बॉलीवुड की बेस्ट कोरियोग्रफार सरोज खान:जीवनी, करियर और अवार्ड्स

कई अभिनेत्रियों को डांस की कला में पारंगत बनाने वाली कोरियोग्राफर सरोज खान का असली नाम निर्मला नागपाल था. इनका जन्म 22 नवंबर 1948 को मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ था.इनका निधन 3 जुलाई 2020 (आयु 71 वर्ष) को दिल का दौरा पड़ने से हो गया है.
Jul 3, 2020 10:56 IST
Choreographer Saroj Khan
Choreographer Saroj Khan

सरोज खान के बारे में व्यक्तिगत जानकारी 

जन्मतिथि: 22 नवंबर 1948
जनस्थान:मुंबई, महाराष्ट्र
ओरिजिनल नाम:निर्मला नागपाल
पति:सोहनलाल
राष्ट्रीयता: भारतीय
व्यवसाय: कोरियोग्राफर
बच्चे: 3
निधन: 3 जुलाई 2020 (आयु 71 वर्ष)
मौत का कारण: कार्डिएक अरेस्ट
करियर: 1958-2020

शुरूआती करियर:-

सरोज खान के पिता और माता विभाजन के समय भारत आये थे और सरोज खान का जन्म मुंबई में हुआ था. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत तीन साल की उम्र में बाल कलाकार के रूप में फ़िल्म नज़राना से बाल श्यामा के रूप में की थी. चालीस से अधिक वर्षों के कैरियर की अवधि के साथ, उन्होंने 2000 से अधिक गीतों को कोरियोग्राफ किया और इसे भारत में "द मदर ऑफ डांस / कोरियोग्राफी" के रूप में जाना जाता है.बतौर कोरियोग्राफार उनकी आखिरी फिल्म "कलंक" थी. सरोज ने अपने डांस टीचर सोहनलाल से ही शादी की थी.

कोरियोग्राफर के रूप में सफलता-

स्वतंत्र कोरियोग्राफर के तौर पर उनकी पहली फिल्म "गीता मेरा नाम" (1974) थी. हालांकि, उन्हें प्रसिद्धि पाने के लिए कई वर्षों तक इंतजार करना पड़ा. उनके करियर में उछाल आया श्री देवी की फिल्म मिस्टर इंडिया में "हवा हवाई" (1987), नगीना (1986) और चांदनी (1989). माधुरी दीक्षित के साथ, तेजाब (1988), इसके बाद फिल्म "बेटा" के गाने धक् धक् करने करने लगा से उनका कारीर एकदम ऊपर गया. इस समय तक उनका नाम भारत की बेस्ट और सबसे सफल कोरियोग्राफर के तौर पर उभर चुका था.

ek-do-teen

सरोज खान को मिले अवार्ड्स:-

एक कोरियोग्राफर के तौर पर उनको सबसे अधिक तीन बार नेशनल फिल्म अवार्ड दिया गया है. इन फिल्मों के नाम हैं

1. देवदास (2003) फिल्म के डोला रे डोला गनै के लिए 

2. श्रंगाराम (2006):सभी गानों के लिए 

3. जब वी मेट (2008):ये इश्क हाय जन्नत दिखाए 

फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी पुरस्कार

सरोज खान फिल्मफेयर बेस्ट कोरियोग्राफी अवार्ड की पहली प्राप्तकर्ता थीं. फिल्मफेयर ने तेजाब फिल्म के गाने "एक दो तीन" के लिए उत्कृष्ट कोरियोग्राफी और दर्शकों की प्रतिक्रिया देखने के बाद इस पुरस्कार की स्थापना की थी. सरोज खान ने 1989 से 1991 तक लगातार 3 साल तक फिल्मफेयर अवार्ड जीतने के बाद हैट्रिक की थी. उन्होंने सबसे ज्यादा 8  फिल्मफेयर बेस्ट कोरियोग्राफर अवार्ड जीतने का रिकॉर्ड भी बनाया हैं. इनके नाम हैं;

2008 - गुरु
2003 - देवदास
2000 - हम दिल दे चुके सनम
1994 - खलनायक
1993 - बेटा  
1991 - हमको आज कल है इंतेज़ार"  सैलाब फिल्म के गाने के लिए
1990 - चालबाज 
1989 - तेज़ाब

इन फिल्मों में सरोज खान के कोरियोग्राफी की थी:
1. कलंक (2019)
2. मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ़ झाँसी (2019)
3. तनु वेड्स मनु रिटर्न्स (2015)
4. गुलाब गेंग (2014)
5. दिल्ली -6 (2009)
6. जब वी मेट (2007) (सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार)
7. नमस्ते लंदन (2007)
8. गुरु (2007) (सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी के लिए फिल्मफेयर अवार्ड जीता)
9. सांवरिया (2007)
10. डॉन - द चेज़ बिगिन्स अगेन (2006)
11. फना (2006)
12. मंगल पांडे: द राइजिंग (2005)
13. श्रृंगाराम (2005) (तमिल) ने सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता था 
14. वीर-ज़ारा (2004)
15. स्वदेस (2004)
16. कुछ ना कहो (2004)
17. साथिया (2002)
18. देवदास (2002) ने सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी और राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीता
19. लगान: वन्स अपॉन ए टाइम इन इंडिया (2001) सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी के लिए फिल्मफेयर अवार्ड जीता
20. फ़िज़ा (2000)
21. ताल (1999)
22. हम दिल दे चुके सनम (1999) को सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी और अमेरिकी कोरियोग्राफी पुरस्कार के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीता
23. सोल्जर (1998)
24. चूड़लानी वुंडी (1998)
25. और प्यार हो गया (1997)
26. परदेस (1997)
27. दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995)
28. याराना (1995)
29. मोहरा (1994)
30. अंजाम (1994)
31. बाज़ीगर (1993)
32. आइना (1993)
33. डर (1993)
34. बेटा (1992)
35. आवारगी (1990)
36. सैलाब (1990)
37. चांदनी (1989)
38. निगाहें: नगीना भाग II (1989)
39. तेजाब (1988)
40. मिस्टर इंडिया (1987)
41. नगीना (1986)
42. हीरो (1983)

टेलीविज़न पर सरोज खान

सरोज खान 2005 में नच बलिए में जज के रूप में एक रियलिटी डांस शो में दिखाई दीं थीं.वह हाल ही में "उस्तादों के उस्ताद" शो के लिए जज बनी हैं, जो सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन (इंडिया) पर प्रसारित होता है. वह "तारक मेहता का उल्टा चश्मा" में एक नृत्य प्रतियोगिता में जज के रूप में दिखाई दीं थीं.

सरोज खान का देहांत:

बॉलीवुड की इस मशहूर कोरियोग्राफर का 3 जुलाई 2020 को मुम्बई में दिल का दौरा इ से  निधन हो गया है जो कि पूरी बॉलीवुड इंडस्ट्री के लिए एक अपूर्णीय क्षति है. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे.

मिताली राज: जीवनी, क्रिकेट रिकॉर्ड, हॉबी और पुरस्कार

जानें भारत की पहली शिक्षिका सावित्री बाई फुले की जीवनी