Search

विश्व क्रिकेट में पहली बार चिप वाले स्मार्ट बैट की शुरूआत

“स्मार्ट बैट”का इस्तेमाल क्रिकेट की दुनिया में एक नया प्रयोग है. इस बैट में एक डिवाइस बैट के शिरे पर लगी होगी जो कि इसके दिमाग की तरह काम करेगा. इस डिवाइस में बैट को घुमाने की स्पीड, कोण, और शॉट की एफिशिएंसी जैसी सूचनाएँ इकठ्ठा हो जाएँगी. इस बैट की चिप को StanceBeam APP से जोड़कर पूरी इनफार्मेशन मोबाइल फ़ोन भी एक्सेस की जा सकती है.
Dec 12, 2019 11:08 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Smart Bat with Chip
Smart Bat with Chip

क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था आईसीसी द्वारा समय-समय पर खेल की बेहतरी के लिए नए-नए तकनीकों का सहारा लिया जाता है. इन नए-नए तकनीकों की मदद द्वारा क्रिकेट के खेल को पारदर्शी एवं दर्शकों की रूचि के हिसाब से मनोरंजक बनाने का प्रयास किया जाता रहा है.

 आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता 2017 में बल्लेबाजों द्वारा चिप लगे हुए “स्मार्ट बैट” का इस्तेमाल किया गया था. इस लेख में हम आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी में इस्तेमाल होने वाले स्मार्ट बैट के अलावा अन्य तकनीकों का विस्तृत विवरण दे रहे हैं.

स्मार्ट बैट की विशेषता

 smart cricket bat with chip
Image source: XtraTime

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 में इस्तेमाल होने वाले स्मार्ट बैट के हैंडल के ऊपरी हिस्से में चिप लगे रहेंगे. इस चिप के माध्यम से बल्लेबाजों के बैट के कोण (bat angles) और बैकलिफ्ट (back lift) से संबंधित आंकड़े प्राप्त होंगे. यह चिप बल्लेबाजों के प्रदर्शन को रिकॉर्ड कर उनका विश्लेषण कर सकता है. इस चिप द्वारा प्राप्त चित्रों को विश्लेषण के लिए कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के माध्यम से डाउनलोड किया जा सकता है.

आईसीसी के पूर्व सीईओ डेव रिचर्डसन के अनुसार “यह चिप बल्लेबाजी करते समय बल्ले की गति, कोण, बैक लिफ्ट, बैट की दिशा से संबंधित जानकारी प्रदान करेगा, जिससे बल्लेबाजों को यह जानने में मदद मिलेगी कि बल्लेबाजी करते समय वह स्ट्रेट लाइन में खेल रहा है या अक्रॉस द लाइन खेल रहा है”.

जानें भारतीय क्रिकेटरों को कितनी सैलरी मिलती है?

डेव रिचर्डसन ने यह भी बताया कि इस तकनीक का उपयोग गोल्फ और बेसबॉल जैसे खेलों में पहले से ही हो रहा है, लेकिन क्रिकेट के खेल में इसका इस्तेमाल पहली बार किया जाएगा. प्रशंसकों के दृष्टिकोण से, यह तकनीक काफी रोमांचकारी है, क्योंकि इससे उन्हें बल्लेबाजों के बल्ले की गति से संबंधित रोचक विवरण प्राप्त होंगे.

अक्सर कमेंटेटर इस बात का उल्लेख करते हैं कि वर्तमान समय में “एबी डिविलियर्स” के बल्ले की गति सबसे अधिक है, लेकिन इस तकनीक के माध्यम से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर प्रशंसक स्वतः ही विभिन्न बल्लेबाजों के बल्ले की गति की तुलना कर सकते हैं.

चिप बनाने वाली कंपनी  

 intel
Image source: YouTube

इस चिप का निर्माण “इंटेल” द्वारा किया गया है. इस वर्ष अप्रैल महीने में आईसीसी ने चैम्पियंस ट्रॉफी के लिए इंटेल को अपना “इनोवेशन पार्टनर” बनाया गया है, जिसके कारण आईसीसी को इस चिप के इस्तेमाल का अधिकार प्राप्त हुआ है. “इंटेल” द्वारा घोषणा की गई है कि इस साल के अंत तक यह चिप बाजार में उपलब्ध हो जाएगा, जिसके बाद नए एवं उभरते हुए क्रिकेटर अपनी बल्लेबाजी में सुधार के लिए इस चिप का इस्तेमाल कर सकते हैं.

चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान कितने बल्लेबाज इस चिप का इस्तेमाल करेंगे

 chip in rohit bat
Image source: YouTube

आईसीसी द्वारा घोषणा की गई है कि आगामी चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान प्रत्येक आठ टीम के अधिकतम तीन खिलाड़ियों द्वारा इस चिप का इस्तेमाल किया जाएगा. ऐसी संभावना है कि भारत के तीन खिलाड़ी “रोहित शर्मा”, “आजिंक्य रहाणे” और “रविचन्द्रन अश्विन” इस चिप का इस्तेमाल करेंगे.

“स्मार्ट बैट” की कीमत 2 हजार से लेकर 10 हजार तक है. इनको ऑनलाइन भी खरीदा जा सकता है.

चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान इस्तेमाल होने वाले अन्य तकनीक

स्मार्ट बैट के अलावा चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान हॉक-ऑय (hawk-eye) कैमरे, स्पाई कैमरे के अलावा पहली बार ड्रोन कैमरों का भी इस्तेमाल किया जाएगा. इसके अलावा मैच के दौरान टैबलेट के माध्यम से टीम शीट (Team sheet) पर हस्ताक्षर किए जाएंगे और उसे दूसरी टीम के कप्तान को सौंपा जाएगा. इसके अलावा सभी स्टेडियम पर प्रशंसकों के लिए “एच डी वाई-फाई” (HD wi-fi) की सुविधा भी उपलब्ध होगी. इस टूर्नामेंट के डायरेक्टर स्टीव एल्वर्दी के अनुसार 2017 का चैम्पियंस ट्रॉफी "पहला स्मार्ट क्रिकेट टूर्नामेंट" था.

जानें सचिन तेंदुलकर से जुड़े कुछ रोचक एवं अनजाने तथ्य

स्मार्ट बॉल: माइक्रोचिप वाली क्रिकेट बॉल

Related Categories