लालजी टंडन:जीवनी, और राजनीतिक करियर

मध्य प्रदेश के राज्यपाल और भारतीय जनता पार्टी के नेता लालजी टंडन का 85 वर्ष की आयु में 21 जुलाई 2020 को लखनऊ में निधन हो गया है.वे काफी दिनों से कई बीमारियों से ग्रस्त थे.वह दो कार्यकाल तक उत्तर प्रदेश विधान परिषद (विधान परिषद) के सदस्य रहे और वह तीन बार, 1996-2009 तक विधान सभा (एमएलए) के सदस्य बने रहे थे.आइये इस लेख में उनकी जीवनी जानते हैं.
Created On: Jul 21, 2020 09:39 IST
Modified On: Jul 21, 2020 09:39 IST
Bharatiya Janata Party leader Lalji Tandon
Bharatiya Janata Party leader Lalji Tandon

लालजी टंडन का  व्यक्तिगत विवरण

जन्म तिथि: 12 अप्रैल 1935

जन्मस्थान: चौक, लखनऊ, संयुक्त प्रांत, ब्रिटिश भारत 

निधन: 21 जुलाई 2020 (आयु 85 वर्ष), लखनऊ, उत्तर प्रदेश, भारत

राजनीतिक दल: भारतीय जनता पार्टी

पत्नी: कृष्णा टंडन 

शादी का वर्ष: 1958

बच्चे: 3 (आशुतोष टंडन सहित)

पढाई: कालीचरण डिग्री कॉलेज, लखनऊ विश्वविद्यालय

लालजी टंडन को 11 जून को बुखार और पेशाब में परेशानी, सांस लेने में दिक्कत की वजह से लखनऊ स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी हालात में सुधार नहीं हो रहा था उनको वेंटिलेटर पर रखा गया था. अंततः 21 जुलाई को 85 वर्ष की आयु में उन्होंने इस दुनिया में अंतिम साँस ली. उनके देहांत की खबर उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और उनके बेटे आशुतोष टंडन ने ट्विटर के माध्यम से दी थी.

ashutosh-tandon-tweet

लालजी टंडन के व्यक्तिगत जीवन के बारे में
 
लालजी टंडन का जन्म लखनऊ के चौक गाँव में, शिवनारायण टंडन और अन्नपूर्णा देवी के घर हुआ था. उन्होंने कालीचरण डिग्री कॉलेज से स्नातक किया था. उनकी शादी 26 फरवरी 1958 को कृष्णा टंडन से हुई थी. उनके आशुतोष टंडन सहित 3 बेटे हैं. वर्तमान में आशुतोष उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री हैं.

लालजी टंडन का राजनीतिक करियर:-

1. लालजी टंडन दो बार (1978-84 तक) उत्तर प्रदेश विधान परिषद (विधान परिषद) के सदस्य रहे और 1990-96 तक परिषद के सदन के नेता बने रहे.

2. वे 1996 से लेकर 2009 तक उत्तर प्रदेश विधान सभा के लिए भी चुने गए और 2003–07 के बीच विधान सभा में विपक्ष के नेता भी रहे थे.

3. लालजी टंडन, सुश्री मायावती (बसपा-भाजपा गठबंधन) के शासनकाल में उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में शहरी विकास मंत्री भी रहे थे. हालाँकि इसके पहले भी वे कल्याण सिंह मंत्रिमंडल में मंत्री रह चुके थे.

4. मई 2009 में, वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की रीता बहुगुणा जोशी को 40,000 वोटों के अंतर से हराकर लखनऊ से 15वीं लोकसभा के लिए चुने गए थे. यह सीट 1991 के पूर्व भाजपा अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी के पास लगातार चार बार से थी.

5. 20 जुलाई 2019 को टंडन को आनंदीबेन पटेल की जगह मध्य प्रदेश के 22 वें राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया था और अब उनके देहांत के बाद आनंदीबेन पटेल को मध्य प्रदेश के राज्यपाल का कार्यभार फिर सौंपा गया है.

लंबी बीमारी से जूझने के बाद लखनऊ के मेदांता अस्पताल में 85 वर्ष के श्री लालजी टंडन का 21 जुलाई 2020 को निधन हो गया है.

लालू प्रसाद यादव:जीवनी,जन्मदिन, करियर, एजुकेशन और राजनीति

मायावती:जीवनी,जन्मदिन, करियर, एजुकेशन और राजनीति

 

Comment (0)

Post Comment

8 + 4 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.