID-19 सकारात्मक मामलों की बढ़ती संख्या के साथ, लोगों को क्वारंटाइन करने के लिए सख्त प्रतिबंध लगाए गए थे। बसों, रेलवे, उड़ानों आदि को निलंबित कर दिया गया और लोगों को घर तक सीमित कर दिया गया। इससे बीमारी के प्रसार में गिरावट आई। डब्ल्यूएचओ के अनुसार, चीन में प्रत्येक दिन नए मामलों की संख्या में काफी हद तक  गिरावट देखी गई।

तेजी से फैलने वाले घातक वायरस से निपटने के लिए, भारत के प्रधान मंत्री ने 24 March 2020  मंगलवार को  भारतवर्ष में 21 दिन के lockdown की घोषणा की है| इसके  अलावा देश के लोगों को संयम रखने और अपने अपने घरों में रहने की सलाह दी है|

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x